मशहूर समाजसेवी स्वामी अग्निवेश का निधन

शुक्रवार को सामाजिक कार्यकर्ता और आर्य समाज के जाने-माने नेता स्वामी अग्निवेश का 80 साल की उम्र में निधन हो गया. अभी कुछ दिन पहले ही स्वामी अग्निवेश की तबीयत अचानक बिगड़ गई थी. जिसके बाद उन्‍हें नई दिल्ली के इंस्टीट्यूट ऑफ लिवर एंड बायिलरी साइंसेज/आईएलबीएस (ILBS) में भर्ती कराया गया था.

वरिष्‍ठ डॉक्‍टरों की निगरानी से उनका इलाज चल रहा था. लिवर सिरोसिस और मल्टी ऑर्गन फेल्योर के कारण उन्‍हें वेंटिलेटर पर रखा गया था. अस्पताल के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘वह लिवर सिरोसिस से पीड़ित थे और आज उनकी हालत बिगड़ गयी.

यह भी पढ़ें -  महाराष्ट्र सियासी संकट: शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे ने उद्धव ठाकरे को लिखा पत्र, जानिए क्या लिखा पत्र में

उनके कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया तथा शाम छह बजे हृदयाघात आने के बाद उनका निधन हो गया.’ उन्होंने कहा कि स्वामी अग्निवेश को पुन: होश में लाने की कोशिश की गयी लेकिन शाम साढ़े छह बजे उनका निधन हो गया. स्वामी अग्निवेश का अंतिम संस्कार शनिवार को गुरुग्राम में किया जाएगा.

21 सितंबर, 1939 को जन्मे स्वामी अग्निवेश सामाजिक मुद्दों पर अपनी बेबाक टिप्पणियों के लिए जाने जाते थे. 2011 में अन्ना हजारे की अगुवाई वाले भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन में भी उन्‍होंने हिस्सा लिया था. हालांकि बाद में कुछ मतभेद हो गए और वह अन्‍ना के आंदोलन से दूर हो गए थे. उन्‍होंने रियलिटी शो बिग बॉस में भी हिस्‍सा लिया था. वह तीन दिन तक बिग बॉस के घर में थे.

यह भी पढ़ें -  महाराष्ट्र संकट: शिवसेना विधायकों की बगावत के बीच बिस्वा सरमा का उद्धव ठाकरे को ऑफर, कहा-आप छुट्टी मनाने आएं असम

अन्ना आंदोलन में वो बढ़चढ़ कर हिस्सेदारी निभा रहे थे. लेकिन कुछ वैचारिक मतभेदों की वजह से उन्हें आंदोलन से दूर जाना पड़ा. दरअसल स्वामी अग्निवेश पर यह आरोप लगने लगे कि कहीं न कहीं वो कांग्रेस के प्रति सॉफ्कट कार्नर रखते थे. वह 8 से 11 नवंबर के दौरान तीन दिन के लिए बिग बॉस के घर में भी रहे.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,236FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

UP Bed 2022: यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा 2022 के लिए एडमिट कार्ड जारी

0
यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा 2022 के लिए एडमिट कार्ड आज 25, जून 2022 को जारी कर दिए हैं. यूपी बीएड परीक्षा के लिए उम्मीदवार...

देहरादून: आपदा के दौरान मीडिया की होती है अहम भूमिका, आपदा प्रबंधन में मीडिया...

0
अधिशासी निदेशक डॉ. पीयूष रौतेला ने बताया कि भू-वैज्ञानिक व भौगोलिक परिस्थितियों के साथ ही मौसम सम्बन्धित विषमता उत्तराखण्ड को कई आपदाओं के प्रति...

गुजरात दंगा: याचिका खारिज के एक दिन बाद तीस्ता सीतलवाड़ एटीएस की हिरासत में,...

0
गुजरात एटीएस ने एक्टिविस्ट तीस्ता सीतलवाड़ को हिरासत में लिया है और उन्हें मुंबई के सांताक्रूज पुलिस स्टेशन ले जाया गया. खबर है कि...

Indw Vs SLw-2nd T20: भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने श्रीलंका को 5 विकेट से...

0
दम्बुल्ला|..... भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने तीन मैचों की सीरीज के दूसरे टी20 मैच में मेजबान श्रीलंका को 5 विकेट से हरा दिया. इसके...

महाराष्ट्र में शह-मात जारी: सरकार और शिवसेना बचाने के लिए उद्धव का मंथन, शिंदे...

0
महाराष्ट्र में शिवसेना पूरी तरह से दो फाड़ में हो चुकी है. एकनाथ शिंदे का बगावती गुट अब शिवसेना पर अपना दावा ठोक रहा...

इमरजेंसी के 47 साल: 21 महीनों तक नागरिकों की आजादी कैद में रही, खत्म...

0
लोकतंत्र के लिए 25 जून एक ऐसी तारीख है जो कभी भुलाई नहीं जा सकती है. आज से 47 साल पहले 25-26 जून की...

महाराष्ट्र सियासी संकट: 16 बागी विधायकों को जारी किया गया अयोग्यता नोटिस, 27 जून...

0
महाराष्ट्र का सियासी ड्रामा फिलहाल थमता नजर नहीं आ रहा है. जहां एक तरफ बागी शिंदे लगातार अपना कुनबा बढ़ा रहे हैं तो दूसरी...

उत्तराखंड में भारी बारिश का अंदेशा, इस दिन रहें सावधान

0
देहरादून| उत्तराखंड में मॉनसून की दस्तक के साथ ही भारी बारिश का अंदेशा जताया जा रहा है. मौसम विभाग ने 29 जून को...

शिवसेना- बालासाहेब ठाकरे’ होगा एकनाथ शिंदे गुट का नाम

0
महाराष्ट्र में सियासी उठापटक के पांचवे दिन शिवसेना के कार्यकर्ता जहां सड़कों पर उतरकर अलग-अलग जगहों पर तोड़फोड़ कर रहे हैं, वहीं मुंबई से...

महाराष्ट्र संकट: मुंबई में किसी अप्रिय घटना को रोकने के लिए धारा 144 लागू

0
महाराष्ट्र में शिवसेना की अंदरुनी कलह अब हिंसा में तब्दील हो गई है. कई जगहों पर शिवसेना कार्यकर्ताओं ने बागी नेताओं के ठिकानों पर...
%d bloggers like this: