जानिए ‘नर कंकालों’ वाली रूपकुंड झील’ का रहस्य

भारत बहुत सारी रहस्मयी घटनाओं के लिए जाना जाता है. इन्हीं में से एक है यहां की अनोखी झील, जो कि कंकालों से भरी हुई है. यह झील हिमालय की चोटियों में स्थित है, जिसे रूपकुंड झील के नाम से जाना जाता है. इसे खास तौर पर यहां मौजूद कंकालों की वजह से पहचान मिली है. भारत की सबसे ऊंची झीलों में सुमार रूपकुंड झील समुद्र से 5000 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है.

इस झील के आस- पास कई कंकाल बिखरे नजर आते हैं इसलिए इसे कंकालों वाली झील भी कहते हैं. क्या है इस झील का राज और कैसे ऐसी स्थिति निर्मित हुई. कंकालों से घिरी इस झील के बारे में आइए जानते हैं.

क्या है इसके पीछे का राज
इस झील के बारे में कई कहानियां बताई जाती हैं, इसी में से एक कहानी है वहां के राजा की. कहा जाता है कि राजा ने एक बार झील के पास बने नंदा देवी मंदिर जाकर दर्शन करने का सोचा. नंदा देवी को पहाड़ों की देवी माना जाता है, जब राजा पहाड़ चढ़ने निकले तो उनके साथ उनके यहां काम करने वाले लोग भी साथ जाने लगे. ऐसा माना जाता है पूरे रास्ते उन्होंने खुब हुड़दंग मचाया जिससे नंदा देवी नाराज हो गईं और उन्होंने उन सब पर क्रोध में बिजली गिरा दी जिससे सभी की मौत हो गई.

यह भी पढ़ें -  भारत में जल्द शुरू होगा 5G रोलआउट, आईटी मिनिस्टर अश्विनी वैष्णव ने दी जानकारी

वहीं कुछ लोग बताते हैं कि यह हड्डियां महामारी की चपेट में आए लोगों की है, जो महामारी की वजह से मारे गए थे और कुछ लोगों का यह भी कहना है कि यह हड्डियां सेना के जवानों की हैं, जिनकी मृत्यु बर्फ के तूफान में फसने से हुई थी.

यह भी पढ़ें -  दिल्ली में जल्द महंगा हो जाएगा ऑटो-रिक्शा और टैक्सी का सफर! जानिए नए रेट

पहली बार इन कंकालों के बारे में 1942 में पता चला था कहा जाता है एक ब्रिटिश फॉरेस्ट गार्ड ने इसके बारे में सबको बताया था. लोगों को लगा कि यह कंकाल जापान के सैनिकों का हो सकता है. ऐसा माना गया कि जो सैनिक दूसरे विश्व युद्ध के दौरान वहां से गुजर रहे थे वह बर्फ की चपेट में फस कर वहीं मर गए होंगे.

कब आए होंगे यह लोग?
कई सालों से वैज्ञानिक इन कंकालों पर रिसर्च कर रहें हैं, रिसर्च से यह पता चलता है कि यह सभी कंकाल एक देश के नहीं हैं. यह भारत और उसके आस- पास के देशों के हैं. कुछ कंकाल को ग्रीस और साउथ ईस्ट का बताया गया है.

यह भी पढ़ें -  बीजेपी में जल्द होगा पंजाब लोक कांग्रेस का विलय, कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दिए संकेत

यह सारे कंकाल वहां एक समय पर नहीं आए हैं ऐसा बताया जाता है कि भारत और उसके पास के इलाकों के कंकाल 7वीं से 10वीं शताब्दी में वहां आए थे, ग्रीस और अन्य इलाकों के कंकाल 17वीं से 20वीं शताब्दी में वहां आए थे. अभी तक यह बात साफ नहीं हो पाई है की इन लोगों की मौत कैसे हुई, लेकिन रिसर्च में यह बात साफ हो गई है कि यह किसी महामारी से नहीं मरे. सिर्फ लोगों द्वारा इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि इनकी मृत्यु बर्फ में दबने की वजह से हो सकती है.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,229FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

राशिफल 03-07-2022: आज सूर्य देव की कृपा से इन राशियों का चमकेगा भाग्य

0
मेष- आत्मविश्वास भरपूर रहेगा. माता का सानिध्य मिलेगा. कारोबार में वृद्धि होगी. परिश्रम अधिक रहेगा. स्वास्थ्य का ध्यान रखें. क्षणे रुष्टा-क्षणे तुष्टा की मन...

3 जुलाई 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 3 जुलाई 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान...

Ind Vs Eng-5th Test: दूसरे दिन का खेल खत्म, टीम इंडिया का दबदबा-सैकड़े से...

0
मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ अधूरी छूटी सीरीज के पांचवें टेस्ट के दूसरे दिन एजबस्टन में दूसरे दिन बारिश के तीन बार अड़ंगा डालने के...

मोहम्मद जुबैर की जमानत याचिका खारिज, कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में...

0
शनिवार को दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट के मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट (CMM) ने ऑल्ट न्यूज़ के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर की जमानत याचिका खारिज कर...

प्रशासनिक फेरबदल: योगी सरकार ने फिर 21 आईपीएस अफसरों के किए तबादले, कई जिलों...

0
उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने एक बार फिर पुलिस विभाग में बड़े पैमाने पर ट्रांसफर किए हैं. ‌शनिवार को योगी सरकार ने यूपी...

फूटा गुस्सा: जयपुर एनआईए कोर्ट में पुलिस के सामने ही लोगों ने कन्हैयालाल के...

0
5 दिनों पहले राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल टेलर की हत्या के बाद पूरे देश भर में अभी भी गुस्सा बरकरार हैं. एक बार...

बीएसएफ ने दिखाई दरियादिली, अनजाने में भटककर भारतीय क्षेत्र में आए बच्चे को पाक...

0
पाकिस्तान से भारतीय सीमा में घुसपैठ की हमेशा ही खबरे आती रहती है. भारतीय सीमा पर सुरक्षा बल मुस्तैदी से अपनी नजर बनाए रखते...

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर ममता बनर्जी की अहम टिप्पणी, द्रौपदी मुर्मू पर राजी हो...

0
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राष्ट्रपति चुनाव को लेकर अहम टिप्पणी की है. उन्होंने शुक्रवार को कहा कि यदि एनडीए की ओर...

Ind Vs Eng: युवराज के बाद बुमराह पड़े ब्रॉड के पीछे, टेस्ट मैच में...

0
बर्मिंघम|….. जसप्रीत बुमराह ने इंग्लैंड की धरती पर बल्ले से कोहराम मचा दिया है. भारतीय टीम इंग्लैंड के खिलाफ 5वें टेस्ट में 416 रन...

राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक आज से: हैदराबाद में पीएम मोदी, शाह, नड्डा, सीएम योगी और...

0
पिछले दिनों महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी (महा विकास आघाडी) की सरकार को हटाने के बाद भारतीय जनता पार्टी खेमे में जश्न का...
%d bloggers like this: