आपके स्‍मार्टफोन में मौजूद चीनी ऐप्‍स पर ऐसे लागू होगा बैन, जानिए इससे जुड़ी जरूरी बातें


नई दिल्‍ली|… बुधवार को केंद्र सरकार ने भारत की रक्षा, ​सुरक्षा, संप्रभुता और अखंडता को जोखिम का हवाला देते हुए चीन के 118 ऐप्‍स को बैन कर दिया है. इनमें पबजी , राइज ऑफ किंगडम , डैंक टैंक समेत कुछ गेमिंग ऐप्‍स भारत में काफी पॉपुलर हैं. इसके अलावा मोबाइल को हैंग होने से बचाने के लिए इस्‍तेमाल किया जाने वाला क्‍लीनर-फोन बूस्‍टर ऐप पर भी रोक लगा दी गई है. आइए जानते हैं कि चीनी ऐप्स के प्रतिबंध को कैसे लागू किया जाएगा.

चीन के प्रतिबंधित ऐप्‍स को ब्लॉक करने के लिए इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स (ISP) को निर्देश दिए जाएंगे, जिसके लिए जल्द उन्हें नोटिफिकेशन भेजा जाएगा. यूजर्स को जल्द ही एक मैसेज देखने को मिल सकता है, जिसमें कहा जाएगा कि सरकार के अनुरोध पर ऐप्स के एक्सेस पर बैन लगा दिया गया है.

यह भी पढ़ें -  एकनाथ शिंदे सिर्फ मोहरा, उद्धव ठाकरे ने लिखी महाराष्ट्र बगावत की स्क्रिप्ट: एनसीपी सूत्र

वहीं, ऐप्‍स को क्लिक करने पर नेटवर्क एरर जैसे मैसेज दिखाई देने लगेंगे. प्रतिबंध पबजी और राइज ऑफ किंगडम समेत लाइव फीड की जरूरत वाले ऐप्‍स को प्रभावित करेगा. यूजर्स अभी भी उन ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं, जिन्हें इस्‍तेमाल करने के लिए एक्टिव इंटरनेट कनेक्शन की जरूरत नहीं पड़ती है. आने वाले समय में ऐप के डाउनलोड नंबर को गूगल प्ले स्टोर और ऐपल स्टोर से हटा दिया जाएगा.

केंद्रीय सूचना व प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने बताया कि इंफॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी एक्‍ट (IT Act) की धारा-69A और इंफॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी (प्रोसीजर एंड सेफगार्ड्स फॉर ब्‍लॉकिंग ऑफ एक्‍सेस ऑफ इंफॉर्मेशन बाई पब्लिक) रूल्‍स, 2009 के संबंधित प्रावधान विदेशी ऐप्‍स पर प्रतिबंध लगाने की शक्तियां प्रदान करता है. केंद्र की ओर से कहा गया है कि इन ऐप्स के खिलाफ यूजर्स के डाटा के गलत इस्‍तेमाल और ऐप्‍स के दुरुपयोग की लगातार शिकायतें मिल रही थीं.

यह भी पढ़ें -  UP: सीएम योगी को बम से उड़ाने की धमकी देने वाला आरोपी हुआ गिरफ्तार

इन ऐप्‍स से देश की रक्षा, ​सुरक्षा, संप्रभुता और अखंडता के लिए खतरा था. केंद्र ने कहा कि इन ऐप्स का मोबाइल और नॉन-मोबाइल बेस्ड इंटरनेट डिवाइसेज में भी इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा.


सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा कि उसे कई सोर्सेज से मिली शिकायतों में एंड्रॉयड और आईओएस प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कुछ मोबाइल ऐप के दुरुपयोग की रिपोर्ट शामिल हैं. इनमें कहा गया है कि ये ऐप यूजर्स का डाटा चुराकर भारत के बाहर मौजूद सर्वर को अनधिकृत तरीके से भेजते हैं.

यह भी पढ़ें -  'अब मुंबई लौटकर दिखाओ'- बागी विधायकों पर आक्रामक हुए संजय राउत

भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति शत्रुता रखने वाले तत्वों की ओर से इन आंकड़ों को इकट्ठा करना, इनकी जांच-पड़ताल व प्रोफाइलिंग भारत की संप्रभुता और अखंडता के लिए खतरा है.

इसे रोकने के लिए आपातकालीन उपायों की जरूरत थी. केंद्र सरकार की ओर से की गई प्रतिबंध की कार्रवाई अधिक व्यापक है. यह भारत में बड़े चीनी व्यवसायों और खुद चीन के लिए चेतावनी है.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,237FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

शिवसैनिको का तांडव, पुणे में बागी विधायक तानाजी सावंत के दफ्तर में तोड़फोड़-देखें वीडियो

0
शिवसेना की आपसी लड़ाई में किसे कामयाबी मिलेगी और किसे होगे नुकसान यह तो भविष्य ही बताएगा. लेकिन महाराष्ट्र के अलग अलग शहरों में...

महाराष्ट्र सियासी संकट: शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे ने उद्धव ठाकरे को...

0
मुंबई| शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे ने दावा किया है कि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी सरकार ने शिवसेना के...

गुजरात दंगों पर अमित शाह, ‘मैंने मोदी जी को नजदीक से इस दर्द को...

0
शनिवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने साल 2002 में हुए गुजरात दंगों को लेकर समाचार एजेंसी एएनआई को विस्तृत इंटरव्यू दिया और...

CBSE Result 2022: कब तक आयेंगे 10वीं-12वीं के परिणाम? छात्र कर रहे ये मांग

0
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी की सीबीएसई ने कक्षा दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षाएं पूरी कर ली. अब छात्रों को परीक्षा के परिणाम...

Covid19: देश में कोरोना का खतरा बरकरार, एक दिन में मिले 15,940 नए मामले-एक्टिव...

0
देश में कोरोना का खतरा बरकरार है. पिछले 24 घंटे के अंदर 15,940 नए मामले सामने आए और 20 लोगों की मौत दर्ज की...

प्रशासनिक फेरबदल: योगी सरकार ने प्रदेश के 15 आईपीएस अफसरों के किए ट्रांसफर, देखें...

0
यूपी में प्रशासनिक फेरबदल जारी है. कानून व्यवस्था को मजबूत करने के लिए मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ सरकार ने 15 आईपीएस अध‍िकार‍ियों का तबादला कर...

केजरीवाल सरकार के इस फैसले से दिल्ली के व्यापारी और ट्रांसपोर्टर्स नाखुश, जानिए क्या...

0
दिल्ली सरकार ने राजधानी दिल्ली में मध्यम और भारी माल वाहनों के प्रवेश पर रोक लगाने का फैसला लिया है. दिल्ली सरकार के फैसले...

नॉर्वे की राजधानी ओस्लो में फायरिंग, दो की मौत-कई घायल

0
ओस्लो|...... नॉर्वे की राजधानी ओस्लो में फायरिंग की खबर सामने आई है. इस फायरिंग में अब तक दो लोगों की मौत हो चुकी है....

पाक का एक और झूठ उजागर! 26/11 हमले के मास्टरमाइंड साजिद मीर को सुनाई...

0
इस्लामाबाद|.... भारत के मोस्ट वॉन्टेड आतंकियों में से एक और 26/11 मुंबई हमलों में मुख्य हैंडलर साजिद मजीद मीर को पाकिस्तान की अदालत...

अब WhatsApp नही गूगल से ऐसे शेयर करें अपनी Live लोकेशन, यहाँ देखे स्टेप्स

0
इन्टरनेट के कारण बहुत सी चीज़े आसान हो गयी है. इन्टरनेट पर बहुत सी काम की चीज़े उपलब्ध हैं. ऐसा ही एक है लाइव...
%d bloggers like this: