लखीमपुर खीरी हिंसा मामला: सुप्रीमकोर्ट ने यूपी सरकार को लगाई फटकार-कहा घटना के सिर्फ 23 चश्‍मदीद क्‍यों!

मंगलवार को यूपी के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई की. सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार को फटकार लगाई है.

किसानों पर कार चढ़ा देने के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सवाल उठाते हुए कहा कि घटना के सिर्फ 23 चश्‍मदीद क्‍यों हैं? सुप्रीम कोर्ट ने राज्‍य सरकार को और अधिक गवाह एकत्र करने, उनके बयान दर्ज करने और उन्‍हें सुरक्षा मुहैया कराने का भी आदेश दिया है. इस मामले की अगली सुनवाई 8 नवंबर को होगी.

यह भी पढ़ें -  अंकिता भंडारी का एनआईटी घाट पर किया गया अंतिम संस्कार, बड़ी संख्या में मौजूद लोगों ने नम आंखों से विदाई दी

लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के मामले में केंद्रीय गृह राज्‍यमंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा पर किसानों पर कार चढ़ाने के आरोप हैं. इस मामले में मंगलवार को हुई सुनवाई में उत्‍तर प्रदेश सरकार की ओर से वरिष्‍ठ वकील हरीश साल्‍वे पेश हुए.

उन्‍होंने कोर्ट को जानकारी दी कि इस मामले में कुल 68 चश्‍मदीद थे. इनमें से 30 चश्‍मदीदों के बयान दर्ज किए गए हैं. इनमें से 23 लोगों ने घटना के चश्‍मदीद होने का दावा किया है.

यह भी पढ़ें -  अंकिता भंडारी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा- मौत से पहले शरीर पर चोट के निशान, डूबने से गई जान

यूपी सरकार की ओर से कोर्ट में कहा गया है कि लोगों ने कार देखी और उसके अंदर बैठे लोगों को भी देखा था. कोर्ट ने यूपी सरकार से कहा है कि अगर चश्मदीद गवाह से ज्यादा विश्वसनीय हैं तो फर्स्‍ट हैंड इंफॉर्मेशन होना सबसे अच्छा है.

सुप्रीम कोर्ट ने क‍हा है कि अगर बयान दर्ज करने में कोई कठिनाई हो रही है या न्‍यायिक अधिकारी उपलब्‍ध नहीं है तो पास के जिला जज उनकी जगह किसी और की उपलब्‍धता को सुनिश्चित करें.

यह भी पढ़ें -  देहरादून: सीएम धामी ने की प्रदेश की कानून व्यवस्था की समीक्षा, मुख्य सचिव एवं पुलिस महानिदेशक सहित अन्य उच्चाधिकारी रहे मौजूद

यूपी सरकार पर सवाल उठाते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इस मामले में अधिक चश्‍मदीदों से पूछताछ क्‍यों नहीं की गई है.

आपने अब तक 44 चश्‍मदीदों में से महज 4 के बयान दर्ज किए हैं. और अधिक के क्‍यों नहीं? इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार को आदेश दिया कि वो सभी चश्‍मदीदों की गवाही दर्ज करे और सभी को सुरक्षा प्रदान करे. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यह इसकी अंतिम कहानी नहीं है.

Related Articles

Advertisement

Advertisement

Stay Connected

58,944FansLike
3,243FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने ‘समूह ग’ की 23 परीक्षाओं के लिए अतिरिक्त परीक्षा...

0
उत्तराखंड में बेरोजगार युवाओं के लिए अच्छी खबर है. उत्तराखंड लोक सेवा आयोग की ओर से सोमवार को 'समूह ग' 23 परीक्षाओं के लिए...

सीएम धामी ने दिए मानसखण्ड कॉरिडोर के काम में तेजी लाने के निर्देश

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सचिवालय में लोक निर्माण विभाग, एनएच और बीआरओ के प्रदेश में निर्माणाधीन और प्रस्तावित कार्यों की समीक्षा की. मुख्यमंत्री...

सीएम धामी का सख्त फैसला: उत्तराखंड में होटल, रिजॉर्ट और होमस्टे में अब नहीं...

0
उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी की हत्या के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी एक्टिव मोड में है. वहीं दूसरी ओर अंकिता भंडारी मर्डर केस...

मध्य रूस के एक स्कूल में जबरदस्त गोलीबारी, 13 लोगों की मौत-कई घायल

0
सोमवार को मध्य रूस के एक स्कूल में जबरदस्त गोलीबारी हुई, जिसमें कई छात्र घायल हुए. वहीं जिस शख्स ने फायरिंग की उसने खुद...

नंदा गौरा योजना की 80 हजार लाभार्थी बालिकाओं को सीएम धामी ने हस्तांतरित की...

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को मुख्य सेवक सदन, मुख्यमंत्री आवास, देहरादून में महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में...

अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने पर भी खड़ा हुआ संकट

0
फिलहाल जैसे राजस्थान में सियासी माहौल बयां कर रहे हैं उससे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने का भी संकट...

राजस्थान कांग्रेस में घमासान, अध्यक्ष पद के चुनाव से पहले गहलोत-पायलट के गुट ने...

0
राजनीति के मैदान में भी उलटफेर होना आम हो चला है. अब पार्टी के विधायक या सांसद क्या अच्छा है, क्या बुरा, स्वयं फैसला...

गुलाम नबी आजाद ने अपनी नई पार्टी के नाम का किया ऐलान, ...

0
जम्मू| हाल ही में कांग्रेस को अलविदा कहने वाले दिग्गज नेता गुलाम नबी आजाद ने अपनी पार्टी के नाम की घोषणा की. उन्होंने अपनी...

देहरादून: सीएम धामी ने की प्रदेश की कानून व्यवस्था की समीक्षा, मुख्य सचिव एवं...

0
रविवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सचिवालय में कानून व्यवस्था, अतिक्रमण, आपदा आदि से सम्बन्धित विभिन्न विषयों पर शासन के उच्चाधिकारियों के साथ...

राशिफल 26-09-2022: शारदीय नवरात्रि के पहले दिन कैसा रहेगा सभी राशियों का दिन,...

0
मेष-:आज का दिन आपके लिए धन के लेनदेन के लिए कुछ परेशानी भरा रहेगा. आज आप अपनी दिनचर्या में कुछ अन्य कामों को भी...
%d bloggers like this: