शांति के दिखावे के बीच साजिश रच रहा चीन, लद्दाख में बिछा रहा ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क

एक तरफ चीन और भारत के बीच में एलएसी पर तनाव कम करने के लिए उच्च-स्तरीय वार्ता जारी है. चीन लगातार कई अंतरराष्ट्रीय मंचों से कह चुका है कि वह सीमा विवाद का हल शांति से निकालना चाहता है.

हालांकि दूसरी तरफ चीनी सेना अपनी साजिशों से बाज नहीं आ रही है. द टेलीग्राफ में छपी रिपोर्ट के मुताबिक़ चीन ने लद्दाख में ऑप्टिकल फाइबर केबल का नेटवर्क बिछाना शुरू कर दिया है.

रिपोर्ट के मुताबिक चीनी सेना ने इस ऑप्टिकल फाइबर केबल का नेटवर्क को बिछाने के लिए लंबी दूरी तक खुदाई की है. इस केबल नेटवर्क की मदद से चीनी सेना को आपसी बातचीत के लिए एक सुरक्षित साधन मिल जाएगा. भारतीय सेना के अधिकारियों के मुताबिक पैंगोंग त्सो झील के दक्षिणी हिस्से में ये केबल नेटवर्क बिछाने का काम जारी है.

उधर चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने इस मसले पर समाचार एजेंसी रॉयटर्स के सवालों का जवाब देने से साफ़ इनकार कर दिया है. फ़िलहाल इस आरोप पर चीनी सेना की तरफ से भी किसी तरह की प्रतिक्रिया नहीं आई है.

यह भी पढ़ें -  देहरादून: बैंक में ऋण देने के नाम पर लाखों का गबन, मैनेजर ने फर्जी ग्राहक दिखाकर हड़पे साढ़े 83 लाख

भारत और चीन के बीच पिछले कुछ महीनों में गतिरोध पैदा होने की वजह से हज़ारों भारतीय और चीनी फ़ौजी टैंकों और एयरक्राफ्ट के साथ पैंगोंग सो झील के दक्षिण में 70 किलोमीटर के क्षेत्र में फंसे हुए हैं.

दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच पिछले हफ्ते हुई मुलाकात के बाद भी कोई अहम बदलाव नहीं हुआ है और पहले की तरह ही तनाव बरकरार है. उधर एक अंग्रेजी अखबर की पड़ताल में पता चला है कि चीन की सरकार और चाइनीज़ कॉम्युनिस्ट पार्टी से जुड़ी जुनख्वा डेटा इंफोर्मेशन टेक्नॉलॉजी को लिमिटेड नाम की कंपनी भारत में शुरू हो रही नई व्यापारिक योजनाओं पर नज़र रखे हुई हैं.

इस जासूसी की चपेट में भारतीय रेलवे के साथ इंटर्न कर रहे इंजीनियरिंग के छात्र से लेकर अज़ीम प्रेमजी की वेंचर कैपिटल कंपनी के चीफ़ इंवेस्टमेंट ऑफिसर तक कम से कम 1400 लोग शामिल हैं जिन पर नज़र रखी जा रही है.

यह भी पढ़ें -  07 फरवरी 2023 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

मुख्य तौर पर जिन पर यह चीनी कंपनी नज़र रख रही है, उनमें वेंचर कैपिटलिस्ट, एंजेल इंवेस्टर, फाउंडर्स और स्टार्ट अप और भारत स्थित ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म्स के चीफ़ टेक्नॉलॉजी अफसर शामिल हैं. ये उन 10 हज़ार भारतीय लोगों और संस्थाओं में शामिल हैं जिन पर चीन की इस कंपनी ने नज़र रखा हुआ है.

जिन लोगों पर चीनी कंपनी ने नज़र रखा हुआ है उनमें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके परिवार, ममता बनर्जी, अशोक गहलोत, नवीन पटनायक, उद्धव ठाकरे से लेकर कैबिनट मंत्री राजनाथ सिंह, रवि शंकर प्रसाद, निर्मला सीतारमण, स्मृति इरानी शामिल हैं.

इसके अलावा चीफ़ ऑफ़ डिफेंस स्टाफ़ बिपिन रावत, आर्मी, नेवी और एयरफोर्स के 15 प्रमुखों से लेकर मुख्य न्यायाधीश शरद बोबडे, लोकपाल पीसी घोष, कैग प्रमुख जीसी मुर्मु, भारत पे के संस्थापक निपुण मेहरा, उद्योगपति रतन टाटा और गौतम अडानी को भी ये कंपनी मॉनिटर कर रही है. ये कंपनी खुद दावा करती है कि ये चीन की खुफ़िया एजेंसी, सेना और सुरक्षा एजेंसियों के साथ काम करती है.

यह भी पढ़ें -  पिथौरागढ़: मुख्य सचिव एसएस संधु ने नैनी सैनी एयरपोर्ट और बेस चिकित्सालय का किया निरीक्षण

साभार-न्यूज़ 18

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,251FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

थारू राजकीय इण्टर कॉलेज पहुंचे सीएम धामी, बच्चों के बीच स्कूली दिनों को याद...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने अपने जनपद खटीमा भ्रमण के दौरान थारू राजकीय इंटर कॉलेज पहुंचकर परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में प्रतिभाग किया. सीएम...

उत्तराखंड के 2 स्कूलों में 42 बच्चे वायरल फीवर से हुए बीमार, 14 बच्चे...

0
उत्तराखंड के पहाड़ों में एक बार फिर से वायरल बुखार स्कूली छात्र छात्राओं को अपना शिकार बना रहा है. अल्मोड़ा सोमेश्वर क्षेत्र के 2...

तुर्किये में आए भूकंप में एक भारतीय लापता, 10 दूरदराज के इलाकों में फंसे-सरकार...

0
तुर्किये और सीरिया में आए भूंकप से हालात बिगड़ गए हैं. अब तक कुल 11,416 लोगों की मौत हो चुकी है. घायलों की संख्या...

पिथौरागढ़: मुख्य सचिव एसएस संधु ने नैनी सैनी एयरपोर्ट और बेस चिकित्सालय का किया...

0
उत्तराखंड के मुख्य सचिव एसएस संधु ने जनपद के नैनी सैनी एयरपोर्ट एवं पिथौरागढ़ स्थित बेस चिकित्सालय भवन का स्थलीय निरीक्षण किया. मुख्य सचिव...

उत्तराखंड को केंद्र से मिल रही लगातार सौगाते, सीएम धामी ने जताया आभार

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड को विशेष सहायता के तहत 65.92 करोड़ रुपए तथा पूंजीगत परिव्यय के रूप में 72 करोड़ रुपए की...

रेलवे स्टेशन के नाम हमेशा पीले बोर्ड पर ही क्यों लिखे जाते हैं, जानिए...

0
आपने भी कभी न कभी तो ट्रेन में सफर किया ही होगा. लेकिन क्या अपने कभी गौर किया है कि रेलवे स्टेशन के नाम...

सर्दी-जुकाम को जल्दी ठीक करने में कारगर है काली मिर्च, जानें इसके फायदे और...

0
आपको अगर कुछ दिनों से खांसी-जुकाम है, तो आज हम आपको बता रहे हैं खांसी-जुकाम दूर करने का ऐसा घरेलू नुस्खा, जो आपकी शुरुआती...

यूपी: मुरादाबाद में बस स्टेशन के पास लगा लंगूर का पोस्टर, जानिए पूरा मामला

0
यूपी के मुदाराबाद में सरकारी बस स्टेशन पर लंगूर के बड़े-बड़े फोटो के साथ फायर साउंड सेंसर मशीनें लगाई गई हैं. ये इंतजाम वहां...

पीएम मोदी पर बयान देकर बुरे फंसे मल्लिकार्जुन खड़गे, राज्यसभा अध्यक्ष बोले-ये आपको शोभा...

0
राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के एक बयान पर सदन में हंगामा हो गया. खड़गे ने बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी पर...

दिल्ली आबकारी नीति मामला: सीबीआई की बड़ी कार्रवाई, तेलंगाना के सीएम की बेटी के...

0
सीबीआई ने दिल्ली आबकारी नीति मामले में बड़ी कार्रवाई की है. सीबीआई ने हैदराबाद के चार्टर्ड अकाउंटेंट बुच्ची बाबू गोरंटला को बुधवार को गिरफ्तार...
%d bloggers like this: