हल्द्वानी: डॉ कोमल जोशी को शिक्षा के क्षेत्र में मिला बड़ा सम्मान

अखिल भारतीय स्वतंत्र पत्रकार एवं लेखक संघ, दिल्ली के तत्वावधान में शिक्षक दिवस की पूर्व संध्या पर आयोजित होने वाला 36वे डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन शिक्षक सम्मान अबकी बार कोरोना संक्रमण के कारण कॉन्स्टिट्यूशन क्लब के बजाय केंद्रीय समाजिक न्याय एवं सेवायोजन मंत्री रामदास अठावले के सरकारी निवास पर संछिप्त और वर्चुअल रूप से किया गया.

ज्ञातव्य हो कि प्रतिवर्ष शिक्षक दिवस की पूर्व संध्या पर सामाजिक सेवा, शिक्षा और मीडिया के क्षेत्र में यह पुरस्कार दिया जाता है. वर्ष 1984 में विभिन्न क्षेत्रों पर कर्मवीरों के मनोबल के प्रोत्साहन के लिए इसकी सुरुआत की गयी थी.

उसी कड़ी में अब तक शिक्षा क्षेत्र में किये गए उल्लेखनीय योगदान के लिए डॉ कोमल चन्द्र जोशी जी को 36 वाँ डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन स्मृति शिक्षक सम्मान-2020 प्रदान किया गया.

यह भी पढ़ें -  नागपुर टेस्ट से पहले ऑस्ट्रेलिया को लगा बड़ा झटका! आरोन फिंच ने अचानक किया अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान

डॉ जोशी ने बताया कि सम्पूर्ण भारत वर्ष से उक्त चयन समिति व्यक्तियों को उनके योगदान के हिसाब से स्वतः संज्ञान लेकर चयन करती है एवं यह संस्था पूरे भारतवर्ष की सबसे पुरानी प्रतिष्ठित संस्था है जो लगातार 36 वर्षों से यह पुनीत कार्य अनवरत कर रही है.

डॉ जोशी पिछले 19 सालों से शिक्षा के क्षेत्र में अपनी सेवाएं दे रहें हैं और अभी तक उनको डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के पौत्र डॉ के.एस. रत्नाकर द्वारा प्रिंसिपल ऑफ द ईयर-कोलकाता जिसमें देशभर से बेहतरीन 40 प्रधानाचार्यों को चुना गया था.

यह भी पढ़ें -  हल्द्वानी के रेस्टोरेंट में चल रही थी बर्थडे पार्टी, एक युवक ने मुंह पर लगाया केक तो चले लात-घूंसे

एडुकेशज एवं रिसर्च इंडस्ट्री थर्टी वन वेंचर्स मुम्बई से एडुकेशन आइकॉन, देश की प्रतिष्ठित सामाजिक संस्था पोद्दार फाउंडेशन की ट्रस्टी प्रकृति पोद्दार द्वारा मानसिक स्वास्थ और तनाव में सेवा के लिए एप्रिसिएशन वालंटियर, एडुफ़ीड फाउंडेशन द्वारा लेटर ऑफ एप्रिसिएशन एवं सर्टिफिकेट ऑफ एप्रिसिएशन के साथ-साथ लगभग अन्य कई बड़े सम्मानित पुरुस्कारों से अब तक नवाजा जा चुका है.

उनको पिछले ही वर्ष देश के प्रतिष्ठित प्रबंधन संस्थान आई. आई. एम.-काशीपुर से एग्जीक्यूटिव इन स्ट्रेटेजिक मैनेजमेंट में भी सर्टिफिकेशन प्राप्त हुआ है और शिक्षा के क्षेत्र में ऐसा करने वाले वह अकेले थे.

अखिल भारतीय स्तर पर देश के चुनिंदा 6 शिक्षाविदों, 11 चिकित्सकों और पत्रकारों को को प्रदान किया जाने वाला यह पुरस्कार देश का दूसरा सबसे बड़ा पुरुस्कार माना जाता है. उत्तराखंड से यह पुरस्कार प्राप्त करने वाले डॉ जोशी एकमात्र शिक्षाविद है.

वह हल्द्वानी(नैनीताल) के निवासी है और इस बात से उनके घर में हर्ष का माहौल है. उनकी माताजी बीना जोशी और पिताजी रमेश जोशी दोनों ही सामाजिक कार्यकर्ता है.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,251FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

थारू राजकीय इण्टर कॉलेज पहुंचे सीएम धामी, बच्चों के बीच स्कूली दिनों को याद...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने अपने जनपद खटीमा भ्रमण के दौरान थारू राजकीय इंटर कॉलेज पहुंचकर परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में प्रतिभाग किया. सीएम...

उत्तराखंड के 2 स्कूलों में 42 बच्चे वायरल फीवर से हुए बीमार, 14 बच्चे...

0
उत्तराखंड के पहाड़ों में एक बार फिर से वायरल बुखार स्कूली छात्र छात्राओं को अपना शिकार बना रहा है. अल्मोड़ा सोमेश्वर क्षेत्र के 2...

तुर्किये में आए भूकंप में एक भारतीय लापता, 10 दूरदराज के इलाकों में फंसे-सरकार...

0
तुर्किये और सीरिया में आए भूंकप से हालात बिगड़ गए हैं. अब तक कुल 11,416 लोगों की मौत हो चुकी है. घायलों की संख्या...

पिथौरागढ़: मुख्य सचिव एसएस संधु ने नैनी सैनी एयरपोर्ट और बेस चिकित्सालय का किया...

0
उत्तराखंड के मुख्य सचिव एसएस संधु ने जनपद के नैनी सैनी एयरपोर्ट एवं पिथौरागढ़ स्थित बेस चिकित्सालय भवन का स्थलीय निरीक्षण किया. मुख्य सचिव...

उत्तराखंड को केंद्र से मिल रही लगातार सौगाते, सीएम धामी ने जताया आभार

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड को विशेष सहायता के तहत 65.92 करोड़ रुपए तथा पूंजीगत परिव्यय के रूप में 72 करोड़ रुपए की...

रेलवे स्टेशन के नाम हमेशा पीले बोर्ड पर ही क्यों लिखे जाते हैं, जानिए...

0
आपने भी कभी न कभी तो ट्रेन में सफर किया ही होगा. लेकिन क्या अपने कभी गौर किया है कि रेलवे स्टेशन के नाम...

सर्दी-जुकाम को जल्दी ठीक करने में कारगर है काली मिर्च, जानें इसके फायदे और...

0
आपको अगर कुछ दिनों से खांसी-जुकाम है, तो आज हम आपको बता रहे हैं खांसी-जुकाम दूर करने का ऐसा घरेलू नुस्खा, जो आपकी शुरुआती...

यूपी: मुरादाबाद में बस स्टेशन के पास लगा लंगूर का पोस्टर, जानिए पूरा मामला

0
यूपी के मुदाराबाद में सरकारी बस स्टेशन पर लंगूर के बड़े-बड़े फोटो के साथ फायर साउंड सेंसर मशीनें लगाई गई हैं. ये इंतजाम वहां...

पीएम मोदी पर बयान देकर बुरे फंसे मल्लिकार्जुन खड़गे, राज्यसभा अध्यक्ष बोले-ये आपको शोभा...

0
राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के एक बयान पर सदन में हंगामा हो गया. खड़गे ने बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी पर...

दिल्ली आबकारी नीति मामला: सीबीआई की बड़ी कार्रवाई, तेलंगाना के सीएम की बेटी के...

0
सीबीआई ने दिल्ली आबकारी नीति मामले में बड़ी कार्रवाई की है. सीबीआई ने हैदराबाद के चार्टर्ड अकाउंटेंट बुच्ची बाबू गोरंटला को बुधवार को गिरफ्तार...
%d bloggers like this: