तो चीन भटका रहा है ध्यान, देपसांग पर कब्जा करने की है साजिश!

नई दिल्ली| रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जब संसद में चीन के साथ चल रहे तनाव पर बयान दिया तो उसमें लद्दाख में रणनीतिक रूप से बेहद अहम देपसांग का कोई जिक्र नहीं था. यह वही इलाका है चीनी सैनिकों द्वारा अप्रैल से भारतीय सैनिकों के पेट्रोलिंग दस्ते को रोका जा रहा है.

एक अंग्रेजी अख़बार के मुताबिक, जब इस संबंध में एक पुराने रक्षा अधिकारी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि यह एक पुराना विवाद की पुरानी जगह है जिसे पेंगोंग झील, चुशूल, गोगरा-हॉटस्प्रिंग्स और गलवान घाटी में इस वर्ष खुले संघर्ष के नए मोर्चों के साथ नहीं मिलाना चाहिए.

एक अधिकारी ने कहा , ‘देपसांग में फिलहाल कोई सैन्य टकराव नहीं हुआ है जहां वास्तविक नियंत्रण रेखा को लेकर भारत तथा चीन के अलग-अलग दावे रहे हैं. लेकिन यहां जमीनी हालात को बदलने का कोई ऐसा प्रयास फिलहाल नहीं हुआ है.’

लेकिन सुरक्षा हलकों में इस बात की चिंता बढ़ रही है कि चीन पंगोंग त्सो-चुशुल और अन्य क्षेत्रों में अपने आक्रामक युद्धाभ्यास के माध्यम से लद्दाख की सीमा के साथ लगे बेहद महत्वपूर्ण देपसांग क्षेत्र से भारत का ध्यान हटाना चाहता है.

पीपुल्स लिबरेशन आर्मी पिछले पांच महीनों से भारतीय सैनिकों को देपसांग में उनके पारंपरिक पैट्रोलिंग पॉइंट्स 10, 11, 11A, 12 और 13 पर जाने से रोक रही है, ये वो इलाके हैं जहां भारत का अपना दावा है.

पीएलए सैनिक देपसांग में A बॉटलनेक या ‘वाई-जंक्शन’ क्षेत्र के पास डेरा डाले हुए हैं. भारत के अनुसार यहां से 18 किमी आगे तक अपनी सीमा आती है.

वहीं चीन इस इलाके के 972 वर्ग किलोमीटर के इलाके पर अपना दावा करता रहा है. जब भी भारतीय दल यहां आ रहे हैं तो चीनी सैनिक उन्हें रोक रहे हैं.

वहीं बीजिंग के लिए एक मुख्य चिंता यह है कि देपसांग-दौलत बेग ओल्डी (डीबीओ) सेक्टर उसके पश्चिमी राजमार्ग जी -219 के करीब है, जो तिब्बती स्वायत्त क्षेत्र को शिंजियांग से जोड़ता है. पीएल ने यहां एलएसी के पास करीब 12 हजार सैनकों को टैंकों तथा आर्टिलरी गैनों के साथ तैनात कर रखा है.

वहीं भारत ने मई से ही यहां अतिरिक्त सैन्य बटालियन तैनात की हुई जिसमें करीब 6 हजार सैनिक शामिल हैं.ये सभी 16000 हजार फीट की ऊंचाई पर हैं जहां से दौलत बेग ओल्टी सेक्टर के साथ- साथ अहम और उत्तर में स्थित संवेदनशील काराकोरम दर्रे तक पहुंच आसान है.

एक अधिकारी ने बताया, ‘, “भारत, चीन के हाथों खेल रहा है जो देपसांग को दक्षिणी छोर की तरफ विवाद की जगह काट देने की फिराक में है ताकि उसे मनमानी का मौका मिल सके.

पाकिस्तान के साथ नियंत्रण रेखा के विपरीत, एलएसी पर अपना दावा बरकरार रखने के लिए पेट्रोलिंग प्वाइंट्स पर गश्त करना जरूरी हो गया क्योंकि वहां सैनिकों की स्थायी तैनाती संभव नही है. लेकिन देपसांग स्थित हमारे ही पेट्रोलिंग प्वाइंट में हमें जाने से रोका जा रहा है.’

Related Articles

Latest Articles

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिले सीएम धामी, इन विषयों पर की चर्चा

0
मंगलवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह से भेंट की. भेंट के दौरान मुख्यमंत्री ने गृह...

स्पीकर चुनाव को लेकर लिया गया फैसला, कांग्रेस ने अपने सभी सांसदों के लिए...

0
संसद सत्र शुरू हो गया है. 26 जून यानी कल लोकसभा अध्यक्ष पद के लिए चुनाव होंगे. इसके लिए कांग्रेस ने लोकसभा में अपने...

पीएम मोदी से मिले सीएम धामी, तीसरी बार देश का प्रधानमंत्री बनने पर दी...

0
मंगलवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में पीएम नरेंद्र मोदी से भेंट कर उन्हें तीसरी बार देश के प्रधानमंत्री का दायित्व...

इन राज्यों में हुए सबसे ज्यादा पेपर लीक, दांव पर लगा लाखों उम्मीदवारों का...

0
नीट यूजी कंट्रोवर्सी ने एक बार फिर से पेपर लीक मुद्दे को हवा दे दी है. ये पहला मामला नहीं है जब पेपर लीक...

नए आपराधिक कानूनो को लागू करने लिए उत्तराखंड की तैयारी पूरी: सीएस राधा रतूड़ी

0
देशभर में 1 जुलाई 2024 से लागू होने वाले तीन नए आपराधिक कानूनों हेतु उत्तराखंड की तैयारी पूरी हो चुकी है. उत्तराखंड की मुख्य...

सीएम धामी ने दिल्ली के एम्स पहुंचकर जाना घायल वन कर्मियों का कुशलक्षेम

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) पहुंचकर अल्मोड़ा के बिनसर वन्यजीव विहार में वनाग्नि हादसे में गम्भीर...

अबकी बार स्पीकर पद पर तकरार, ओम बिरला बनाम के. सुरेश के बीच जंग

0
लोकसभा स्पीकर पद के लिए अब एक बार फिर एनडीए और विपक्ष के बीच घमासान होने वाला है. एनडीए ने जहां ओम बिरला को...

अभी तिहाड़ जेल से बाहर नहीं आएंगे केजरीवाल, हाईकोर्ट ने जमानत पर लगाई रोक

0
दिल्ली शराब घोटाला केस में अरविंद केजरीवाल को बड़ा झटका लगा है. दिल्ली हाईकोर्ट ने जमानत पर रोक लगा दी है. हाईकोर्ट ने अपने...

काशीपुर-जसपुर मार्ग पर दो डंपरों आपस में भिड़े, चालक की जिंदा जलकर मौत

0
काशीपुर| उधमसिंहनगर ज़िले से बड़े सड़क हादसे की खबर सामने आ रही है. काशीपुर-जसपुर मार्ग पर टोल प्लाजा के पास मंगलवार सुबह दो डंपरों...

दिल्ली: सफदरजंग अस्पताल की पुरानी इमरजेंसी बिल्डिंग में आग, मौके पर फायर ब्रिगेड की...

0
राजधानी दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल की पुरानी इमरजेंसी बिल्डिंग में आग लगने की खबर है. बताया जा रहा है कि पुरानी इमरजेंसी बिल्डिंग में...