संविधान के मूल ढांचे का सिद्धांत दिलाने वाले संत केशवानंद भारती का निधन

संत केशवानंद भारती का निधन हो गया है. वे 79 साल के थे. भारती, केरल के कासरगोड़ में एडनीर मठ के प्रमुख थे. देश उन्हें संविधान को बचाने वाले शख्स के तौर पर याद रखेगा. दरअसल आज से 47 साल पहले यानी 1973 में उन्होंने केरल सरकार के खिलाफ मठ की संपत्ति को लेकर सुप्रीम कोर्ट में ऐतिहासिक लड़ाई लड़ी थी. उस वक्त 13 जजों की बेंच ने संत केशवानंद के पक्ष में संविधान के मौलिक अधिकार को लेकर ऐतिहासिक फैसला सुनाया था. दरअसल केरल सरकार ने उस वक्त उनके मठ की संपत्ति पर कई तरह की पाबंदियां लगा दी थी.

सांस लेने की तकलीफ और हृदय में दिकक्तों के चलते उन्हें मैंगलुरु के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वे साल 1961 से मठ के प्रमुथ थे. संत होने के साथ-साथ एक क्लासिकल सिंगर भी थे. 15 साल तक उन्होंने यक्षगाना मेला में गायक और डायरेक्टर के तौर पर भाग लिया. उन्होंने मठ में कई साहित्यिक कार्यक्रम भी चलाया. कर्नाटक लोक सेवा आयोग के पूर्व अध्यक्ष और स्वामीजी के भक्त, श्याम भट ने अंग्रेजी अखबार हिंदू से बातचीत करते हुए कहा कि उन्होंने यक्षगान को अलग पहचान दी साथ ही उन्हें वो प्रमुखता मिली, जिसके वे हकदार थे.

संत केशवानंद भारती ने महज 19 साल की उम्र में संन्यास लिया था. कुछ ही साल बाद अपने गुरु के निधन की वजह से वे एडनीर मठ के मुखिया बन गए. इस मठ का इतिहास करीब 1,200 साल पुराना माना जाता है. यही कारण है कि केरल और कर्नाटक में इसका काफी ज्यादा सम्मान है. इस मठ का भारत की नाट्य और नृत्य परंपरा को बढ़ावा देने के भी जाना जाता है. साठ-सत्तर के दशक में कासरगोड़ में इस मठ के पास हजारों एकड़ जमीन भी थी.

साल 1970 में केरल हाईकोर्ट में इस मठ के मुखिया होने के नाते केशवानंद भारती ने एक दायर याचिका दायर की थी. उन्होंने अनुच्छेद 26 का हवाला देते हुए मांग की थी कि उन्हें अपनी धार्मिक संपदा का प्रबंधन करने का मूल अधिकार दिया जाए. उन्होंने संविधान संशोधन के जरिए संपत्ति के मूल अधिकार पर पाबंदी लगाने वाले केंद्र सरकार के 24वें, 25वें और 29वें संविधान संशोधनों को चुनौती दी थी. 68 दिनों तक चली सुनवाई के बाद वे केस हार गए. बाद में उन्होंने हाई कोर्ट के इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी. जहां सुप्रीम कोर्ट ने उनके पक्ष में फैसला सुनाया था.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,235FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

उत्तराखंड चारधाम यात्रा: 77 अतिसंवेदनशील स्थलों पर लगेंगे क्रैश बैरियर, सीएम धामी ने परिवहन...

0
सोमवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने जनपद चमोली, उत्तरकाशी, रूद्रप्रयाग, टिहरी एवं पौड़ी के चारधाम यात्रा मोटर मार्ग पर चिह्नित 77 अतिसंवेदनशील स्थलों...

महाराष्ट्र राजनीतिक उठापठक के बाद दो बार इस्तीफा देने के मूड में थे उद्धव...

0
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे राजनीतिक उठापठक के बाद से दो बार इस्तीफा देने का मन बना लिए थे लेकिन दोनों बार गठबंधन के...

सेमिनार आयोजित: मसूरी पहुंचे सीएम धामी ने आईएएस प्रशिक्षु अधिकारियों को बताए जीवन मूल्य

0
सोमवार को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी पहुंचे. यहां उन्होंने आईएएस प्रशिक्षु अधिकारियों को संबोधित...

IndW Vs SLW 3rd T20: चामरी अटापट्टू की अविजित पारी की बदौलत जीता...

0
चामरी अटापट्टू की 80 रन की अविजित पारी की बदौलत श्रीलंकाई महिला क्रिकेट टीम ने सोमवार को तीसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले में...

राष्ट्रपति चुनाव 2022: यशवंत सिन्हा बोले, 10वां विकल्प भी होता तो मजबूती से...

0
सोमवार को राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष के संयुक्त उम्मीदवार यशवंत सिन्हा ने अपना नामांकन पत्र दाखिल किया. नामांकन दाखिल करने के मौके पर उनके...

पश्चिम बंगाल: मुकुल रॉय ने लोक लेखा समिति के अध्यक्ष पद से दिया...

0
पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी छोड़कर टीएमसी में शामिल हुए विधायक मुकुल रॉय ने सोमवार को विधानसभा में लोक लेखा समिति के...

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सत्येंद्र जैन को नहीं मिली राहत: सीबीआई कोर्ट ने न्यायिक...

0
मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार हुए दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही है. बता दें...

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले सकते हैं इंग्लैंड के कप्तान इयोन मॉर्गन

0
इंग्लैंड क्रिकेट इन दिनों बदलाव के दौर से गुजर रहा है. पिछले कुछ महीनों में क्रिकेट बोर्ड के डायरेक्टर से लेकर कोच और टेस्ट...

AHSEC 12th Result 2022: असम की 12 वीं का रिजल्ट घोषित, ऐसे करें चेक

0
असम हायर सेकेंडरी एजुकेशन काउंसिल (AHSEC) कक्षा 12वीं रिजल्ट 2022 ऑफिशियल वेबसाइट www.ahsec.nic.in पर घोषित कर दिया गया है. इस साल 21 फरवरी से...

Maharashtra Crisis: शिव सेना बागी विधायकों को राहत, सुप्रीम कोर्ट ने डिप्टी स्पीकर...

0
सोमवार को शिवसेना विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. उद्धव ठाकरे एवं एकनाथ शिंदे गुट के वकीलों की बहस सुनने के बाद शीर्ष...
%d bloggers like this: