किसानों और केंद्र सरकार के बीच 11वें दौर की बातचीत रही बेनतीजा, जानें कृषि मंत्री के बयान की खास बातें

शुक्रवार को केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर​ ने कहा कि किसानों का कल्याण यूनियनों की ओर से बातचीत के केंद्र में नहीं होने के कारण वार्ता अनिर्णायक रही. मुझे इसका दुख है.

किसान यूनियनों ने कहा कि वे सरकार से विकल्प मांगने के बावजूद केवल कानूनों को रद्द करना चाहते हैं. हमने उनसे हमारे प्रस्ताव पर पुनर्विचार करने को कहा क्योंकि यह किसानों और देश के हित में है. हमने उन्हें कल अपना निर्णय बताने के लिए कहा है.

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि बहुत से किसान संगठन है जो सरकार के प्रस्ताव से सहमत हैं. अगर आप किसानों के साथ बातचीत को देखें तो वो 14 अक्टूबर से चल रही है.

यह भी पढ़ें -  यूपी: लखनऊ में अनोखी चोरी, कैडबरी के गोदाम में धावा बोलकर चोर 17 लाख की चॉकलेट चुराकर रफूचक्कर

20 जनवरी को जिस बातचीत में सरकार ने प्रस्ताव दिया उससे ज्यादा पक्ष भी सहमत थे. आखिर में ऐसा क्या हुआ कि बातचीत जहां से शुरू हुई वहीं वापस आ गई. किसानों ने जिस अनुशास के साथ अपने आंदोलन को अब तक चलाया है उम्मीद है कि वो आगे भी उसी अनुशासन का परिचय देंगे.

कृषि मंत्री के बयान की खास बातें
कुछ लोग किसानों में गलतफहमियां पैदा कर रहे हैं, कुछ लोगों किसानों का फायदा उठा रहे हैं.
यह विशुद्ध तौर पर किसानों का पंजाब के किसानों का आंदोलन है.
पिछले 14 अक्टूबर से किसानों के साथ बातचीत जारी रही है.
सरकार, किसानों की मांग के प्रति संवेदनशील है
बातचीत किसी सार्थक नतीजे तक नहीं पहुंची. सरकार ने किसानों को जो प्रस्ताव दिया है वो बेहतर प्रस्ताव है, किसानों से वो अपील करेंगे कि वो लोग विचार करें.
हमारा प्रस्ताव किसान और देश दोनों के हित में है.
मंत्री जी ने साढ़े तीन घंटे इंतजार कराया.

किसान मजदूर संघर्ष समिति के एस एस पंधेर ने कहा कि मंत्री ने हमें साढ़े तीन घंटे इंतजार करवाया. यह किसानों का अपमान है. जब वह आया, तो उसने हमसे सरकार के प्रस्ताव पर विचार करने के लिए कहा और कहा कि वह बैठकों की प्रक्रिया को समाप्त कर रहा है … आंदोलन शांतिपूर्वक जारी रहेगा.

यह भी पढ़ें -  महाराष्ट्र: गोंदिया में रेल हादसा, पैसेंजर ट्रेन ने मालगाड़ी को टक्कर मारी- 50 से ज्यादा यात्री घायल

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,244FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

सीएम धामी ने लांसनायक चन्द्रशेखर हर्बोला के पार्थिव देह पर पुष्पचक्र अर्पित कर दी...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने 1984 में सियाचिन में ऑपरेशन मेघदूत के दौरान शहीद हुए लांसनायक चन्द्रशेखर हर्बोला के पार्थिव देह पर पुष्पचक्र अर्पित...

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की सुरक्षा में हुई चूक पर 3 कमांडो बर्खास्त

0
भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की सुरक्षा में चूक के मामले में गृह मंत्रालय ने एक्शन लेते हुए 3 कमांडो को सर्विस...

बढ़ते कोरोना के मामलों को देख डीजीसीए सख्त, एयरलाइन्स को दिए ये निर्देश

0
देश में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए नागर विमानन महानिदेशालय यानी डीजीसीए सख्त हो गया है. डीजीसीए ने एयलाइन्स को निर्देश दिए...

क्या अब 5 साल तक के बच्चों की भी लेनी होगी ट्रेन टिकट! जानिए...

0
कई लोग ट्रेन से यात्रियों के साथ सफर करते हैं. बच्चों के साथ आरामदायक यात्रा के लिए भारतीय रेलवे कई सुविधाएं प्रदान करती है,...

यूपी: लखनऊ में अनोखी चोरी, कैडबरी के गोदाम में धावा बोलकर चोर 17 लाख...

0
आपने आज तक चोरी की कितनी ही खबरें और कहानियां पढ़ी और सुनी होंगी. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में चोरी की एक...

धामी सरकार ने प्रदेश के तीन वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों के विभागों में किया फेरबदल

0
धामी सरकार ने प्रदेश के तीन वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों के विभागों के कार्यों में फेरबदल किया है. शासन की ओर से बुधवार को इसके...

घी संक्रांति 2022: उत्तराखंड में हर्षोल्लास के साथ मनाई जा रही है घी संक्रांति,...

0
उत्तराखंड की संस्कृति और विरासत अपने आप में कई ऐसे पर्वों को भी समेटे हुई है, जिनका यहां की संस्कृति में खास महत्व है....

हिमाचल प्रदेश: कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष पवन काजल भाजपा में...

0
शिमला| बुधवार को हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष पवन काजल भाजपा में शामिल हो गए हैं. उनके अलावा, कांग्रेस के नालागढ़ से...

बीजेपी ने अपने संसदीय बोर्ड में किया बड़ा बदलाव, नितिन गडकरी- शिवराज सिंह चौहान...

0
2024 आम चुनाव के मद्देनजर बीजेपी ने अपने संसदीय बोर्ड में बड़ा बदलाव किया है. नए संसदीय बोर्ड के ऐलान की खास बात यह...

दिल्ली में रोहिंग्या शरणार्थियों को नहीं मिलेंगे घर, गृह मंत्रालय ने खबरों का किया...

0
राष्ट्रीय राजधानी में रोहिंग्या अवैध विदेशी नागरिकों को घर दिए जाने से संबंधित खबरों का गृह मंत्रालाय ने खंडन कर दिया है. होम मिनिस्ट्री...
%d bloggers like this: