क्रेज बरकरार: 15 साल पहले एपल आईफोन का सफर हुआ था शुरू, आज भी इसे लेने के लिए लगती हैं लाइनें

मौजूदा समय में दुनिया मोबाइल फोन चलाने में सबसे ज्यादा व्यस्त है. मोबाइल में आईफोन का क्रेज सबसे अधिक बना हुआ है. भारत समेत विश्व के करोड़ों युवाओं के हाथ में आईफोन मिल जाएंगे. आईफोन की अगर आज बात चली है तो एपल कंपनी को कौन भूल सकता है.

एपल कंपनी के संस्थापक दिवंगत स्टीव जॉब्स के विचार करोड़ों युवाओं के हमेशा आदर्श रहेंगे. आज भले ही हमारे बीच स्टीव जॉब्स नहीं हैं लेकिन उनके आईफोन की पूरी दुनिया दीवानी है. पिछले एक दशक से जब-जब एपल आईफोन का नया वर्जन लॉन्च होता है तब अमेरिका के कई शहरों में इसे लेने के लिए रात से ही लोगों की लाइनें लग जाती है.

एक दशक से एपल के आईफोन की दुनिया में सबसे अधिक डिमांड है. स्टीव जॉब्स ने आईफोन को पहली बार 29 जून 2007 को आज ही के दिन लॉन्च किया था. 15 साल पहले शुरू हुई इस आईफोन को लेने की दीवानगी आज भी बरकरार है.

यह भी पढ़ें -  उप मुख्यमंत्री बनते ही तेजस्वी यादव की मुश्किलें बढ़ी, पढ़े पूरी खबर

पहले आईफोन को लेने के लिए अमेरिका में एपल के स्टोर्स पर लंबी लाइनें लग गईं. पहली बार किसी फोन के लिए लोगों में इतना पागलपन देखा गया. इस आईफोन में 3.5 इंच का टचस्क्रीन डिस्प्ले और 2 मेगापिक्सल का रियर कैमरा था. फोन को 4GB और 8GB स्टोरेज के दो वैरिएंट में लॉन्च किया गया. इसमें बैक और एग्जिट के लिए होम बटन दिया था. यह बाद में आईफोन का आइकॉनिक बटन भी बन गया.

15 महीनों में ही एपल ने करीब 60 लाख आईफोन बेच दिए थे. उसके बाद से अभी तक एपल कई लेटेस्ट आईफोन लॉन्च कर चुका है. जब-जब इस कंपनी के आईफोन लॉन्च होते हैं इसे लेने के लिए आज भी कई देशों में होड़ लग जाती है.

यह भी पढ़ें -  UIDAI: इस वित्तवर्ष के शुरुआती चार महीनों में बाल आधार पहल के तहत 79 लाख से अधिक बच्चों का किया पंजीकरण

स्टीव जॉब्स ने अपने दोस्तों के साथ साल 1976 में एपल कंपनी की स्थापना की थी

साल 1976 में स्टीव जॉब्स ने अपने दोस्तों के साथ एपल कंपनी की स्थापना की थी. लाखों युवाओं के प्रेरणा स्रोत रहे स्टीव जॉब्स का भारत से गहरा लगाव था. एपल कंपनी के संस्थापक स्टीव जॉब्स 1974 से 1976 के बीच भारत भ्रमण पर आए थे. वह भारत अध्यात्मिक खोज में आए थे. उन्हें एक सच्चे गुरु की तलाश थी. स्टीव पहले हरिद्वार पहुंचे और इसके बाद वह नैनीताल के कैंची धाम तक पहुंच गए. यहां पहुंचकर उन्हें पता लगा कि बाबा नीम करौली समाधि ले चुके हैं. स्टीव को एपल के (लोगो) का आइडिया बाबा के आश्रम से ही मिला था. नीम करौली बाबा को सेब बहुत पसंद थे यही वजह थी कि स्टीव ने अपनी कंपनी के लोगों के लिए कटे हुए एपल को चुना. बता दें कि आज एपल कंपनी का पूरे दुनिया भर में कंप्यूटर और मोबाइल फोन के क्षेत्र में दबदबा है. 56 साल आयु में 5 अक्टूबर 2011 को स्टीव जॉब्स ने दुनिया को अलविदा कह दिया. आज भले ही जॉब्स दुनिया में नहीं है लेकिन उनके आईफोन युवाओं में सबसे अधिक लोकप्रिय बने हुए हैं.

यह भी पढ़ें -  आज उत्तराखंड में अग्निपथ योजना होने जा रही लॉन्च, कोटद्वार में सीएम धामी करेंगे शुभारंभ

–शंभू नाथ गौतम

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,244FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

राशिफल 18-08-2022: आज इन राशियों के पूरे होंगे सभी काम

0
मेष: आज के दिन संतान की तरफ से कोई शुभ समाचार मिल सकता है. सामाजिक कार्यों में सहयोग दें. आर्थिक स्थिति बेहतर होगी. वृष:...

18 अगस्त 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 18 अगस्त 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

मुख्य सचिव ने की उत्तराखण्ड लैंडस्लाइड मिटिगेशन एंड मैनेजमेंट सेंटर की प्रगति की समीक्षा

0
देहरादून| बुधवार को मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने सचिवालय में उत्तराखण्ड लैंडस्लाइड मिटिगेशन एंड मैनेजमेंट सेंटर की प्रगति की समीक्षा की....

सीएम धामी ने कोटद्वार में अग्निवीरो के भर्ती कार्यक्रम में उपस्थित होकर युवाओं का...

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूरी भूषण, सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी एवं महिला बाल विकास मंत्री रेखा आर्य के...

उत्तराखंड में जन्माष्टमी की छुट्टी में हुआ बदलाव, आदेश जारी

0
देहरादून| उत्तराखंड में कृष्ण जन्माष्टमी की छुट्टी अब 19 अगस्त को घोषित की गई है. पहले यह छुट्टी 18 अगस्त को तय की गई...

हल्द्वानी: 38 साल बाद ‘सियाचिन हीरो’ चंद्रशेखर हरबोला पंचतत्व में विलीन, बेटियों ने दी...

0
हल्द्वानी| लांस नायक चंद्रशेखर हरबोला का अंतिम संस्कार पूरे सैनिक सम्मान के साथ आज रानीबाग के चित्रशिला घाट पर किया गया. शहीद लांसनायक चंद्रशेखर...

सीएम धामी ने लांसनायक चन्द्रशेखर हर्बोला के पार्थिव देह पर पुष्पचक्र अर्पित कर दी...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने 1984 में सियाचिन में ऑपरेशन मेघदूत के दौरान शहीद हुए लांसनायक चन्द्रशेखर हर्बोला के पार्थिव देह पर पुष्पचक्र अर्पित...

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की सुरक्षा में हुई चूक पर 3 कमांडो बर्खास्त

0
भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की सुरक्षा में चूक के मामले में गृह मंत्रालय ने एक्शन लेते हुए 3 कमांडो को सर्विस...

बढ़ते कोरोना के मामलों को देख डीजीसीए सख्त, एयरलाइन्स को दिए ये निर्देश

0
देश में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए नागर विमानन महानिदेशालय यानी डीजीसीए सख्त हो गया है. डीजीसीए ने एयलाइन्स को निर्देश दिए...

क्या अब 5 साल तक के बच्चों की भी लेनी होगी ट्रेन टिकट! जानिए...

0
कई लोग ट्रेन से यात्रियों के साथ सफर करते हैं. बच्चों के साथ आरामदायक यात्रा के लिए भारतीय रेलवे कई सुविधाएं प्रदान करती है,...
%d bloggers like this: