spot_imgspot_img

रुद्रप्रयाग: पंचकेदार में सर्वोपरी है मदमहेश्वर धाम, होती है शिव की नाभि की पूजा

गढ़वाल के सुरम्य पर्वतांचल में स्थित मदमहेश्वर पंचकेदार में सर्वोपरी है. पंचकेदार में केदारनाथ,मदमहेश्वर, रुद्रनाथ, तुंगनाथ और कल्पेश्वर शामिल हैं। इन पांच केदारों में शिव के अलग-अलग अंगों की पूजा की जाती है. केदारनाथ में शिव के पृष्ठ भाग की, तुंगनाथ में उनकी भुजाओं की, रुद्रनाथ में उनके मुख की, कल्पेश्वर में जटाओं की और मदमहेश्वर में उनकी नाभि की पूजा होती है. पंचकेदारों की अनोखी और प्राकृतिक दृश्यावलियां बरबस ही पर्यटकों के मन मोह लेती हैं.

भगवान मदमहेश्वर की कथा-:
किंवदंतियों के अनुसार, जब भगवान शिव खुद को पांडवों से छिपाना चाहते थे, तब बचने के लिए उन्होंने स्वयं को केदारनाथ में दफन कर लिया, बाद में उनका शरीर मदमहेश्वर में दिखाई पड़ा. एक मान्यता के मुताबिक मदमहेश्वर में शिव ने अपनी मधुचंद्ररात्रि मनाई थी. कहा जाता है कि जो व्यक्ति भक्ति से या बिना भक्ति के ही मदमहेश्वर के माहात्म्य को पढ़ता या सुनता है उसे शिवलोक की प्राप्ति होती है.

यहां भगवान शिव के दर्शन के लिए आपको गर्मियों में जाना होगा क्योंकि मदमहेश्वर मंदिर सर्दी के मौसम में बंद रहता है. शीतकाल में मंदिर के अंदर रखी रजत की मूर्तियों को उखीमठ स्थित ओंकारेश्वर मंदिर में स्थानांतरित कर दिया जाता है. वहीं ग्रीष्मकाल में पौराणिक विधि विधान के साथ मदमहेश्वर मंदिर खोला जाता है जहां देश-विदेश के शिव भक्त भगवान मदमहेश्वर के दर्शन कर विशेष पुण्य लाभ लेने हर वर्ष पहुंचते हैं.

मदमहेश्वर में पिंडदान से मिलेगा विशेष लाभ-:
कहते हैं कि जो व्यक्ति इस क्षेत्र में पिंडदान करता है वह पिता की सौ पीढ़ी पहले के और सौ पीढ़ी बाद के तथा सौ पीढ़ी माता के तथा सौ पीढ़ी श्वसुर के वंशजों को तरा देता है.

“शतवंश्या: परा: शतवंश्या महेश्वरि:. मातृवंश्या: शतंचैव तथा श्वसुरवंशका:..

तरिता: पितरस्तेन घोरात्संसारसागरात्. यैरत्र पिंडदानाद्या: क्रिया देवि कृता: प्रिये..” (केदारखंड, ४८,५०-५१).

कैसे पहुंचे मदमहेश्वर धाम-:
मदमहेश्वर जाने के लिए सबसे पहले दिल्ली से हरिद्वार, ऋषिकेश होते हुए रुद्रप्रयाग जाना पड़ेगा. रुद्रप्रयाग से केदारनाथ जाने वाली सड़क पर गुप्तकाशी से कुछ पहले कुण्ड नामक जगह आती है जहां से ऊखीमठ के लिए सड़क अलग होती है. ऊखीमठ में मुख्य बाजार से सीधा रास्ता उनियाना जाता है जो मदमहेश्वर यात्रा का आधार स्थल है. उनियाना से मदमहेश्वर की दूरी 23 किलोमीटर है जो पैदल नापी जाती है.

यह भी पढ़ें -  राजस्थान-एमपी में दो बड़े हादसे, सुखोई-30 और मिराज 2000 समेत 3 विमान क्रैश

यहां केवल सीजन में ही जाया जा सकता है. मदमहेश्वर के कपाट जब भी खुलते हैं, आप जा सकते हैं. आमतौर पर मदमहेश्वर के कपाट केदारनाथ के लगभग साथ ही खुलते हैं और केदारनाथ के कपाट बन्द होने के बाद बन्द होते हैं. अगर चार धाम यात्रा सीजन के अलावा आप वहां जाना चाहते हैं तो रुद्रप्रयाग जिला मुख्यालय से अनुमति लेनी पड़ेगी.

यह भी पढ़ें -  राशिफल 29-01-2023: आज सूर्य देव करेंगे इनका कल्याण, पढ़ें दैनिक राशिफल

प्राकृतिक सौन्दर्य मन मोह लेगा. यहां जितना सुकून आपको भगवान के दर्शन से मिलेगा उतना ही मनमोहक यहां का वातावरण भी है. दूर दूर तक फैली पहाड़ी चोटियां और प्राकृतिक नज़ारा देख आप एक बारगी अपने दुख और तकलीफों को भूल जाएंगे.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,250FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

राशिफल 29-01-2023: आज सूर्य देव करेंगे इनका कल्याण, पढ़ें दैनिक राशिफल

0
मेष- किसी मित्र के सहयोग से कारोबार के अवसर मिल सकते हैं. माता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें. माता को स्वास्थ्य विकार हो सकते...

29 जनवरी 2023 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 29 जनवरी 2023 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

पीएम मोदी ने 75 रुपए का स्पेशल सिक्का किया जारी, जानें इसके बारे में

0
शनिवार को एनसीसी के 75 सफल वर्षों के उपलक्ष्य में पीएम मोदी ने 75 रुपए का विशेष सिक्का जारी किया है. बताया जा रहा...

एनसीसी दिवस पर बोले पीएम मोदी, भारत के युवाओं के कारण दुनिया हमारी तरफ...

0
शनिवार को पीएम मोदी करियप्पा परेड ग्राउंड में एनसीसी की वार्षिक रैली में शामिल हुए. इस दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद रहे....

बाटला हाउस एनकाउंटर मामले के आरोपी की एम्स में इलाज के दौरान...

0
बाटला हाउस एनकाउंटर मामले में दोषी ठहराए गए आरोपी की मौत की खबर सामने आई है. इंडियन मुजाहिदीन का आतंकी शहजाद अहमद की एम्स...

उत्तराखंड: धामी सरकार ने दिया था खास तोहफा, महिलायों ने जताया सीएम का आभार

0
शनिवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय स्थित मुख्य सेवक सदन में भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा द्वारा आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग...

त्रिपुरा विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने जारी की 17 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट

0
त्रिपुरा में 16 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपने उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी है. पार्टी ने...

त्रिपुरा विधानसभा चुनाव: बीजेपी ने 48 सीटों पर जारी की अपने उम्मीदवारों की पहली...

0
त्रिपुरा में 16 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी ने 60 सीटों में से 48 सीटों पर अपने उम्मीदवारों की पहली...

उत्तराखण्ड की झांकी के कलाकारों ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से राष्ट्रपति भवन में...

0
शनिवार को नई दिल्ली में उत्तराखण्ड सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग के संयुक्त निदेशक एवं झांकी के टीम लीडर के.एस. चौहान के नेतृत्व में...

टॉलीवुड एक्टर तारक रत्न को पड़ा दिल का दौरा, अस्पताल में चल रहा इलाज

0
नंदामुरी परिवार के सदस्य एक्टर तारक रत्न को दिल का दौरा पड़ने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बता दें कि तारक...
%d bloggers like this: