कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक से पहले सोनिया गांधी का बड़ा फैसला,छोड़ देंगी अंतरिम अध्यक्ष का पद!

कांग्रेस को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है. सूत्रों के अनुसार, सोनिया गांधी अंतरिम कांग्रेस अध्यक्ष का पद छोड़ देंगी. सोमवार को होने वाली कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक से पहले कांग्रेस को लेकर ये बड़ी खबर सामने आई है. अंतरिम अध्यक्ष पर सोनिया गांधी ने अपना एक साल का कार्यकाल पूरा कर लिया है.

अगर वो पद से हटती हैं तो पार्टी को नया नेतृत्व ढूंढना होगा. सोनिया गांधी के अंतरिम कांग्रेस अध्यक्ष के पद से हटने पर अंतिम निर्णय कल होने वाली सीडब्ल्यूसी की बैठक में लिया जाएगा. इस बैठक में नए नेतृत्व पर भी फैसला हो सकता है.

सोनिया गांधी के इस फैसले की जानकारी तब सामने आई है जब पार्टी के कई नेताओं द्वारा लिखा हुआ एक पत्र सामने आया है जिसमें पार्टी में आमूलचूल परिवर्तन और सुधार करने की मांग की गई है.

पत्र में भाजपा के उत्थान पर चिंता जताई गई है और पार्टी के लिए एक फुल-टाइम अध्यक्ष बनाए जाने की मांग की गई है. पत्र में कहा गया है कि देश आर्थिक संकट, कोरोना महामारी और चीन से सीमा विवाद के संकट से जूझ रहा है. इन नेताओं का कहना है कि कार्य समिति से लेकर पार्टी के दसूरे सभी पदों के लिए चुनाव होने चाहिए.

इसके साथ ही पार्लियामेंट्री बोर्ड को भी फिर से जीवित किया जाना चाहिए. पत्र पर हस्ताक्षर करने वालों में प्रमुख हैं- गुलाम नबी आजाद, आनन्द शर्मा, भूपिन्दर सिंह हूडा, वीरप्पा मोइली, पृथ्वीराज चौहान आदि. पत्र में 23 नेताओं के हस्ताक्षर बताए जा रहे हैं.

वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस में गांधी परिवार के नेतृत्व को चुनौती देने वाले पार्टी के कुछ नेताओं के कदमों का विरोध करते हुए कहा है कि इस तरह का मुद्दा उठाने का यह समय नहीं है. सिंह ने कहा, ‘इस महत्वपूर्ण समय में पार्टी में बदलाव की मांग करने वाले कांग्रेस के इन नेताओं का कदम पार्टी के हितों और राष्ट्र के हितों के लिए हानिकारक होगा.

कांग्रेस को ऐसे नेतृत्व की जरूरत है जो केवल कुछ लोगों के लिए नहीं बल्कि समूची पार्टी, समस्त कार्यकर्ताओं और देश के लिए स्वीकार्य हो.’ साथ ही कहा कि गांधी परिवार इस भूमिका के लिए बिल्कुल उपयुक्त है.

उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी जब तक चाहती हैं उन्हें कांग्रेस का नेतृत्व करना चाहिए. इसके बाद राहुल गांधी को पद की जिम्मेदारी संभालनी चाहिए क्योंकि वह पार्टी का नेतृत्व करने के लिए पूरी तरह योग्य हैं.

साभार टाइम नाउ

Related Articles

विज्ञापन

Latest Articles

राम रहीम को बड़ा झटका! भविष्य में कोर्ट के अनुमति के बिना राम रहीम...

0
डेरा सच्चा सौदा प्रमुख की पैरोल को लेकर पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है. हाईकोर्ट ने सख्ती दिखाते हुए कहा कि...

पीएम-सूर्य घर मुफ्त बिजली योजना को मिली हरी झंडी, कितनी सब्सिडी-कैसे करे अप्लाई-जानिए सब...

0
केंद्रीय मंत्रिमंडल ने गुरुवार को 'पीएम-सूर्य घर: मुफ्त बिजली योजना' को मंजूरी दी. इस पर 75 हजार 21 करोड़ रुपये का खर्च आएगा. योजना...

पिथौरागढ़ के नैनी सैनी एयरपोर्ट के लिए मिली 42 सीटर विमान के संचालन को...

0
सीमांत जनपद पिथौरागढ़ के नैनी सैनी एयरपोर्ट के लिए केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने 42 सीटर विमान के संचालन को मंजूरी प्रदान की है।...

देहरादून: सीएस सचिव राधा रतूड़ी ने खेल विभाग की समीक्षा की

0
देहरादून| सीएस सचिव राधा रतूड़ी ने विधानसभा भवन में खेल विभाग के साथ श्री पूर्णानंद स्पोर्ट्स स्टेडियम, मुनि की रेती टिहरी तथा इन्दिरा गांधी...

धामी ने जमाया सिक्का, 100 शक्तिशाली भारतीयों की सूची में मिली जगह

0
देहरादून| उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को सबसे शक्तिशाली भारतीयों की सूची में जगह मिली है. सौ सबसे शक्तिशाली भारतीयों की सूची में...

हिमाचल प्रदेश: सुक्खू सरकार पर मंडराए संकट के बादल फिलहाल छंटे, बनें रहेंगे सीएम

0
हिमाचल प्रदेश में राज्यसभा की एक सीट पर हुए चुनाव में क्रॉस वोटिंग के बाद सुखविंदर सिंह सुक्खू सरकार पर मंडराए संकट के बादल...

हल्द्वानी हिंसा: मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक का बेटा अब्दुल मोईद गिरफ्तार,

0
हल्द्वानी हिंसा का मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक का बेटा अब्दुल मोईद पुलिस की गिरफ्त में आ गया है. पुलिस ने अब्दुल मोईद को दिल्ली से...

टीएमसी की शाहजहां शेख पर बड़ी कार्रवाई, 6 साल के लिए पार्टी से किया...

0
पश्चिम बंगाल के संदेशखाली में घटी घटना के मुख्य आरोपी शाहजहां शेख को गिरफ्तार कर लिया गया है. शाहजहां शेख को 10 दिन की...

लोकसभा चुनाव 2024: इंडी गठबंधन में शामिल न होने से नाराज ओवैसी, अखिलेश यादव...

0
लखनऊ| आगामी लोकसभा चुनाव में इंडी गठबंधन में शामिल न होने से नाराज असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM ने प्रदेश की 7 लोकसभा सीटों...

1993 सीरियल बम ब्लास्ट केस: आरोप करीम टुंडा सबूतों के अभाव में बरी, इरफान...

0
1993 सीरियल ब्लास्ट मामले में अजमेर की टाडा कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाते हुए आरोपी अब्दुल करीम टुंडा को बरी कर दिया है. टुंडा...