मोदी के तीसरी बार पीएम बनने पर पाकिस्तान ने बदले सुर, भारत से लगाई ये गुहार

नरेंद्र मोदी के रिकॉर्ड तीसरी बार प्रधानमंत्री चुने जाने के बाद पाकिस्तान ने शुक्रवार को घोषणा की कि वह भारत सहित सभी पड़ोसियों के साथ ‘सहयोगात्मक संबंध’ और बातचीत के माध्यम से विवादों का समाधान चाहता है. जो कि एक महत्वपूर्ण राजनीतिक घटनाक्रम है. पाकिस्तान के इस बयान के पीछे की मंशा और संभावनाओं पर एक विस्तृत दृष्टिकोण प्रस्तुत किया गया है.

बता दें कि पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता अपनी साप्ताहिक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि भारत की ओर से आने वाली कठिनाइयों और बयानबाजी के बावजूद पाकिस्तान जिम्मेदाराना तरीके से काम कर रहा है.

आपको बता दें कि पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मुमताज जहरा बलूच ने अपनी साप्ताहिक प्रेस वार्ता में कहा, ”भारत की ओर से आने वाली कठिनाइयों और बयानबाजी के बावजूद पाकिस्तान जिम्मेदाराना तरीके से काम कर रहा है.” आगे उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान हमेशा से भारत समेत अपने सभी पड़ोसियों के साथ सहयोगात्मक संबंध चाहता रहा है.

बलूच ने कहा, ”हमने जम्मू-कश्मीर जैसे प्रमुख विवाद समेत सभी लंबित मुद्दों को सुलझाने के लिए लगातार रचनात्मक बातचीत और सहभागिता की वकालत की है.”

पाकिस्तान ने भारत सरकार द्वारा पांच अगस्त, 2019 को अनुच्छेद 370 के कुछ प्रावधानों को निरस्त किये जाने के बाद भारत के साथ अपने संबंधों को कमतर कर दिया था. पाकिस्तान का मानना ​​है कि इस फैसले ने पड़ोसियों के बीच बातचीत के माहौल को कमजोर किया है. बलूच ने कहा, ”पाकिस्तान शांति बनाए रखने में विश्वास करता है. हमें उम्मीद है कि भारत दोनों देशों की जनता के पारस्परिक लाभ के लिए शांति को बनाए रखने और वार्ता को आगे बढ़ाने और लंबे समय से चले आ रहे विवादों के समाधान के लिए अनुकूल वातावरण बनाने को लेकर कदम उठाएगा.”

भारत की प्रतिक्रिया
वहीं भारत लगातार कहता रहा है कि वह पाकिस्तान के साथ सामान्य पड़ोसियों जैसे संबंध चाहता है, लेकिन वह इस बात पर जोर देता रहा है कि इस प्रकार के संबंधों के लिए आतंकवाद और शत्रुता से मुक्त वातावरण बनाने की जिम्मेदारी इस्लामाबाद की है. भारत का मानना है कि जब तक पाकिस्तान आतंकवाद का समर्थन बंद नहीं करता और शांति की दिशा में ठोस कदम नहीं उठाता, तब तक रिश्तों में सुधार संभव नहीं है.

शांति की ओर पाकिस्तान का कदम

पाकिस्तान का यह बयान ऐसे समय में आया है जब दोनों देशों के बीच संबंध तनावपूर्ण हैं. इस बयान से यह संकेत मिलता है कि पाकिस्तान अपनी विदेश नीति में कुछ बदलाव करना चाहता है. हालांकि, इसके पीछे की मंशा और इसे लागू करने की गंभीरता पर सवाल उठना लाजमी है. दोनों देशों के बीच शांति और सहयोग के लिए कई बाधाएं हैं, जिनमें सबसे प्रमुख है आतंकवाद का मुद्दा.

भविष्य की संभावनाएं

आपको बताते चले कि पाकिस्तान और भारत के बीच शांति और सहयोग की दिशा में किसी भी प्रगति के लिए दोनों देशों को आपसी विश्वास और सहयोग का माहौल बनाना होगा. पाकिस्तान को आतंकवाद के मुद्दे पर स्पष्ट और ठोस कदम उठाने होंगे. वहीं भारत को भी बातचीत के लिए एक अनुकूल वातावरण तैयार करना होगा. दोनों देशों के नेताओं को जनता की भलाई के लिए आपसी मुद्दों का समाधान करना होगा.

Related Articles

Latest Articles

Tamil Nadu Hooch Case: जेपी नड्डा ने खड़गे को लिखा पत्र, कांग्रेस पार्टी की...

0
तमिलनाडु में अवैध शराब से हुई मौतों को लेकर केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को...

सीएम केजरीवाल को सुप्रीमकोर्ट से फिलहाल राहत नहीं, अगली सुनवाई 26 जून को

0
दिल्ली| सोमवार को सीएम अरविंद केजरीवाल की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. हालांकि, कोर्ट से केजरीवाल को फिलहाल कोई राहत नहीं...

नैनीताल: कैंचीधाम भक्तों के लिए खुशखबरी, नहीं फंसेंगे जाम में…

0
नैनीताल| कैंचीधाम का जाम परेशानी का कारण बना हुआ है. जिससे श्रद्धालु ही नहीं बल्कि पहाड़ी जिलों के लोग भी परेशान हैं. लेकिन...

T20 WC 2024: साउथ अफ्रीका से हारकर वेस्टइंडीज वर्ल्ड कप से बाहर

0
एंटीगुआ|.... टी20 विश्व कप 2024 के सुपर 8 में 24 जून का पहला मैच वेस्टइंडीज और साउथ अफ्रीका के बीच एंटीगुआ में खेला गया....

T20 WC 2024-Eng Vs USA: बटलर का तूफान, इंग्लैंड सेमीफाइनल में

0
टी 20 विश्व कप 2024 के सुपर 8 में 23 जून की शाम को इंग्लैंड और अमेरिका के बीच मैच खेला गया. इस मैच...

18वीं लोकसभा सत्र से पहले पीएम मोदी का संबोधन, कहा- संसदीय लोकतंत्र में आज...

0
18वीं लोकसभा का पहला सत्र आज यानी सोमवार से शुरू हो रहा है. सत्र के पहले दिन पीएम नरेंद्र मोदी समेत सभी नवनिर्वाचित सांसद...

बीजेपी के भर्तृहरि महताब बनें प्रोटेम स्पीकर, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने शपथ दिलाई

0
सोमवार (24 जून ) से 18वीं लोकसभा का सत्र शुरू होने वाला है. बीजेपी के भर्तृहरि महताब ने प्रोटेम स्पीकर की शपथ ली. उन्हें...

रूस आतंकी हमलों से दहला, 9 की मौत-25 से ज्यादा घायल

0
रूस आतंकी हमलों से दहल गया है. रूस के दो बड़े जगहों पर आतंकी हमले हुए हैं, जिसमें अब तक मिली जानकारी के मुताबिक...

राशिफल 24-06-2024: आज भोलेनाथ की इन राशियों पर रहेगी विशेष कृपा

0
1. मेष-:पिताजी की सेहत को लेकर थोड़े सावधान रहें. खर्च बढ़ने के कारण आप आवश्यक कार्यों पर कम ध्यान दे सकते हैं. हालांकि आपको...

24 जून 2024 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 24 जून 2024 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...