स्टडी में खुलासा, ये दवा कोविड-19 के गंभीर रोगियों की जान बचा सकती

लंदन|…… कॉर्टिकोस्टेरॉइड दवाओं के साथ गंभीर रूप से बीमार कोविड-19 रोगियों का इलाज करने से मृत्यु का जोखिम 20% कम हो जाता है. बुधवार को सात अंतरराष्ट्रीय परीक्षणों का विश्लेषण करने पर ऐसे परिणाम मिले हैं जो कि विश्व स्वास्थ्य संगठन को भी इलाज के लिए इसकी सलाह देने के लिए प्रेरित करता है.

यह विश्लेषण कम खुराक वाली हाइड्रोकार्टिसोन, डेक्सामेथासोन और मेथिलप्रेडिसोलोन के अलग-अलग परीक्षणों से डेटा एकत्र किया – पाया कि स्टेरॉयड ऐसे कोविड​​-19 रोगियों के रिकवरी में सुधार करते हैं जो अस्पताल में गहन देखभाल में बीमार हैं.

शोधकर्ताओं ने एक बयान में कहा, “यह कॉर्टिकोस्टेरॉइड्स के साथ इलाज के बाद जीवित रहने वाले (कॉर्टिकोस्टेरॉइड्स के लगभग 60%) रोगियों के लगभग 68% के बराबर है.” WHO की क्लिनिकल केयर लीड, जेनेट डियाज ने कहा कि एजेंसी ने गंभीर और महत्वपूर्ण कोविड​​-19 वाले रोगियों में स्टेरॉयड के उपयोग के लिए “मजबूत सिफारिश” को शामिल करने के लिए अपनी सलाह को अपडेट किया है.

उन्होंने डब्ल्यूएचओ सोशल मीडिया लाइव इवेंट में बताया “सबूतों से पता चलता है कि अगर आप कॉर्टिकोस्टेरॉइड देते हैं … प्रति 1,000 रोगियों में 87 कम मौतें हुईं.” “ये लवो लोग हैं जिन्हें जिंदा बचा लिया गया.”

ब्रिटेन के ब्रिस्टल विश्वविद्यालय में काम करने वाले चिकित्सा सांख्यिकी और महामारी विज्ञान के प्रोफेसर जोनाथन स्टर्न ने कहा, “स्टेरॉयड एक सस्ती और आसानी से उपलब्ध दवा है, और हमारे विश्लेषण ने पुष्टि की है कि वे लोगों में कोविड​​-19 से सबसे अधिक प्रभावित होने वाली मौतों को कम करने में प्रभावी हैं.”
उन्होंने कहा कि ब्रिटेन, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, स्पेन और संयुक्त राज्य अमेरिका में शोधकर्ताओं द्वारा किए गए परीक्षणों में, लगातार एक संदेश दिया गया, जिसमें दिखाया गया कि ड्रग्स, उम्र या सेक्स या फिर या कितने समय तक रोगी बीमार रहा इसकी की परवाह किए बिना सबसे बीमार रोगियों में फायदेमंद थे.

अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन के जर्नल में प्रकाशित निष्कर्ष, परिणामों को सुदृढ़ करते हैं जिन्हें एक बड़ी सफलता के रूप में देखा गया और जून में घोषणा की गई, जब डेक्सामेथासोन गंभीर ड्रग कोविड ​​-19 रोगियों के बीच मृत्यु दर को कम करने में सक्षम होने वाली पहली दवा बन गई.

डेक्सामेथासोन तब से कुछ देशों में कोविड ​​-19 रोगियों का इलाज करने वाले गहन देखभाल वार्डों में व्यापक उपयोग में है.

ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय में मेडिसिन और महामारी विज्ञान के एक प्रोफेसर मार्टिन लैंडरे, जो बुधवार को प्रकाशित किए गए विश्लेषण के एक प्रमुख भाग डेक्सामेथासोन परीक्षण पर काम कर रहे थे, ने कहा कि दुनिया भर के अस्पतालों में डॉक्टरों का कहना है कि जान बचाने के लिए दवाओं का उपयोग करने के लिए सुरक्षित रूप से स्विच किया जा सकता है.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा “ये परिणाम स्पष्ट हैं, और नैदानिक अभ्यास में तुरंत प्रयोग करने योग्य हैं. “कोविड -19 के साथ गंभीर रूप से बीमार रोगियों में, कम खुराक वाले कॉर्टिकोस्टेरॉइड … मौत के जोखिम को काफी कम करते हैं.”

शोधकर्ताओं ने कहा कि फायदे के लिए कि रोगियों समय इलाज जब वह वेंटिलेशन पर थे तब शुरू कर दिया और इसने इसकी परवाह किए बिना फायदे दिखाए. उन्होंने कहा कि डब्ल्यूएचओ ताजा परिणामों को प्रतिबिंबित करने के लिए अपने दिशानिर्देशों को तुरंत अपडेट करेगा.

डेक्सामेथासोन पर जून के निष्कर्षों तक, नए कोरोनोवायरस के कारण होने वाले श्वसन रोग कोविड ​​-19 के रोगियों में मृत्यु दर को कम करने के लिए कोई प्रभावी उपचार नहीं दिखाया गया था.

पूरी दुनिया में 2.5 करोड़ से अधिक लोग कोविड -19 से संक्रमित हुए हैं और 856,876 लोग मारे गए हैं.

गिलियड साइंसेज इंक के रेमेडिसविर को संयुक्त राज्य अमेरिका के नियामकों द्वारा मई में गंभीर कोविड -19 के रोगियों में इस्तेमाल के लिए अधिकृत किया गया था.

इंपीरियल कॉलेज लंदन के प्रोफेसर एंथोनी गॉर्डन, जिन्होंने विश्लेषण पर भी काम किया, ने कहा कि इसके परिणाम उन रोगियों के लिए अच्छी खबर है जो कोविड ​​-19 के साथ गंभीर रूप से बीमार हो जाते हैं, लेकिन संक्रमण के प्रकोप को कम करने या संक्रमण नियंत्रण उपायों को कम करने के लिए पर्याप्त नहीं होगा.

“ये परिणाम के रूप में प्रभावशाली हैं पर, यह एक इलाज नहीं है. अब हमारे पास कुछ ऐसा है जो मदद करेगा, लेकिन यह एक इलाज नहीं है, इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि हम सभी रोकथाम रणनीतियों को बनाए रखें.”

Related Articles

Advertisement

Advertisement

Stay Connected

58,944FansLike
3,243FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

Road Safety World Series Final: सचिन तेंदुलकर की इंडिया लीजेंड्स ने दूसरी बार जीता...

0
इंडिया लीजेंड्स ने रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज 2022 के फाइनल मैच में श्रीलंका लीजेंड्स को 33 रनों से हराकर दूसरी बार खिताब पर कब्जा...

उत्तराखंड: उत्तरकाशी में भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर 2.5 रही तीव्रता

0
उत्तरकाशी| उत्तराखंड स्थित उत्तरकाशी में जनपद मुख्यालय में रविवार सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूकंप के झटकों के बाद लोग घरों के...

कृति रावत और पहाड़ की महिलाओं ने ‘पिरुल’ से बनाए घरेलू उत्पादों की लगाई...

0
उत्तराखंड में प्राकृतिक संपदा का भरपूर भंडार मौजूद है. बस में पहचानने और उपयोग करने की जरूरत है. ‌ हिमालय क्षेत्र में ऐसे पेड़-पौधे...

सीएम धामी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री को दी श्रद्धांजलि,...

0
देहरादून| आज देशभर में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती मनाई जा रही है. इसी कड़ी में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सीएम आवास में...

इंडोनेशिया में फुटबॉल मैच के दौरान भगदड़ मचने से 127 लोगों की मौत, 200...

0
इंडोनेशिया में एक फुटबॉल मैच के दौरान शनिवार रात भगदड़ मचने से 127 लोगों की मौत हो गई है और करीब 200 लोग घायल...

अंकिता मर्डर मामला: यूकेडी समेत कई संगठनों ने किया उत्तराखंड बंद का आह्वान, आरोपियों...

0
देहरादून| अंकिता भंडारी मर्डर केस को लेकर उत्तराखंड में रविवार को प्रदेश बंद का आह्वान किया गया है. उत्तराखंड क्रान्ति दल की तरफ से...

यूपी: कानपुर में भीषण सड़क हादसा, ट्रैक्टर ट्रॉली के पलट जाने से 26...

0
यूपी के कानपुर में शनिवार देर रात भीषण सड़क हादसा हुआ है. शनिवार को देर रात श्रद्धालुओं से भरी एक ट्रैक्टर ट्रॉली के पलट...

शारदीय नवरात्रि 2022: आज होगी मां कालरात्रि की पूजा, जानिए विधि, मंत्र-आरती और कथा

0
शारदीय नवरात्रि का सातवां दिन 02अक्टूबर रविवार को है. नवरात्रि के सातवें दिन को दुर्गा सप्तमी के नाम से भी जानते हैं। इस दिन...

राशिफल 02-10-2022: रविवार के दिन क्या कहती है आप की राशि, जानिए

0
मेष- घोर पराक्रमी बने रहेंगे. आपके द्वारा किया गया पराक्रम सफलता की ओर ले जाएगा. उद्योग-धंधा-नौकरी में अच्‍छी स्थिति है. प्रेम की स्थिति अच्‍छी...

02 अक्टूबर 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 02 अक्टूबर 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...
%d bloggers like this: