पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर छह नई प्रमुख पहाड़ियों पर भारतीय सेना का कब्जा


नई दिल्ली| भारतीय सेना ने पूर्वी लद्दाख सेक्टर में चीनी सेना के साथ चल रहे संघर्ष के दौरान पिछले तीन हफ्तों में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर छह नई प्रमुख पहाड़ियों पर कब्जा कर लिया है.

शीर्ष सरकारी सूत्रों ने न्यूज एजेंस एएनआई को बताया, ‘भारतीय सेना ने 29 अगस्त से सितंबर के दूसरे सप्ताह के बीच छह नई ऊंचाइयों पर कब्जा कर लिया है.

हमारी सैनिकों द्वारा कब्जा की जा रही नई पहाड़ियों में मगर हिल, गुरुंग हिल, रेसेन ला, रेजांग ला, मोखपारी और फिंगर 4 के पास चाइनीज पॉजिशन पर ऊंचाई वाला इलाका है.’

ये इलाके खाली पड़े हुए थे और भारतीय सेना ने चीनी सेना से पहले इन पर कब्जा कर लिया. यहां ऊंचाई पर बैठने से अब हमारी सेना के पास उन क्षेत्रों में दुश्मन पर बढ़त है.

सूत्रों ने कहा कि चीनी सेना द्वारा ऊंचाइयों पर कब्जे की कोशिशों को नाकाम करते हुए पैंगॉन्ग झील के उत्तरी तट से दक्षिणी किनारे तक कम से कम तीन मौकों पर हवा में गोलियां चलाई गईं.

यह भी पढ़ें -  देश में एक अक्टूबर से शुरू होगी 5जी सेवाएं, पीएम मोदी भारतीय मोबाइल कांग्रेस में करेंगे लॉन्च

सूत्रों ने स्पष्ट किया कि ब्लैक टॉप और हेलमेट टॉप पहाड़ी एलएसी के चीनी हिस्से पर हैं, जबकि भारतीय पक्ष द्वारा कब्जा की गई ऊंचाइयां भारतीय क्षेत्र में एलएसी पर हैं.

भारतीय सेना द्वारा ऊंचाइयों पर कब्जे के बाद चीनी सेना ने अपनी संयुक्त हथियारों की ब्रिगेड की लगभग 3,000 अतिरिक्त टुकड़ियों को तैनात किया है.

यह भी पढ़ें -  राशिफल 24-09-2022: शनिवार को क्या कहते है आपके सितारे, जानिए

जिसमें रेजांग ला और रेचेन ला हाइट्स के पास पैदल सेना और बख्तरबंद सैनिक शामिल हैं. चीनी सेना की मोल्दो गैरीसन भी पिछले कुछ हफ्तों में अतिरिक्त सैनिकों के साथ पूरी तरह से सक्रिय हो गई है.

दोनों देशों की सेना पैंगॉन्ग झील के पास चार स्थानों पर राइफल रेंज (चंद कदमों की दूरी) में हैं. चिंता की बात यह है कि कम से कम एक जगह पर दोनों सेनाएं बिल्कुल आमने-सामने हैं.

यह वही जगह है, जहां सैन्य-स्तरीय वार्ता के बाद सैनिक पीछे हटे थे. उत्तरी तट पर सेनाएं फिंगर-3 और फिंगर-4 के बीच एक दूसरे का सामना कर रही हैं, जहां दोनों सेनाओं द्वारा हवा में चेतावनी के तौर पर फायरिंग भी की जा चुकी है.

यह भी पढ़ें -  मिजोरम: असम राइफल्स और स्थानीय पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, 167.86 करोड़ रुपये की ड्रग्स जब्त

वहीं झील के दक्षिणी किनारे पर सेना स्पंगगुर गैप, मुखपारी और रेयांग ला में कुछ मीटर की दूरी पर हैं. चीन ने पहले उत्तेजक सैन्य कदम उठाए, जिसके बाद भारत ने भी इन स्थानों पर अपने सैनिक तैनात कर दिए.

इन दो स्थानों पर दोनों देशों के सैनिकों ने एक-दूसरे को डराने के लिए चेतावनी के तौर पर हवा में फायरिंग भी की.

Related Articles

Advertisement

Advertisement

Stay Connected

58,944FansLike
3,242FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

सीएम धामी के निर्देश पर ताबड़तोड़ कार्रवाई, नैनीताल में 5 रिज़ॉर्ट सील

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी के निर्देशों पर उत्तराखण्ड में विभिन्न गेस्ट हाउस और रिज़ॉर्ट पर प्रशासन की ताबड़तोड़ कार्रवाई शुरू हो गई है. सीएम...

मिजोरम: असम राइफल्स और स्थानीय पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, 167.86 करोड़ रुपये की...

0
मिजोरम में असम राइफल्स और स्थानीय पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. पार्टियों में सप्लाई होने वाले ड्रग्स की एक बड़ी खेप को...

अंकिता मर्डर केस: नालायक बेटे के अपराध ने पिता को एक झटके में ही...

0
उत्तराखंड में पूर्व राज्य मंत्री और भाजपा के कद्दावर नेताओं में शुमार रहे विनोद आर्य को उनके बेटे ने ही जिंदगी भर की मेहनत...

उत्तराखंड में विधानसभा अध्यक्ष ने सीएम से की बड़ी मांग, राजस्व पुलिस व्यवस्था समाप्त...

0
ऋषिकेश में अंकिता भंडारी निर्मम हत्याकांड के बाद उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी भूषण ने प्रदेश में जहाँ कहीं भी राजस्व पुलिस की व्यवस्था...

Ankita Bhandari Murder Case: एम्स ऋषिकेश में हुआ अंकिता भंडारी का पोस्टमार्टम, अस्पताल के...

0
उत्तराखंड में रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी की हत्या के बाद उसके शव का पोस्टमार्टम एम्स ऋषिकेश में हुआ. वहीं एम्स ऋषिकेश के बाहर लोगों की...

देश में एक अक्टूबर से शुरू होगी 5जी सेवाएं, पीएम मोदी भारतीय मोबाइल कांग्रेस...

0
भारत में 5जी सेवाएं आधिकारिक तौर पर 1 अक्टूबर से शुरू होंगी. नेशनल ब्रॉडबैंड मिशन ने शनिवार को ट्वीट कर बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र...

पितृ अमावस्या 2022: 25 सितम्बर पितृ अमावस्या, जानें शुभ मुहूर्त-महत्व

0
25 सितम्बर को पितर आशीर्वाद देकर अपने-अपने धाम को चले जायेंगे, माना जाता है कि इन दिनों पितरों का आह्वान करने से वे हमसे...

अंकिता भंडारी मर्डर केस: मुख्य आरोपी पुलकित आर्य के पिता और भाजपा के नेता...

0
उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी की हत्या के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी एक्शन में है. वहीं अंकिता की हत्या के बाद उत्तराखंड में...

अंकिता भंडारी हत्याकांड: पुलकित के करीबियों पर गिरी गाज, भाई को ओबीसी आयोग से...

0
उत्तराखंड स्थित ऋषिकेश में अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में एक्शन लगातार जारी है. पहले पुलिस ने तुरंत एक्शन लेते हुए जांच के बाद 24...

ऋषिकेश: चीला पावर हाउस के पास मिला अंकिता भडारी का शव, जांच के लिए...

0
ऋषिकेश| एसडीआरएफ की टीम को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. चीला शक्ति नहर में चीला पावर हाउस के पास अंकिता भडारी का शव मिला...
%d bloggers like this: