पूर्वानुमान: एग्जिट पोल्स ने पॉलिटिकल पार्टियों में मचा दी हलचल ! आइए जानते हैं पांच राज्यों का सर्वे

बंगाल के आठ चरण चुनाव खत्म होते ही पूर्वानुमान शुरू हो गए. गुरुवार शाम 7 बजे से शुरू हुए एग्जिट पोल्स ने सर्वे के आधार पर अनुमान जाहिर किए हैं. वैसे बात को आगे बढ़ाने से पहले यहां हम आपको बता दें कि हमेशा एग्जिट पोल सही नहीं होते हैं. लेकिन मतगणना से पहले यह चुनावी सर्वे जरूर पॉलिटिकल पार्टियों में हलचल मचा देते हैं. इस समय देश के विभिन्न चैनलों में पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के एग्जिट पोल दिखाए जा रहे हैं .

पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव की वोटिंग खत्म होने के बाद एग्जिट पोल शुरू हो गए हैं. बंगाल, जिस पर सबकी नजर हैं, वहां के लिए दो पोल आए हैं. इनमें एक में ममता बनर्जी की तृणमूल और दूसरे में भाजपा को बहुमत मिलने का अनुमान जाहिर किया जा रहा है. असम के लिए तीन पोल आए हैं और तीनों में ही भाजपा को स्पष्ट बहुमत के आसार जाहिर किए गए हैं. तमिलनाडु के लिए दो पोल सामने आए हैं, दोनों में द्रमुक को जीत की संभावना जाहिर की गई है.

रिपब्लिक-सीएनएक्स के एग्जिट पोल के मुताबिक तमिलनाडु में इस बार सत्ता परिवर्तन हो सकता है. डीएमके को जबरदस्त जीत हासिल हो सकती है. सीएनएक्स के एग्जिट पोल के मुताबिक डीएमके+ को 165 और सत्ताधारी एआईएडीएमके+ को महज 63 सीटों से संतोष करना पड़ सकता है.

यह भी पढ़ें -  बीजेपी नेता सुनील जाखड़ ने कांग्रेस पार्टी पर ली चुटकी, पूछा-राजस्थान का चन्नी कौन होगा

अन्य के खाते में 6 सीटें जा सकती हैं. बात बंगाल की . टाइम्स नाउ-सी वोटर के सर्वे के मुताबिक, यहां बीजेपी ने टीएमसी को बहुत ही कड़ी टक्कर दी है लेकिन सूबे में पहली बार सरकार बनाने के लिए अभी उसे इंतजार करना पड़ेगा.

सी-वोटर के एग्जिट पोल के मुताबिक, पश्चिम बंगाल में टीएमसी को 152 से 164 सीटें मिल सकती हैं. जबकि बीजेपी के खाते में 109 से 121 सीटें जा सकती हैं. कांग्रेस और लेफ्ट गठबंधन को 14 से 25 सीटें मिलने का अनुमान है. सभी 5 राज्यों को मिलाकर कुल 822 विधानसभा सीटों पर वोटिंग हुई है.

बंगाल की 2 सीटों पर एक-एक उम्मीदवार की मौत की वजह से वोटिंग बाद में होगी. दूसरी ओर रिपब्लिक-सीएनएक्स के एग्जिट पोल के मुताबिक बंगाल में पहली बार बीजेपी सत्ता में आ सकती है. एग्जिट पोल के मुताबिक बीजेपी को 138 से 148 सीटें मिल सकती हैं. टीएमसी को 126 से 136 सीटें मिल सकती हैं.

कांग्रेस-लेफ्ट गठबंधन को 6 से 9 सीटें और अन्य को 1 से 3 सीटें मिल सकती हैं. बता दें कि बंगाल में इस बार भाजपा ने 294 में से 293 सीटों पर चुनाव लड़ा. 1 सीट उसने सुदेश महतो की ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन पार्टी को दी. पिछली बार यहां भाजपा ने गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के साथ चुनाव लड़ा था. इस बार यह जीजेएम तृणमूल के साथ है. तृणमूल 290 और जीजेएम 3 सीटों पर चुनाव में उतरा. 1 सीट निर्दलीय को दी गई.

तमिलनाडु में पहली बार जयललिता और करुणानिधि के बगैर विधानसभा चुनाव हुए. सत्ता में अन्नाद्रमुक है. वह 234 सीटों में से 179 पर और भाजपा 20 सीटों पर चुनाव लड़ रही है. बाकी सीटें अन्य दलों को दी हैं. वहीं, द्रमुक 173 और कांग्रेस 25 सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

इंडिया टुडे-एक्सिस माइ इंडिया के एग्जिट पोल के मुताबिक 126 सीटों वाले असम में एक बार फिर से बीजेपी सरकार बना सकती है. बीजेपी और सहयोगियों को 75 से 85 सीटें और कांग्रेस सहयोगियों को 40 से 50 सीटें मिल सकती हैं.

यह भी पढ़ें -  मध्य रूस के एक स्कूल में जबरदस्त गोलीबारी, 13 लोगों की मौत-कई घायल

अन्य के खाते में 1 से 4 सीटें जाने का अनुमान है. रिपब्लिक-सीएनएक्स के एग्जिट पोल में भी असम में बीजेपी सरकार की भविष्यवाणी की गई है. उसके मुताबिक एनडीए को 79, यूपीए को 45 और अन्य को 2 सीटें मिल सकती हैं.

असम में पिछली बार सत्ता में आई भाजपा से बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट अलग हो गया है. वह इस बार कांग्रेस और लेफ्ट के साथ मैदान में है. वहीं, भाजपा और असम गण परिषद और यूपीएलएल एक साथ चुनाव लड़ रहे हैं. 126 सीटों में से भाजपा ने 92 और कांग्रेस ने 94 सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं. अब बात केरल की . रिपब्लिक-सीएनएक्स के एग्जिट पोल के मुताबिक यहां लेफ्ट गठबंधन एक बार फिर सत्ता में आ रहा है.

केरल में पिछले कई चुनावों से हर 5 साल में सरकार बदलने का ट्रेंड रहा है लेकिन इस बार लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट इस ट्रेंड को मात देने में कामयाब हो सकता है. उसे 75 सीटें मिल सकती हैं जबकि कांग्रेस की अगुआई वाले यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट को 61 सीटें मिल सकती हैं. बीजेपी+ को 3 सीटें मिलने का अनुमान है. बता दें कि बंगाल में कांग्रेस और लेफ्ट मिलकर चुनाव लड़ते हैं, जबकि केरल में वे एक-दूसरे के विरोध में रहते हैं.

यहां अभी लेफ्ट की अगुआई वाले एलडीए की सरकार है. कांग्रेस इसका हिस्सा नहीं है. कांग्रेस की अगुआई वाला यूडीएफ यहां विपक्षी गठबंधन है. वहीं भारतीय जनता पार्टी ने इस बार 140 में से 113 सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं. अब बात होगी पुडुचेरी की रिपब्लिक-सीएनएक्स के एग्जिट पोल के मुताबिक यहां बीजेपी की अगुआई वाले गठबंधन एनडीए की सरकार बन सकती है.

यहां एनडीए को 18 सीटें तो यूपीए को 12 सीटें मिल सकती हैं. पुडुचेरी में कांग्रेस सत्ता में है. इस बार वह 30 सीटों में से 14 और द्रमुक 13 सीटों पर लड़ रही है. उधर, भाजपा 9 और ऑल इंडिया एनआर कांग्रेस 16 सीटों पर मैदान में है.

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

Advertisement

Advertisement

Stay Connected

58,944FansLike
3,243FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने ‘समूह ग’ की 23 परीक्षाओं के लिए अतिरिक्त परीक्षा...

0
उत्तराखंड में बेरोजगार युवाओं के लिए अच्छी खबर है. उत्तराखंड लोक सेवा आयोग की ओर से सोमवार को 'समूह ग' 23 परीक्षाओं के लिए...

सीएम धामी ने दिए मानसखण्ड कॉरिडोर के काम में तेजी लाने के निर्देश

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सचिवालय में लोक निर्माण विभाग, एनएच और बीआरओ के प्रदेश में निर्माणाधीन और प्रस्तावित कार्यों की समीक्षा की. मुख्यमंत्री...

सीएम धामी का सख्त फैसला: उत्तराखंड में होटल, रिजॉर्ट और होमस्टे में अब नहीं...

0
उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी की हत्या के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी एक्टिव मोड में है. वहीं दूसरी ओर अंकिता भंडारी मर्डर केस...

मध्य रूस के एक स्कूल में जबरदस्त गोलीबारी, 13 लोगों की मौत-कई घायल

0
सोमवार को मध्य रूस के एक स्कूल में जबरदस्त गोलीबारी हुई, जिसमें कई छात्र घायल हुए. वहीं जिस शख्स ने फायरिंग की उसने खुद...

नंदा गौरा योजना की 80 हजार लाभार्थी बालिकाओं को सीएम धामी ने हस्तांतरित की...

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को मुख्य सेवक सदन, मुख्यमंत्री आवास, देहरादून में महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में...

अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने पर भी खड़ा हुआ संकट

0
फिलहाल जैसे राजस्थान में सियासी माहौल बयां कर रहे हैं उससे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने का भी संकट...

राजस्थान कांग्रेस में घमासान, अध्यक्ष पद के चुनाव से पहले गहलोत-पायलट के गुट ने...

0
राजनीति के मैदान में भी उलटफेर होना आम हो चला है. अब पार्टी के विधायक या सांसद क्या अच्छा है, क्या बुरा, स्वयं फैसला...

गुलाम नबी आजाद ने अपनी नई पार्टी के नाम का किया ऐलान, ...

0
जम्मू| हाल ही में कांग्रेस को अलविदा कहने वाले दिग्गज नेता गुलाम नबी आजाद ने अपनी पार्टी के नाम की घोषणा की. उन्होंने अपनी...

देहरादून: सीएम धामी ने की प्रदेश की कानून व्यवस्था की समीक्षा, मुख्य सचिव एवं...

0
रविवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सचिवालय में कानून व्यवस्था, अतिक्रमण, आपदा आदि से सम्बन्धित विभिन्न विषयों पर शासन के उच्चाधिकारियों के साथ...

राशिफल 26-09-2022: शारदीय नवरात्रि के पहले दिन कैसा रहेगा सभी राशियों का दिन,...

0
मेष-:आज का दिन आपके लिए धन के लेनदेन के लिए कुछ परेशानी भरा रहेगा. आज आप अपनी दिनचर्या में कुछ अन्य कामों को भी...
%d bloggers like this: