तो चीन भटका रहा है ध्यान, देपसांग पर कब्जा करने की है साजिश!

नई दिल्ली| रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जब संसद में चीन के साथ चल रहे तनाव पर बयान दिया तो उसमें लद्दाख में रणनीतिक रूप से बेहद अहम देपसांग का कोई जिक्र नहीं था. यह वही इलाका है चीनी सैनिकों द्वारा अप्रैल से भारतीय सैनिकों के पेट्रोलिंग दस्ते को रोका जा रहा है.

एक अंग्रेजी अख़बार के मुताबिक, जब इस संबंध में एक पुराने रक्षा अधिकारी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि यह एक पुराना विवाद की पुरानी जगह है जिसे पेंगोंग झील, चुशूल, गोगरा-हॉटस्प्रिंग्स और गलवान घाटी में इस वर्ष खुले संघर्ष के नए मोर्चों के साथ नहीं मिलाना चाहिए.

एक अधिकारी ने कहा , ‘देपसांग में फिलहाल कोई सैन्य टकराव नहीं हुआ है जहां वास्तविक नियंत्रण रेखा को लेकर भारत तथा चीन के अलग-अलग दावे रहे हैं. लेकिन यहां जमीनी हालात को बदलने का कोई ऐसा प्रयास फिलहाल नहीं हुआ है.’

यह भी पढ़ें -  UKSSSC Paper Leak Case: मास्टमाइंड हाकम के रिजॉर्ट पर चला बुलडोजर

लेकिन सुरक्षा हलकों में इस बात की चिंता बढ़ रही है कि चीन पंगोंग त्सो-चुशुल और अन्य क्षेत्रों में अपने आक्रामक युद्धाभ्यास के माध्यम से लद्दाख की सीमा के साथ लगे बेहद महत्वपूर्ण देपसांग क्षेत्र से भारत का ध्यान हटाना चाहता है.

पीपुल्स लिबरेशन आर्मी पिछले पांच महीनों से भारतीय सैनिकों को देपसांग में उनके पारंपरिक पैट्रोलिंग पॉइंट्स 10, 11, 11A, 12 और 13 पर जाने से रोक रही है, ये वो इलाके हैं जहां भारत का अपना दावा है.

पीएलए सैनिक देपसांग में A बॉटलनेक या ‘वाई-जंक्शन’ क्षेत्र के पास डेरा डाले हुए हैं. भारत के अनुसार यहां से 18 किमी आगे तक अपनी सीमा आती है.

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड में बड़ा हादसा: बारातियों से भरी बस खाई में गिरी, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

वहीं चीन इस इलाके के 972 वर्ग किलोमीटर के इलाके पर अपना दावा करता रहा है. जब भी भारतीय दल यहां आ रहे हैं तो चीनी सैनिक उन्हें रोक रहे हैं.

वहीं बीजिंग के लिए एक मुख्य चिंता यह है कि देपसांग-दौलत बेग ओल्डी (डीबीओ) सेक्टर उसके पश्चिमी राजमार्ग जी -219 के करीब है, जो तिब्बती स्वायत्त क्षेत्र को शिंजियांग से जोड़ता है. पीएल ने यहां एलएसी के पास करीब 12 हजार सैनकों को टैंकों तथा आर्टिलरी गैनों के साथ तैनात कर रखा है.

वहीं भारत ने मई से ही यहां अतिरिक्त सैन्य बटालियन तैनात की हुई जिसमें करीब 6 हजार सैनिक शामिल हैं.ये सभी 16000 हजार फीट की ऊंचाई पर हैं जहां से दौलत बेग ओल्टी सेक्टर के साथ- साथ अहम और उत्तर में स्थित संवेदनशील काराकोरम दर्रे तक पहुंच आसान है.

एक अधिकारी ने बताया, ‘, “भारत, चीन के हाथों खेल रहा है जो देपसांग को दक्षिणी छोर की तरफ विवाद की जगह काट देने की फिराक में है ताकि उसे मनमानी का मौका मिल सके.

यह भी पढ़ें -  06 अक्टूबर 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

पाकिस्तान के साथ नियंत्रण रेखा के विपरीत, एलएसी पर अपना दावा बरकरार रखने के लिए पेट्रोलिंग प्वाइंट्स पर गश्त करना जरूरी हो गया क्योंकि वहां सैनिकों की स्थायी तैनाती संभव नही है. लेकिन देपसांग स्थित हमारे ही पेट्रोलिंग प्वाइंट में हमें जाने से रोका जा रहा है.’

Related Articles

Advertisement

Advertisement

Stay Connected

58,944FansLike
3,248FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रैन की रफ्तार पर भैसों ने लगाई ब्रेक, अगला हिस्सा हुआ...

0
वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन गुरुवार को हादसे का शिकार होने से बच गई. मुंबई सेंट्रल से गांधीनगर के बीच चलने वाली यह ट्रेन गुरुवार...

अंबानी परिवार को फोन पर धमकी देने वाला युवक दरभंगा से गिरफ्तार

0
अंबानी परिवार को फोन पर धमकी दिए जाने के मामले में मुंबई पुलिस ने बिहार के दरभंगा से एक व्यक्ति को हिरासत में लिया...

यूपी के उपमुख्यमंत्री ने राजभर को बताया ‘सच्चा दोस्त’, दूरियां हो रही कम

0
लखनऊ| सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर और उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा के बीच दूरियां कम होती हुई नजर...

बिहार सियासत से बड़ी खबर, राजद प्रदेश अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे सकते...

0
पटना| इस समय बिहार की सियासत से बड़ी खबर है कि राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं....

थाईलैंड: बच्चों के देखभाल केंद्र में सामूहिक गोलीबारी, 31 लोगों की मौत

0
हाल फिलहाल दुनिया भर के कई देशों में के दिनों में गोलबारी की घटनाओं में वृद्धि देखी जा रही है. अमेरिका में ऐसे कई...

भारत जोड़ो यात्रा का 29वां दिन: राहुल को मां सोनिया गांधी का मिला साथ,...

0
पिछले महीने कांग्रेस ने 7 सितंबर से कन्याकुमारी से कश्मीर तक 'भारत जोड़ो यात्रा' शुरुआत की थी. इस यात्रा का नेतृत्व अभी तक केरल...

राशिफल 06-10-2022: क्या कहते है आप के आज के सितारे, जानिए

0
मेष- मन अशान्त रहेगा. नौकरी में अफसरों का सहयोग मिलेगा. स्थान परिवर्तन की सम्भावना बन रही है. अतिउत्साही होने से बचें. पिता के स्वास्थ्‍य...

06 अक्टूबर 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 06 अक्टूबर 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

लालकुआं: बाइक व पिकअप की भिड़ंत में भाई बहन की दर्दनाक मौत

0
बुधवार को नैनीताल जिले की लालकुआं तहसील के हल्दूचौड़ में बड़ा हादसा हो गया. यहां बाइक व पिकअप की भिड़ंत में भाई बहन की...
Uttarakhand Political News

उत्तराखंड में चारों धामों के कपाट शीतकाल के लिए बंद होने की तिथि घोषित

0
उत्तराखंड में चारों धामों के कपाट शीतकाल के लिए बंद होने का ऐलान कर दिया गया है. इसी कड़ी में चमोली जिले स्थित बद्रीनाथ...
%d bloggers like this: