सरकार की योजनाएं गरीबों के लिए हैं, न कि किसी दामाद के लिए : सीतारमण

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने राज्यसभा में बजट पर चर्चा के दौरान कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा और कहा कि सरकार की योजनाएं केवल गरीबों को फायदा पहुंचाने के लिए हैं, न कि किसी दामाद के लिए.

हालांकि उन्होंने प्रत्यक्ष रूप से किसी का नाम नहीं लिया, लेकिन इशारों-इशारों में उन्होंने जो टिप्पणी की उससे स्पष्ट रूप से कांग्रेसी नेताओं की भृकुटि तन गई. शोर-शराबे के बीच उन्होंने विपक्ष पर अपना प्रहार जारी रखा.

उन्होंने कहा कि जनवरी, 2020 तक यूपीआई के माध्यम से डिजिटल लेनदेन 3.6 लाख करोड़ से अधिक का था. यूपीआई का उपयोग किसके द्वारा किया जाता है? धनी लोगों के द्वारा? नहीं.

उन्होंने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए सवाल दागा कि मध्यम वर्ग, छोटे व्यापारी – ये लोग कौन हैं? क्या सरकार अमीरों को, कुछ दामादों को लाभ पहुंचाने के लिए यूपीआई बना रही है, डिजिटल लेन-देन की सुविधा प्रदान कर रही है? बिल्कुल नहीं.

वह वाड्रा का जिक्र कर रही थीं, जो कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद हैं, और जिन्हें भाजपा द्वारा कथित भूमि सौदे के लिए अक्सर निशाना बनाया जाता रहा है.

बहरहाल, कांग्रेस ने इन आरोपों पर आपत्ति जताई. लेकिन, सीतारमण ने कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि मुद्रा योजना के तहत 27,000 करोड़ रुपये से अधिक के ऋण मंजूर किए गए. मुद्रा योजना कौन लेता है? दामाद?

विपक्ष पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि हम गरीबों की भलाई के लिए कुछ भी क्यों न करें, कुछ लोगों की आरोप मढ़ने की आदत-सी बन गई है. हम गरीबों के लिए जो कुछ भी कर रहे हैं और इस देश के गरीबों और जरूरतमंदों की मदद के लिए जो भी कदम उठा रहे हैं – इसके बावजूद आरोप मढ़ना कुछ लोगों का शगल बन चुका है.

उन्होंने कहा कि आरोप मढ़ने के लिए एक झूठी कहानी गढ़ी जाती है कि यह सरकार केवल पूंजीपति मित्रों (धनाढ्यों) के लिए काम करती है.

वित्त मंत्री ने कहा कि 80 करोड़ लोगों को मुफ्त खाद्यान्न उपलब्ध कराया गया; 8 करोड़ लोगों को मुफ्त में रसोई गैस उपलब्ध कराई गई और 40 करोड़ लोगों, किसानों, महिलाओं, विशेष रूप से दिव्यांगों, गरीबों व जरूरतमंदों को नकद राशि दी गई.

गौरतलब है कि पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने गुरुवार को केंद्र सरकार पर हमला किया था और आरोप लगाया था कि मोदी सरकार ने 2021-22 के बजट प्रस्तावों में गरीबों, बेरोजगारों और एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु व मध्यम) क्षेत्र की अनदेखी की.

राज्यसभा में बजट पर बोलते हुए चिदंबरम ने कहा कि इस बजट से सबसे ज्यादा आस लगाने वाले गरीब, किसान, प्रवासी श्रमिक, एमएसएमई क्षेत्र, मध्यम वर्ग और बेरोजगारों को उनके भाग्य पर छोड़ दिया गया.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने इस बजट को अस्वीकार कर दिया क्योंकि इसमें गरीबों के लिए कुछ भी नहीं था. उन्होंने कहा कि सभी को उम्मीद थी लेकिन गरीबों को नकद हस्तांतरण (कैश ट्रांसफर) नहीं किया गया.

चिदंबरम ने कहा कि बजट में रक्षा क्षेत्र का कोई उल्लेख नहीं किया गया. केंद्रीय वित्त मंत्री ने अपने भाषण में रक्षा का उल्लेख नहीं किया, जो अभूतपूर्व है. चालू वर्ष में 343,822 करोड़ रुपये के संशोधित अनुमानों के मुकाबले 2021-22 में रक्षा के लिए बजटीय आवंटन 3,47,088 करोड़ रुपये है. इसमें केवल 3,266 करोड़ रुपये की वृद्धि की गई है.

यह भी पढ़ें -  महाराष्ट्र सियासी संकट: राज्यपाल ने दिए फ्लोर टेस्ट के आदेश, अब सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर टिका उद्धव का इस्तीफा

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,229FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

भाजपा का आखिरी समय तक सस्पेंस: सीएम न बनाए जाने पर नाराज हुए फडणवीस...

0
महाराष्ट्र में 10 दिनों से जारी सियासी संकट का आखिरकार गुरुवार शाम 7:30 बजे पटाक्षेप हो गया. मुंबई स्थित राजभवन में राज्यपाल भगत सिंह...

महाराष्ट्र: एकनाथ शिंदे 2 जुलाई को करेंगे बहुमत साबित, स्पीकर का भी होगा चुनाव

0
मुंबई| राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से शनिवार यानी कि आगामी 2 जुलाई को बहुमत साबित करने के लिए कहा है....

ऑटो ड्राइवर से सीएम बनने का सियासी सफर, कुछ ऐसा रहा ‘एकनाथ शिंदे’ का...

0
एकनाथ शिंदे महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री होंगे. आम शिवसैनिक से अपने सियासी सफर की शुरुआत करने वाले शिंदे आज सीएम की कुर्सी पर पहुंच...

हर मौसम में दिन और रात तस्वीरें खींचने की क्षमता रखता है ये सैटेलाइट,...

0
श्रीहरिकोटा| गुरुवार को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने PSLV-C53 मिशन लॉन्च किया. आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से शाम 6.02 बजे तीन सैटेलाइट लॉन्च...

हरिद्वार: उत्तराखंड एसटीएफ और ड्रग्स विभाग की छापेमारी, बड़ी मात्रा में नकली दवाइयां बरामद

0
गुरुवार को उत्तराखंड एसटीएफ (उत्तराखंड स्पेशल टॉस्क फोर्स) और ड्रग्स विभाग की संयुक्त टीम ने हरिद्वार जिले के रुड़की में 5 मेडिकल स्टोरों...

धामी सरकार के 100 दिन: सीएम धामी ने ‘हमारो पहाड़’ टाइटल सॉग...

0
गुरुवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में सरकार के 100 दिन पूर्ण होने के अवसर पर ‘ सर्वश्रेष्ठ बने उत्तराखण्ड...

महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री बने एकनाथ शिंदे, देवेंद्र फडणवीस ने ली डिप्टी सीएम पद...

0
गुरुवार को शिवसेना के एकनाथ शिंदे ने को महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली. उन्हें राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने पद...

Ind Vs Eng: इंग्लैंड खिलाफ आखिरी टेस्ट मैच से रोहित बाहर, जसप्रीत बुमराह के...

0
बर्मिंघम|…. शुक्रवार से इंग्लैंड के खिलाफ शुरू होने जा रहे सीरीज के पांचवें और आखिरी टेस्ट मैच में जसप्रीत बुमराह टीम इंडिया की...

सियासी उलटफेर: एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री, थोड़ी देर में लेंगे शपथ

0
महाराष्ट्र की राजनीति को लेकर एक बहुत बड़ी खबर सामने आई है. बीजेपी के सहयोग से श‍िवसेना के बागी एकनाथ शिंदे महाराष्‍ट्र के नए...

महाराष्ट्र में चल रहे सियासी हलचल पर हरीश रावत का भाजपा पर बड़ा हमला,...

0
महाराष्ट्र में चल रहे राजनीतिक घटनाक्रम के मामले में उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भाजपा पर बड़ा हमला बोला है. उन्होंने आरोप...
%d bloggers like this: