नैनीताल हाईकोर्ट ने उत्तराखंड सरकार समेत 3 पूर्व सीएम को जारी किया अवमानना का नोटिस

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्रियों से बकाया वसूली के मामले ने हाईकोर्ट ने उत्तराखंड सरकार, मुख्य सचिव और तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों को अवमानना का नोटिस जारी किया है. जस्टिस शरद शर्मा की कोर्ट ने तीन हफ्तों में नोटिस पर जवाब दाखिल करने का आदेश दिया है. कोर्ट ने पूछा है कि क्यों न आप पर अवमानना की कार्रवाई शुरू की जाए. याचिका में पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा , रमेश पोखरियाल निशंक , बीसी खण्डूरी और राज्य के मुख्य सचिव ओमप्रकाश को पक्षकार बनाया गया है.

इस मामले में एक और पूर्व मुख्यमंत्री और महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को रुलक संस्था ने 361 के तहत पहले ही नोटिस भेजा है. उनके खिलाफ दो महीने बाद हाईकोर्ट में याचिका दाखिल होगी.

दरअसल रुलेक (रुरल लिटिगेशन इंटाइटलमेंट केन्द्र) ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर कहा था कि पूर्व मुख्यमंत्रियों को मिलने वाली सुविधाएं असंवैधानिक हैं. लिहाजा उनसे बाजार रेट से पूरा किराया और अन्य सुविधाओं का पैसा लिया जाए. उत्तराखण्ड हाईकोर्ट ने रुलेक संस्था की याचिका पर फैसला देते हुए 3 मई 2019 को सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों का आदेश दिया था कि 6 महिने के भीतर पूरा बकाया बाजार भाव से जमा करें.

कोर्ट ने यह भी कहा था कि अगर ये लोग पैसा जमा नहीं करते हैं, तो इन पर कानूनी कार्रवाई की जाए. कोर्ट ने अपने 56 पेज के निर्णय में लिखा था कि इन पूर्व मुख्यमंत्रियों से बिजली, पानी, गाड़ी, पेट्रोल, मोबाइल सुविधा का सरकार मूल्यांकन कर इनसे ये पैसे भी वसूले.

कोर्ट ने पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा पर टिप्पणी करते हुए कहा कि बहुगुणा ने मुख्यमंत्री रहते हुए बंगला अपने नाम करवा लिया था. यह चिन्ता का विषय है. पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के निधन के बाद कोर्ट ने कहा कि एनडी तिवारी का निधन हो गया है तो उनके वारिस व उनकी सम्पत्ति से यह पैसा वसूला जाए.

उत्तराखंड हाईकोर्ट के 3 मई 2019 के फैसले को निष्प्रभावी करने के लिए राज्य सरकार 5 सितम्बर 2019 को एक अध्यादेश ले आई. इस अध्यादेश को कोर्ट में चुनौती मिली तो सुनवाई पूरी होने के दौरान राज्य सरकार 13 जनवरी 2020 को पूर्व सीएम बकाया एक्ट लेकर आ गई. इसे भी हाईकोर्ट में चुनौती दी गई और अधिवक्ता कार्तिकेय हरी गुप्ता ने कोर्ट में कहा कि सिर्फ हाईकोर्ट के आदेश को ओवररुल करने के लिये ये एक्ट लाया गया है, जो असंवैधानिक है. इसे निरस्त कर दिया जाए. सरकार ने भी इस पर अपनी दलील कोर्ट में दी, लेकिन कोर्ट ने एक्ट को भी असंवैधानिक मानते हुए निरस्त कर दिया.

हाईकोर्ट में रुलेक संस्था ने बताया था कि इन पूर्व मुख्यमंत्रियों पर 16 करोड़ से ज्यादा का बकाया है. इसमें पूर्व सीएम निशंक पर 40 लाख 95 हजार, बीसी खण्डूरी 46 लाख 59 हजार, विजय बहुगुणा पर 37 लाख 50 हजार, भगत सिंह कोश्यारी 47 लाख 57 हजार, एनडी तिवारी पर 1 करोड़ 13 लाख का बकाया है. इसके अलावा गाड़ी, पेट्रोल, टेलिफोन, बिजली, पानी का खर्च राज्य सरकार को अलग से वसूलना होगा.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,251FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

बड़ी खबर: उत्तराखंड में हर साल बढ़ेगा यात्री किराया और मालभाड़ा, एसटीए की बैठक...

0
देहरादून| प्रदेश में अब हर साल एक अप्रैल को यात्री किराया और मालभाड़ा बढ़ जाएगा. राज्य परिवहन प्राधिकरण (एसटीए) की बैठक में इसे सैद्धांतिक...

ऋचा चड्ढा को सपोर्ट करना ब्यूटी ब्रांड मामाअर्थ को पड़ा भारी, बॉयकॉट के बाद...

0
भारतीय सेना पर बॉलीवुड एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा की टिप्पणी के समर्थन में उतरा ब्यूटी प्रोडक्ट कंपनी मामाअर्थ (Mamaearth) अब लोगों के निशाने पर...

GATE Jam 2023: गेट जैम परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्रों की सूची हुई अपडेट,...

0
आईआईटी की ओर से फरवरी में आयोजित की जाने वाली आईआईटी गेट जैम परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्रों की सूची अपडेट की गई है....

अंतरिक्ष में ISRO की एक और उड़ान, श्रीहरि कोटा से 8 नैनो सैटेलाइट समेत...

0
ISRO ने एकर बार फिर इतिहास रचा। बता दें, श्रीहरि कोटा से ओशनसैट-3 समेत 8 नैनो सैटेलाइट को लॉन्च किया गया है। इसी के...

UP News: लोहा गलाने की भट्टी में गिरने से मैनेजर की मौत

0
उत्तरप्रदेश में स्थित हापुड़ जिले से एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। जहां लोहा गलाने वाली फैक्ट्री की भट्टी में गिरने से...

दिल्ली: सत्येंद्र जैन को कोर्ट से लगा बड़ा झटका, नहीं मिलेगा धार्मिक मान्यताओं के...

0
मनी लॉन्ड्रिंग केस में जेल के अंदर दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन को दिल्ली की एक कोर्ट ने झटका मिला है. राउज एवेन्यू...

रहस्यों से भरा है हैदराबाद का गोलकोंडा किला, जानें इसकी अनोखी खूबियों के बारे...

0
प्राचीन काल से ही भारत किलों और स्मारकों का देश माना जाता है, ऐसा इसलिए क्योंकि हमारे देश में अंग्रेजों से पहले अलग-अलग इलाकों...

फिल्म इंडस्ट्री के जाने माने अभिनेता विक्रम गोखले का निधन, 77 साल की उम्र...

0
सिनेमा जगत से एक दुखद खबर सामने आई है. टेलीविजन और फिल्म इंडस्ट्री के जाने माने अभिनेता विक्रम गोखले का निधन हो गया है....

रामेश्वरम: मछुआरों ने लगाया श्रीलंकाई सेना पर हमले का आरोप, जैसे तैसे बचायी जान

0
रामेश्वरम के भारतीय मछुआरों ने श्रीलंकाई नौसेना पर आरोप लगाते हुए कहा की, आज श्रीलंकाई नौसेना ने तड़के उनकी नाव पर हमला किया। आरोप...

पेटीएम को लगा तगड़ा झटका! आरबीआई ने खारिज किया पेमेंट एग्रीगेटर लाइसेंस का आवेदन

0
भारतीय रिजर्व बैंक ने पेटीएम पेमेंट सर्विस (पीएसएसएल) द्वारा पेमेंट एग्रीगेटर लाइसेंस प्राप्त करने के लिए किए आवेदन को खारिज कर दिया है. इसे...
%d bloggers like this: