आपके स्‍मार्टफोन में मौजूद चीनी ऐप्‍स पर ऐसे लागू होगा बैन, जानिए इससे जुड़ी जरूरी बातें


नई दिल्‍ली|… बुधवार को केंद्र सरकार ने भारत की रक्षा, ​सुरक्षा, संप्रभुता और अखंडता को जोखिम का हवाला देते हुए चीन के 118 ऐप्‍स को बैन कर दिया है. इनमें पबजी , राइज ऑफ किंगडम , डैंक टैंक समेत कुछ गेमिंग ऐप्‍स भारत में काफी पॉपुलर हैं. इसके अलावा मोबाइल को हैंग होने से बचाने के लिए इस्‍तेमाल किया जाने वाला क्‍लीनर-फोन बूस्‍टर ऐप पर भी रोक लगा दी गई है. आइए जानते हैं कि चीनी ऐप्स के प्रतिबंध को कैसे लागू किया जाएगा.

चीन के प्रतिबंधित ऐप्‍स को ब्लॉक करने के लिए इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स (ISP) को निर्देश दिए जाएंगे, जिसके लिए जल्द उन्हें नोटिफिकेशन भेजा जाएगा. यूजर्स को जल्द ही एक मैसेज देखने को मिल सकता है, जिसमें कहा जाएगा कि सरकार के अनुरोध पर ऐप्स के एक्सेस पर बैन लगा दिया गया है.

यह भी पढ़ें -  भारतीय सेना को मिलेंगे प्रशिक्षित चील, दुश्मन के ड्रोन को पलभर में पकड़कर कर देंगे तबाह

वहीं, ऐप्‍स को क्लिक करने पर नेटवर्क एरर जैसे मैसेज दिखाई देने लगेंगे. प्रतिबंध पबजी और राइज ऑफ किंगडम समेत लाइव फीड की जरूरत वाले ऐप्‍स को प्रभावित करेगा. यूजर्स अभी भी उन ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं, जिन्हें इस्‍तेमाल करने के लिए एक्टिव इंटरनेट कनेक्शन की जरूरत नहीं पड़ती है. आने वाले समय में ऐप के डाउनलोड नंबर को गूगल प्ले स्टोर और ऐपल स्टोर से हटा दिया जाएगा.

केंद्रीय सूचना व प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने बताया कि इंफॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी एक्‍ट (IT Act) की धारा-69A और इंफॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी (प्रोसीजर एंड सेफगार्ड्स फॉर ब्‍लॉकिंग ऑफ एक्‍सेस ऑफ इंफॉर्मेशन बाई पब्लिक) रूल्‍स, 2009 के संबंधित प्रावधान विदेशी ऐप्‍स पर प्रतिबंध लगाने की शक्तियां प्रदान करता है. केंद्र की ओर से कहा गया है कि इन ऐप्स के खिलाफ यूजर्स के डाटा के गलत इस्‍तेमाल और ऐप्‍स के दुरुपयोग की लगातार शिकायतें मिल रही थीं.

यह भी पढ़ें -  गुजरात चुनाव से पहले केजरीवाल को बड़ा झटका, आप उम्मीदवार बीजेपी में शामिल

इन ऐप्‍स से देश की रक्षा, ​सुरक्षा, संप्रभुता और अखंडता के लिए खतरा था. केंद्र ने कहा कि इन ऐप्स का मोबाइल और नॉन-मोबाइल बेस्ड इंटरनेट डिवाइसेज में भी इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा.


सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा कि उसे कई सोर्सेज से मिली शिकायतों में एंड्रॉयड और आईओएस प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कुछ मोबाइल ऐप के दुरुपयोग की रिपोर्ट शामिल हैं. इनमें कहा गया है कि ये ऐप यूजर्स का डाटा चुराकर भारत के बाहर मौजूद सर्वर को अनधिकृत तरीके से भेजते हैं.

यह भी पढ़ें -  बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा रही 'भेड़िया', रिलीज के तीसरे दिन कमाए इतने करोड़!

भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति शत्रुता रखने वाले तत्वों की ओर से इन आंकड़ों को इकट्ठा करना, इनकी जांच-पड़ताल व प्रोफाइलिंग भारत की संप्रभुता और अखंडता के लिए खतरा है.

इसे रोकने के लिए आपातकालीन उपायों की जरूरत थी. केंद्र सरकार की ओर से की गई प्रतिबंध की कार्रवाई अधिक व्यापक है. यह भारत में बड़े चीनी व्यवसायों और खुद चीन के लिए चेतावनी है.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,249FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

सच्चे और अच्छे मन से लोगों की सेवा से बड़ी कोई सेवा नहीं होती:...

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को राजपुर रोड़ देहरादून स्थित होटल में देहरादून ऑब्सेटेट्रिक्स एवं गाईन सोसाइटी द्वारा आयोजित ’नारी स्वास्थ्य जन आंदोलन...

एयर इंडिया और विस्तार के विलय पर बनी सहमति, मार्च 2024 तक पूरी हो...

0
विमानन क्षेत्र में बड़े स्तर पर एकीकरण की तैयारी है. इसके तहत विस्तार का एयर इंडिया के साथ विलय होगा. सौदे के बाद सिंगापुर...

बिहार: पटना में एक हैरान कर देने वाली घटना, चोर चुरा ले गए 20...

0
बिहार की राजधानी पटना से एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है. यहां चोरों ने एक घर में लगे मोबाइल टावर को...

हरियाणा में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने किया ‘अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव’ का उद्घाटन

0
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु आज हरियाणा दौरे पर कुरूक्षेत्र पहुंची। जहां राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय और सीएम मनोहर लाल द्वारा उनका स्वागत किया गया। बता दे...

अमेजन ने भारतीय को दिया बड़ा झटका! दस हजार से ज्यादा कर्मचारियों को निकालने...

0
दुनियाभर की सबसे मशहूर ई-कॉमर्स वेबसाइट अमेजन ने भी ट्विटर और फेसबुक की तरह अपने कर्मचारियों की छंटनी कर दी है. कंपनी की ओर...

हिंदू एकता मंच के कार्यक्रम में हंगामा, श्रद्धा की हत्या के खिलाफ आयोजित सभा...

0
हाल ही में दिल्ली में हुए श्रद्धा हत्या काण्ड को लेकर दिल्ली और देश की जनता काफ़ी भड़की हुई है। इसी के चलते दिल्ली...

NEET UG Counselling 2022: आज से शुरू होगा मॉप-अप राउंड च्‍वॉइस फिलिंग, यहां करें...

0
आज 29 नवंबर को मेडिकल काउंसलिंग कमेटी (MCC) द्वारा नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट अंडरग्रेजुएट (NEET UG) काउंसलिंग के मॉप-अप राउंड के लिए च्‍वॉइस-फिलिंग...

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने रावण से की पीएम मोदी की तुलना, बीजेपी हुई...

0
बीजेपी पर अटैक करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा कि बीजेपी नगरपालिका...

समय पर मैक्रोनी तैयार न होने पर महिला ने किया फूड कंपनी पर 40...

0
फ्लोरिडा की रहने वाली अमांडा रमीरेज ने क्राफ्ट हेंज (Kraft Heinz) नाम की फूड कंपनी पर 40 करोड़ रुपये से अधिक का मुकदमा दर्ज...

अंकिता भंडारी हत्याकांड: तीनों आरोपियों का करवाया जा सकता है नार्कों टेस्ट

0
देहरादून| उत्तराखंड के बहुचर्चित अंकिता भंडारी हत्याकांड के आरोपियों का नार्कों टेस्ट करवाया जा सकता है. यह बात सूबे के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर...
%d bloggers like this: