उत्तराखण्ड के पहाड़ों में होगी कश्मीरी केसर की खेती, युवाओं को मिलेगा रोजगार


देहरादून| जीबी पंत हिमालय पर्यावरण संस्थान ने पहाड़ में केसर उत्पादन का सफल परीक्षण किया है. संस्थान ने 2018 में परीक्षण के रूप में कश्मीर से लाकर केसर की बुआई की थी, जिसका बेहतर उत्पादन देखने को मिला है. संस्थान ने बताया कि केसर के बल्ब पहाड में भी तेजी से बढ़ रहे हैं. इससे किसानों को कई गुना लाभ होने की उम्मीद है.

जीबी पंत हिमालय पर्यावरण संस्थान के निदेशक आर एल रावत ने कहा कि संस्थान ने परीक्षण के तौर पर कश्मीर से केसर मगाया था. कश्मीर में भी संस्थान किसानों के साथ जुड़कर केसर का उत्पादन करवा रहा है. संस्थान का कहना है कि राज्य में लौटे लाखों प्रवासियों के लिए केसर का उत्पादन मुख्य व्यवसाय हो सकता है. इसमें अधिक लाभ किसान को मिलता है और लागत भी कम है. इसका सुझाव पर्वतीय राज्यों को भी दिया जायेगा.

पिछले दो सालों से शोध में लगे संस्थान के वरिष्ठ वैज्ञानिक भी मानते हैं कि राज्य में यह प्रयोग सफल रहा है. अब गांवों में भी केसर का उत्पादन हो सकता है, जिसमें अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है. अभी तक कश्मीर में ही केसर का उत्पादन अधिक होता है.राज्य में लौटे प्रवासियों को सभी संस्थान और राज्य सरकार स्वरोजगार के लिए प्रेरित कर रही है. जो युवा कोरोना के कारण वापस अपने गांवों में लौटे हैं वह गांवों में ही रोजगार करें जिससे पहाड़ के गांव आबाद रहेंगे और लोग गांवों में ही स्वरोजगार करेंगे. अगर पहाड़ के ही सैकड़ों गांवों में केसर की खेती होगी तो युवाओं को अच्छा मुनाफा हो सकता है.

अल्मोड़ा जिले में ही 50 हजार से अधिक प्रवासी कोरोना संक्रमण में अपने घरों को लौटे हैं. अन्य पहाड़ी जिलों का भी हाल कुछ ऐसा ही है, जहा हजारों की संख्या में प्रवासी अपने घरों में बेरोजगार बैठे हैं. कुछ रोजगार के लिए मनरेगा जैसी योजनाओं में काम कर रहे हैं.

Related Articles

विज्ञापन

Latest Articles

फ्रांस में गर्भपात को संवैधानिक अधिकार बनाने वाले विधेयक को मिली मंजूरी, ऐसा करने...

0
फ्रांस की सरकार ने ऐतिहासिक कदम उठाते हुए देश में गर्भपात को महिलाओं का संवैधानिक अधिकार बनाने को हरी झंडी दे दी है. फ्रांस...

राशिफल 05-03-2024: आज बजरंग बली की कृपा से इन राशियों का होगा कल्याण

0
मेष-: यह अपने टैलेंट, नई खोज करने और अपनी क्षमता का प्रदर्शन करने का समय है. अपने आप पर भरोसा रखें. यह समय आपको...

05 मार्च 2024 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 05 मार्च 2024 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

देहरादून से अयोध्या अमृतसर और वाराणसी के लिए हवाई सेवा, 6 मार्च को होगा...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी का प्रयास रंग लाया है. देहरादून से देश के तीन प्रमुख शहरों अयोध्या, अमृतसर और वाराणसी के लिए सीधी हवाई...

हरिद्वार: लक्सर में आयोजित लाभार्थी सम्मेलन में सीएम धामी ने किया 68.82 करोड़ की...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को जनपद हरिद्वार के लक्सर में आयोजित लाभार्थी सम्मेलन के अवसर पर 68.82 करोड़ की विभिन्न योजनाओं का...

लोकसभा चुनाव से पहले गुजरात में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका! अर्जुन मोढवाडिया ने...

0
अहमदाबाद| कांग्रेस को लोकसभा चुनाव से पहले गुजरात में फिर बड़ा झटका लगा है. पोरबंदर से विधायक अर्जुन मोढवाडिया ने पार्टी से इस्तीफा दे...

आईपीएल 2024 से पहले सनराइजर्स हैदराबाद ने किया बड़ा बदलाव! पैट कमिंस नए कप्तान

0
आईपीएल 2024 से पहले सनराइजर्स हैदराबाद ने बड़ा बदलाव करते हुए पैट कमिंस को नया कप्तान बना दिया है. फ्रेंचाइज़ी ने पिछले सीज़न यानी...

औली में तीन फीट जमी बर्फ, चारों ओर जन्नत सा नजारा

0
औली की वादियां बर्फबारी के बाद अब सोने जैसी चमक रही हैं। यहां का मौसम खुशनुमा हो गया है और अभी तक तीन फीट...

इसरो प्रमुख एस सोमनाथ कैंसर से पीड़ित, आदित्य-एल1 की लॉन्चिंग के दिन चला पता,...

0
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के प्रमुख एस सोमनाथ कैंसर से पीड़ित हैं. उन्हें इस बात की जानकारी आदित्य-एल1 की लॉन्चिंग के वक्त हुई....

अब उत्तराखंड में भी संपत्ति के नुकसान पर होगी वसूली

0
उत्तराखंड की पुष्कर सिंह धामी सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए सरकारी और निजी संपत्ति क्षति वसूली एक्ट को मंजूरी दे दी. सोमवार को...