नई रिसर्च के अनुसार, कोरोना वायरस दोबारा बना सकता है शिकार-शरीर में बस 50 दिनों तक रहती है एंटीबॉडी

कोरोना वायरस से दुनिया भर में कोहराम मचा है. अब तक इस वायरस से करीब ढाई करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं. कई देशों में ऐसे भी केस सामने आए हैं, जहां लोग दोबारा कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं. लिहाजा सवाल उठता है कि आखिर एक बार कोविड-19 संक्रमण होने के बाद लोगों के शरीर में कितनों दिनों तक एंटीबॉडी बनी रहती है.

यानी कब तक वो दोबोरा इस वायरस के आक्रमण से बचे रह सकते हैं. इसको लेकर दनिया भर के वैज्ञानिक और डॉक्टर रिसर्च कर रहे हैं. अब एक नए रिसर्च से पता चला है कि सिर्फ 50 दिनों के बाद एंटीबॉडी शरीर से खत्म हो जाती है. हालांकि पहले ऐसे भी दावे किए जाते रहे हैं कि 3 महीनों तक शरीर में एंटीबॉडी बनी रहती है.

एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक ये रिसर्च मुंबई के जेजे हॉस्पिटल में किया गया. इसमें उन 801 स्टाफ को शामिल किया गया, जो कोरोना से संक्रमित होकर ठीक हो गए थे. इन सबको 7 हफ्ते पहले अप्रैल और मई के शुरुआत में कोरोना हुआ था.

रिसर्च करने वाले डॉक्टर निशांत कुमार के मुताबिक 28 लोगों के RT-PCR टेस्ट किए गए और किसी में भी एंटीबटडी नहीं दिखी. सेरो सर्वे के तहत ये टेस्ट किए गए थे. आमतौर पर ये सर्वे ये पता लगाने के लिए किया जाता है कि किसी खास इलाके में अब तक कितने लोगों को कोरोना हुआ है और वो अपने आप ठीक हो गए.

रिसर्च के तहत मुंबई के जेजे हॉस्पिटल में 34 ऐसे लोगों के भी टेस्ट किए गए, जिन्हें 3-5 हफ्ते पहले कोरोना हुआ था. इनमें से 90 परसेंट लोगों में पाया गया कि पांचवें हफ्ते में इनमें सिर्फ 38.8 फीसदी एंटीबॉडी बची थी.

स्टडी की ये बातें इंटरनेशनल जनरल ऑफ कम्युनिटी मेडिसिन के सितंबर के अंक में छापे जाएंगे. बता दें कि कोरोना को लेकर दुनिया भर में इन दिनों रिसर्च किए जा रहे हैं.

इससे पहले न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में एंटीबॉडीज़ की स्टडी की गई. लक्षण दिखने के करीब 37 दिन बाद पहले नमूने लिये गए और दूसरे नमूने तीन महीने पूरे होने से पहले यानी 86 दिनों के भीतर लिये गए.

शोधकर्ताओं ने इन नमूनों के परीक्षण में देखा कि एंटीबॉडी स्तर तेज़ी से कम हुआ. एंटीबॉडीज़ का ये नुकसान कोरोना वायरस के पिछले वर्जन SARS की तुलना में ज़्यादा तेज़ी से हुआ.

Related Articles

Latest Articles

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिले सीएम धामी, इन विषयों पर की चर्चा

0
मंगलवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह से भेंट की. भेंट के दौरान मुख्यमंत्री ने गृह...

स्पीकर चुनाव को लेकर लिया गया फैसला, कांग्रेस ने अपने सभी सांसदों के लिए...

0
संसद सत्र शुरू हो गया है. 26 जून यानी कल लोकसभा अध्यक्ष पद के लिए चुनाव होंगे. इसके लिए कांग्रेस ने लोकसभा में अपने...

पीएम मोदी से मिले सीएम धामी, तीसरी बार देश का प्रधानमंत्री बनने पर दी...

0
मंगलवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में पीएम नरेंद्र मोदी से भेंट कर उन्हें तीसरी बार देश के प्रधानमंत्री का दायित्व...

इन राज्यों में हुए सबसे ज्यादा पेपर लीक, दांव पर लगा लाखों उम्मीदवारों का...

0
नीट यूजी कंट्रोवर्सी ने एक बार फिर से पेपर लीक मुद्दे को हवा दे दी है. ये पहला मामला नहीं है जब पेपर लीक...

नए आपराधिक कानूनो को लागू करने लिए उत्तराखंड की तैयारी पूरी: सीएस राधा रतूड़ी

0
देशभर में 1 जुलाई 2024 से लागू होने वाले तीन नए आपराधिक कानूनों हेतु उत्तराखंड की तैयारी पूरी हो चुकी है. उत्तराखंड की मुख्य...

सीएम धामी ने दिल्ली के एम्स पहुंचकर जाना घायल वन कर्मियों का कुशलक्षेम

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) पहुंचकर अल्मोड़ा के बिनसर वन्यजीव विहार में वनाग्नि हादसे में गम्भीर...

अबकी बार स्पीकर पद पर तकरार, ओम बिरला बनाम के. सुरेश के बीच जंग

0
लोकसभा स्पीकर पद के लिए अब एक बार फिर एनडीए और विपक्ष के बीच घमासान होने वाला है. एनडीए ने जहां ओम बिरला को...

अभी तिहाड़ जेल से बाहर नहीं आएंगे केजरीवाल, हाईकोर्ट ने जमानत पर लगाई रोक

0
दिल्ली शराब घोटाला केस में अरविंद केजरीवाल को बड़ा झटका लगा है. दिल्ली हाईकोर्ट ने जमानत पर रोक लगा दी है. हाईकोर्ट ने अपने...

काशीपुर-जसपुर मार्ग पर दो डंपरों आपस में भिड़े, चालक की जिंदा जलकर मौत

0
काशीपुर| उधमसिंहनगर ज़िले से बड़े सड़क हादसे की खबर सामने आ रही है. काशीपुर-जसपुर मार्ग पर टोल प्लाजा के पास मंगलवार सुबह दो डंपरों...

दिल्ली: सफदरजंग अस्पताल की पुरानी इमरजेंसी बिल्डिंग में आग, मौके पर फायर ब्रिगेड की...

0
राजधानी दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल की पुरानी इमरजेंसी बिल्डिंग में आग लगने की खबर है. बताया जा रहा है कि पुरानी इमरजेंसी बिल्डिंग में...