सड़क पर भिड़े: कृषि बिल पर संसद के बाहर कांग्रेस-अकाली दल की सांसद के बीच हाथापाई होते-होते बची

मानसून सत्र के दौरान संसद भवन में जारी हंगामे और शोर-शराबे का असर अब बाहर भी दिखने लगा है. जहां संसद के अंदर कांग्रेस समेत विपक्ष मोदी सरकार पर पेगासस जासूसी फोन कांड को लेकर लगातार 15 दिनों से नारेबाजी करती आ रही है. वहीं बुधवार सुबह सत्र शुरू होने से पहले संसद भवन के गेट पर कांग्रेस के सांसद रवनीत सिंह बिट्टू और अकाली दल शिरोमणि की सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर मोदी सरकार के पिछले वर्ष पारित किए गए कृषि कानून को लेकर बुरी तरह भिड़ गए अगर मीडियाकर्मी वहां न होते तो दोनों के बीच ‘हाथापाई’ तय थी.

दोनों नेताओं के आपस में भिड़ने की वजह पंजाब में अगले वर्ष की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कृषि कानून का विरोध दिखाना था. सांसद बिट्टू और कौर की जुबानी जंग इतनी तेज थी कि इसका असर पंजाब तक भी सुनाई दिया . दोनों नेता किसानों के लिए आवाज उठा रहे थे. इसके साथ यह साबित करने की कोशिश की, कि हम ही किसानों के सबसे बड़े हितैषी हैं और मोदी सरकार के लगाए गए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं.

दोनों नेताओं में झगड़े की शुरुआत ऐसे हुई .बुधवार को अकाली दल के नेता संसद गेट पर गेहूं की बाली देकर किसानों की आवाज उठा रहे थे. जब सदन की कार्यवाही में शामिल होने के लिए पंजाब से कांग्रेस के लोकसभा सांसद रवनीत सिंह बिट्टू सदन पहुंचे तो यहां गेट नंबर 4 पर उनका सामना अकाली दल सांसद हरसिमरत कौर बादल से हुआ.

संसद के बाहर प्रदर्शन कर रहीं बादल और अकाली सासंदों से बिट्टू ने कहा कि आपका यह प्रदर्शन नकली है. रवनीत सिंह बिट्टू ने हरसिमरत को टारगेट करते हुए कहा कि जब बिल पास हुए तब आप केंद्रीय मंत्री थीं. उस वक्त आप कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के साथ बैठती थीं, लेकिन तब आपने क्यों नहीं कुछ किया, अब आप ड्रामा कर रही हैं. बिट्टू के इस आरोप पर हरसिमरत कौर बादल भी बिफर गईं.

उन्होंने दो टूक कहा कि मैंने कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया था, लेकिन पंजाब में आपकी सरकार है, वो क्या कर रही है. इस पर बिट्टू ने कहा कि पहले आपने कैबिनेट में रहकर बिल पास कराए और फिर घर जाकर बाद में इस्तीफा दिया. इस तरह दोनों नेताओं के बीच तीखी बहस हुई. दोनों की जुबानी जंग और हाथों की प्रतिक्रियाएं इतनी तेज थी कि बीच में मौजूद मीडिया कर्मियों को अपने माइक एक दूसरे के चेहरे की ओर जल्दी-जल्दी घुमाने पड़ रहे थे.

यहां हम आपको बता दें कि मौजूदा समय पंजाब में कांग्रेस की सरकार और कैप्टन अमरिंदर सिंह मुख्यमंत्री हैं. वहीं शिरोमणि अकाली दल सत्ता में वापसी करने के लिए पंजाब में कृषि कानून को लेकर नाराज चल रहे किसानों के साथ खड़ा होना चाहती है. दूसरी ओर कैप्टन अमरिंदर भी केंद्र सरकार के इस कानून का विरोध करते आ रहे हैं.

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

Latest Articles

परीक्षा पास करने के बाद किसे मिलता है कौन सा पद! जानिए कौन बनता...

0
मंगलवार को संघ लोक सेवा आयोग ने सिविल सर्विस 2023 परीक्षा के परिणामों का ऐलान कर दिया है. यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा 2023 तीन...

रणदीप सुरजेवाला पर चुनाव आयोग की बड़ी कार्रवाई, 48 घंटे प्रचार पर रोक लगाई

0
कांग्रेस के दिग्गज नेता और सांसद रणदीप सुरजेवाला पर चुनाव आयोग ने कार्रवाई की है. आयोग ने 48 घंटे उनके चुनाव प्रचार पर रोक...

छत्तीसगढ़: कांकेर जंगलों में पुलिसकर्मियों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, 18 माओवादियों के मारे...

0
छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले से बड़ी खबर सामने आ रही है. यहां के पुलिसकर्मियों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ जारी है. इस मुठभेड़ में...

UPSC में पिथौरागढ़ के संदीप सिंह ने 906वीं रैंक की हासिल, पिता चलाते हैं...

0
संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा आयोजित सिविल सर्विसेज परीक्षा 2023 में धारचूला के चौदास घाटी के गांव सोसा में रहने वाले संदीप सिंह...

लोकसभा चुनाव 2024: आप के स्टार प्रचारकों में सुनीता केजरीवाल का भी नाम, मनीष...

0
मंगलवार को लोकसभा चुनाव को लेकर आम आदमी पार्टी ने स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की है. स्टार प्रचाकरों की सूची में सांसद संजय...

रोहित-द्रविड़ और अगरकर की टी20 विश्व कप की टीम को लेकर दो घंटे की...

0
भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान रोहित शर्मा, मुख्य कोच राहुल द्रविड़ और चयन समिति के अध्यक्ष अजीत अगरकर ने पिछले हफ्ते मुंबई में भारत...

आरबीआई की गाइडलाइन, ग्राहक को पूरी जानकारी देने के बाद ही दें लोन-कुछ भी...

0
अब बैंक और एनबीएफसी कंपनियों की ओर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने आंखे तरेरना ली हैं. एक नोटिफिकेशन जारी करते हुए कहा है कि...

मुख्तार अंसारी की मौत पर डीजीपी प्रशांत कुमार ने तोड़ी चुप्पी, दिया ये बयान

0
यूपी के डीजीपी प्रशांत कुमार ने माफिया डॉन मुख्तार अंसारी की मौत पर पहली बार कोई टिप्पणी की है. उन्होंने कहा कि मुख्तार अंसारी...

ये हैं उत्तराखंड के सबसे उम्रदराज मतदाता, उम्र जानकर चौंक जाएंगे

0
लोकसभा चुनाव की मतदाता सूची में अनेक मतदाता शतकवीर होंगे, लेकिन स्वामी परमानंद पुरी एक विशेष मतदाता हैं जिनकी आयु 135 वर्ष है। उनका...

जोशीमठ में मुख्यमंत्री धामी का रोड शो, भाजपा प्रत्याशी अनिल बलूनी के लिए मांगा...

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जोशीमठ में भाजपा प्रत्याशी अनिल बलूनी के लिए समर्थन मांगा और जोशीमठ इंटर कॉलेज चौराहा से चमोली टैक्सी स्टैंड...