दिवाली से पहले सुलझ सकता है लद्दाख विवाद, सैनिक की वापसी पर भारत-चीन में तीन स्टेप प्लान पर बनी बात: रिपोर्ट

पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच चल रहा सीमा विवाद दिवाली से पहले सुलझ सकता है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारत और चीन में लद्दाख के विवाद वाली जगहों से सेनाएं हटाने यानी डिस्इंगेजमेंट को लेकर सहमति बन गई है.

इसते तहत दोनों देशों के सैनिक अप्रैल-मई वाली अपनी पुरानी यथास्थिति पर लौट जाएंगे.

इस पर 6 नवंबर को चुशुल में कॉर्प्स-कमांडर लेवल की आठवें चरण की बातचीत में चर्चा हुई थी.

हालांकि, इस मामले पर अभी तक भारत सरकार या भारतीय सेना की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है. चीन की तरफ से भी कोई स्टेटमेंट नहीं आया है.

दरअसल, लद्दाख के चुशूल में 6 नवंबर को भारत-चीन की सेनाओं के बीच आठवें राउंड की बात हुई थी. इसमें तीन फेज के प्लान पर दोनों देशों ने सहमति जताई थी.

पहले फेज में पैंगोंग झील इलाके को पहले हफ्ते में खाली किया जाएगा. टैंक और सैनिकों को वापस भेजा जाएगा.

दूसरे फेज में दोनों सेनाएं पैंगोंग इलाके के पास से हर रोज अपने 30 फीसदी सैनिकों को हटाएंगी. ये प्रक्रिया तीन दिनों तक जारी रहेगी.

इस दौरान चीनी सेना फिंगर 8 के पास वापस लौटेगी, तो वहीं भारतीय सेना अपनी धान सिंह थापा पोस्ट पर आएगी.

वहीं, तीसरे फेज में भारत और चीन की सेनाएं पैंगोंग झील इलाके के साउथ क्षेत्र से अपनी सैनिकों को हटाएंगी. इसके साथ ही चुशूल, रेजांग ला की जिन पहाड़ियों पर तनाव के वक्त कब्जा किया गया था, उन्हें भी खाली किया जाएगा.

इस पूरी प्रक्रिया की दोनों ही सेनाएं निगरानी करेंगी, जिसपर सहमति बन चुकी है. शी जिनपिंग ने दिया तिब्बत में रेल लाइन के निर्माण को और तेज करने का आदेश

रिपोर्ट के मुताबिक, दोनों देश सेनाएं हटाने पर इसलिए भी तैयार हुए हैं, क्योंकि फिलहाल पूर्वी लद्दाख में चोटियों पर भारी बर्फबारी हो रही है.

करीब 15-16 हज़ार की ऊंचाई पर तापमान माइनस 45 डिग्री तक चला जाता है. इससे दोनों देशों की सैनिको की परेशानी बढ़ सकती है

पूर्वी लद्दाख के पेंगोंग झील के इलाकों में अप्रैल के बाद से ही तनाव की स्थिति बरकरार है.

चीनी सेना ने इस दौरान कई भारतीय पेट्रोलिंग प्वाइंट पर कब्जा किया था, लेकिन समयबद्ध तरीके से भारतीय जवानों ने चीन को जवाब दिया.

वहीं, 15 जून को गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हिंसक झड़प हुई थी, जिसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे.

चीन के भी 43 सैनिकों के मारे जाने की बात कही गई थी. हालांकि, चीन ने आधिकारिक डेटा में अपने मारे गए सैनिकों की संख्या 5 बताई.

साभार-न्यूज़ 18

Related Articles

Latest Articles

चमोली के जोशीमठ के नाम बदलने के प्रस्‍ताव को मंजूरी, नीम करौली बाबा के...

0
देहरादून| केंद्र सरकार ने उत्तराखंड के चमोली जिले में स्थित जोशीमठ का नाम बदलकर उसके प्राचीन नाम ज्योतिर्मठ करने का प्रस्ताव स्वीकार कर लिया...

ओडिशा: मोहन चरण माझी ने ली सीएम पद की शपथ, समारोह में पीएम मोदी...

0
ओडिशा में पहली बार भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी है. ओडिशा के मनोनीत मुख्यमंत्री मोहन चरण माझी ने भुवनेश्वर के जनता मैदान में...

पीएम मोदी पहुंचे सीएम चंद्रबाबू नायडू के शपथ ग्रहण समारोह में, पवन कल्याण से...

0
आज बुधवार को तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) के अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू ने आंध्र प्रदेश के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। इस अवसर...

देहरादून: सीएस ने सिंचाई विभाग को जल स्रोतों एवं नदियों के पुनर्जीवीकरण के प्रोजेक्ट...

0
सीएस राधा रतूड़ी ने लोक निर्माण, सिंचाई, पशुपालन, स्कूली शिक्षा, कौशल तथा तकनीकी शिक्षा विभाग को 24 घण्टे की डेडलाइन देते हुए अवशेष 383.11...

इटली में तोड़ी गई राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा, लगाये गए खालिस्तानी नारे

0
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इटली दौरे से ठीक पहले एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना सामने आई है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बुधवार को खालिस्तानी चरमपंथियों ने...

IRDAI ने पॉलिसीधारकों को दी आजादी, कभी भी कैंसिल करा सकते है पॉलिसी

0
देशभर के करोड़ों इंश्योरेंस पॉलिसीधारकों के लिए एक राहत की खबर है. बीमा नियामक संस्था, भारतीय बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने लोगों...

उत्तरप्रदेश: अखिलेश यादव ने करहल विधानसभा सीट से दिया इस्तीफा

0
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अब केंद्र की राजनीति करने का निर्णय लिया है। उन्होंने करहल विधानसभा सीट की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया...

दक्षिणी कुवैत की एक बिल्‍डिंग में लगी भीषण आग, 4 भारतीय समेत 41 लोगों...

0
दक्षिणी कुवैत की एक बिल्‍ड‍िंग में लगी भीषण आग में 4 भारतीय समेत 35 लोगों की मौत हो गई. इस भीषण अग्‍न‍िकांड में बिल्डिंग...

30 जून के बाद कबाड़ हो जाएंगे इतने कार्ड, नहीं मिलेगा राशन-जरूर करा ले...

0
देश में करोड़ों की संख्या में ऐसे लोग हैं जो वास्तव में फ्री राशन के लिए पात्र ही नहीं है. लेकिन इसके बावजूद भी...

इस साल चारधाम यात्रा में वाहनों के ग्रीन कार्ड का बना रिकॉर्ड, शुरू से...

0
इस बार चारधाम यात्रा में ग्रीन कार्ड बनने का रिकॉर्ड बना है। यह पर्यटन सेक्टर के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है, जो प्राकृतिक संसाधनों...