यूपी चुनाव 2022: चंद्रशेखर-ओवैसी बनेंगे ‘वोट कटवा’, जानें किन पार्टी को लग सकता है झटका

यूपी में पहले चरण की 58 सीटों पर वोटिंग जारी है. पश्चिमी यूपी की 11 जिलों में हो रहे मतदान में दो राजनीतिक दलों पर सबकी नजर है. ये दल भले ही सत्ता की रेस में नहीं हैं, लेकिन भाजपा और सपा गठबंधन का खेल जरूर बिगाड़ सकते हैं.

पहला दल असदुद्दीन ओवैसी का ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन है तो दूसरा दल चंद्रशेखर आजाद की आजाद समाज पार्टी है. इन दोनों दलों में वोट कटवा बनने का दम है. अगर ओवैसी मुस्लिम वोटों को अपनी ओर खींच लेते हैं और चंद्रशेखर दलित वोटों को अपनी ओर खीचतें हैं तो निश्चित तौर पर पश्चिमी यूपी का राजनीतिक समीकरण बिगाड़ सकते हैं.

कौन कितनी सीटों पर लड़ रहा है चुनाव
एआईएमआईएम ने पहले चरण की 58 सीटों में से 10 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं. पार्टी इसके तहत शामली, मीरापुर, सिवालखास, सरधना,मेरठ कैंट, धौलाना, गढ़मुक्तेश्वर, मोदीनगर, बरौली, सिकंदराबाद से चुनाव लड़ रही है. एआईएमआईएम ने जिस तरह से बिहार में पांच सीटें जीती थीं, और राजद का खेल बिगाड़ा था वैसा ही इन 10 सीटों पर भी हो सकता है. इसकी सबसे बड़ी वजह है एआईएमआईएम जिन 10 सीटों पर चुनाव लड़ रही है. वहां पर मुस्लिम वोटर बेहद असर डालते हैं.

इसी तरह आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद के अनुसार उनकी पार्टी 40 छोटे-छोटे दलों के साथ मिलकर सभी सीटों पर चुनाव लड़ रही है. इन सीटों पर जातिगत समीकरण को ध्यान रखकर मोर्चा बनाया गया है. इसमें अति पिछड़ी जातियां, अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक समुदाय, सिख, बुद्ध, जैन, किसान, कुशवाहा, पाल, प्रजापति, मौर्य, धनखड़, धानुख, कटेरिया, चौहान, निषाद, कश्यप समाज के लोग शामिल हैं. आजाद समाज पार्टी पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ (उप-चुनाव छोड़कर) रही है. लेकिन जिला पंचायत चुनाव में कई उम्मीदवारों के जीतने से पार्टी के लिए वोट जुटाना आसान हो सकता है.

मुस्लिम और दलित वोटर
पश्चिमी यूपी में मुस्लिम आबादी करीब 30 फीसदी है. कैराना, छपरौली, बागपत,सिवालखास, किठौर, मेरठ, मेरठ दक्षिण, मेरठ कैंट, लोनी, धौलाना, गढ़मुक्तेश्वर, कोल, अलीगढ़, मीरापुर,शिकारपुर, सहारनपुर देहात, बेहट, मुजफ्फरनगर सदर से मुस्लिम उम्मीदवार खड़े हैं. जहां पर एक से ज्यादा मुस्लिम उम्मीदवार मैदान में हैं. जिसकी वजह से भी मुस्लिम वोटों के बंटने की संभावना है. अगर मुस्लिम वोट बंटता है तो निश्चित तौर पर सपा-आरएलडी गठबंधन को नुकसान उठाना पड़ सकता है.

इसी तरह पश्चिमी उत्तर प्रदेश में करीब 25 फीसदी दलित आबादी है. और उसमें भी 75-80 फीसदी जाटव आबादी है. जो कि बसपा का बड़ा समर्थक रहा है. ऐसे में अगर चंद्रशेखर आजाद इस तबके में सेंध लगा पाते हैं तो मायावती को बड़ा नुकसान हो सकता है.

इनका बिगड़ेगा खेल
इन समीकरणों को देखते हुए अगर ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम और चंद्रशेखर की पार्टी आजाद समाज पार्टी को वोटरों का साथ मिलता है, तो सबसे ज्यादा सपा-आरएलडी गठबंधन को हो सकता है. जो इस बार जाट, मुस्लिम एकता के नाम पर चुनाव लड़ रहा है. वहीं उसके बाद बसपा को अपने परंपरागत वोट से झटका लग सकता है. हालांकि इसका पता 10 मार्च को रिजल्ट आने पर ही पता चल सकेगा कि ये दोनों दल वोटकटवा साबित हुए या फिर जनता ने अभी इंतजार करने का सबक दिया है.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,229FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

भाजपा का आखिरी समय तक सस्पेंस: सीएम न बनाए जाने पर नाराज हुए फडणवीस...

0
महाराष्ट्र में 10 दिनों से जारी सियासी संकट का आखिरकार गुरुवार शाम 7:30 बजे पटाक्षेप हो गया. मुंबई स्थित राजभवन में राज्यपाल भगत सिंह...

महाराष्ट्र: एकनाथ शिंदे 2 जुलाई को करेंगे बहुमत साबित, स्पीकर का भी होगा चुनाव

0
मुंबई| राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से शनिवार यानी कि आगामी 2 जुलाई को बहुमत साबित करने के लिए कहा है....

ऑटो ड्राइवर से सीएम बनने का सियासी सफर, कुछ ऐसा रहा ‘एकनाथ शिंदे’ का...

0
एकनाथ शिंदे महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री होंगे. आम शिवसैनिक से अपने सियासी सफर की शुरुआत करने वाले शिंदे आज सीएम की कुर्सी पर पहुंच...

हर मौसम में दिन और रात तस्वीरें खींचने की क्षमता रखता है ये सैटेलाइट,...

0
श्रीहरिकोटा| गुरुवार को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने PSLV-C53 मिशन लॉन्च किया. आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से शाम 6.02 बजे तीन सैटेलाइट लॉन्च...

हरिद्वार: उत्तराखंड एसटीएफ और ड्रग्स विभाग की छापेमारी, बड़ी मात्रा में नकली दवाइयां बरामद

0
गुरुवार को उत्तराखंड एसटीएफ (उत्तराखंड स्पेशल टॉस्क फोर्स) और ड्रग्स विभाग की संयुक्त टीम ने हरिद्वार जिले के रुड़की में 5 मेडिकल स्टोरों...

धामी सरकार के 100 दिन: सीएम धामी ने ‘हमारो पहाड़’ टाइटल सॉग...

0
गुरुवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में सरकार के 100 दिन पूर्ण होने के अवसर पर ‘ सर्वश्रेष्ठ बने उत्तराखण्ड...

महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री बने एकनाथ शिंदे, देवेंद्र फडणवीस ने ली डिप्टी सीएम पद...

0
गुरुवार को शिवसेना के एकनाथ शिंदे ने को महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली. उन्हें राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने पद...

Ind Vs Eng: इंग्लैंड खिलाफ आखिरी टेस्ट मैच से रोहित बाहर, जसप्रीत बुमराह के...

0
बर्मिंघम|…. शुक्रवार से इंग्लैंड के खिलाफ शुरू होने जा रहे सीरीज के पांचवें और आखिरी टेस्ट मैच में जसप्रीत बुमराह टीम इंडिया की...

सियासी उलटफेर: एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री, थोड़ी देर में लेंगे शपथ

0
महाराष्ट्र की राजनीति को लेकर एक बहुत बड़ी खबर सामने आई है. बीजेपी के सहयोग से श‍िवसेना के बागी एकनाथ शिंदे महाराष्‍ट्र के नए...

महाराष्ट्र में चल रहे सियासी हलचल पर हरीश रावत का भाजपा पर बड़ा हमला,...

0
महाराष्ट्र में चल रहे राजनीतिक घटनाक्रम के मामले में उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भाजपा पर बड़ा हमला बोला है. उन्होंने आरोप...
%d bloggers like this: