एयर स्ट्राइक: इस बार इजराइल ने फिलिस्तीन को जवाब देने के लिए चलाया “ऑपरेशन ब्रेकिंग डॉन” सुर्खियों में

करीब तीन दशक से इजराइल फिलिस्तीन और “हमास” समेत अन्य आतंकी संगठनों से जूझ रहा है. इसी को लेकर आए दिन इजराइल और फिलिस्तीन में गोलाबारी भी सुनाई देती है. हमास को लेकर कई देशों ने प्रतिबंध भी लगा रखा है.

यहूदी देश इजराइल अकेले ही फिलिस्तीन और हमास का मुकाबला करता रहा है. इजराइल ने एक बार फिर इस आतंकी संगठन और जवाब देने के लिए कमर कस ली है. ‌ हालांकि इस बार इजरायल का निशाना हमास नहीं है बल्कि फिलिस्तीनी का एक और आतंकी संगठन “इस्लामिक जिहाद ग्रुप” के खिलाफ इजराइल ने मोर्चा संभाला हुआ है.

गाजा पट्‌टी में इजराइल की एयर स्ट्राइक तीसरे दिन भी जारी रही. इसमें अब तक 36 लोग मारे जा चुके हैं. फिलिस्तीन की ओर से भी इजराइल पर रॉकेट अटैक हुए हैं. लड़ाई रोकने के लिए मध्यस्थ के तौर पर मिस्र का एक डेलिगेशन रविवार को गाजा पहुंचा.

यह भी पढ़ें -  यूपी: कानपुर में भीषण सड़क हादसा, ट्रैक्टर ट्रॉली के पलट जाने से 26 श्रद्धालुओं की मौत

इस बीच इजराइल के प्रधानमंत्री येर लैपिड ने कहा है कि इस्लामिक जिहाद के खिलाफ शुरू किए गए “ऑपरेशन ब्रेकिंग डॉन” ने अपने मकसद को हासिल कर लिया है. हम इसके लास्ट स्टेज में हैं. इजराइल का फिलिस्तीन को जवाब देने के लिए चलाया जा रहा ऑपरेशन ब्रेकिंग डॉन दुनिया भर में सुर्खियों में बना हुआ है. गजा पट्टी पर असली कब्जा एक अन्य मिलिशिया गुट हमास का है.

यह भी पढ़ें -  यूनिफार्म सिविल कोड: भारत के आखिरी गांव पहुंची समिति, समान नागरिक संहिता की दी जानकारी

हालांकि इजरायल ने इस पूरे ऑपरेशन में हमास को बिल्कुल भी निशाना नहीं बनाया. वो नहीं चाहता था कि संघर्ष फैले और इससे ज्यादा नुकसान हो. ये लड़ाई अभी फिलीस्तीनी इस्लामिक जिहाद ग्रुप और इजरायल के ही बीच चल रही है, जिससे हमास को दूर रखा गया है. फिलीस्तीनी इस्लामिक जिहाद ग्रुप हमास का भी प्रतिद्वंदी संगठन है.

बता दें कि साल 2019 में भी इजरायल ने जब फिलीस्तीनी इस्लामिक जिहाद ग्रुप के खिलाफ बड़ा ऑपरेशन चलाया था, तब भी हमास को उसने उससे दूर रखा था.

गौरतलब है कि हमास फिलिस्तीन में काम करने वाला एक हथियारबंद इस्लामिक चरमपंथी संगठन है. हमास शुरू से ही इजरायल के अस्तित्व का विरोध करता रहा है. यह पूरे फलस्तीनी क्षेत्र में इस्लामी राष्ट्र की स्थापना करना चाहता है. बता दें कि हमास का गठन 1987 के जन आंदोलन के दौरान शेख अहमद यासिन ने किया था.

यह भी पढ़ें -  सीएम ने किया गर्मजोशी से स्वागत: उत्तराखंड में फिल्म शूटिंग के लिए आए बॉलीवुड एक्टर नाना पाटेकर ने मुख्यमंत्री धामी से की मुलाकात

इसका प्रमुख उद्देश्य इजरायली कब्जे से फलस्तीनी क्षेत्र को छुड़ाकर इस्लामी देश की स्थापना करना है. हमास के मुख्य रूप से दो धड़े हैं, पहला- राजनीतिक और दूसरा सशस्त्र गुट. हमास की राजनीतिक इकाई ने गाजा पट्टी और वेस्ट बैंक इलाके में कई अस्पताल और स्कूल बनवाए हैं. इतना ही नहीं, हमास की राजनीतिक इकाई यहां के लोगों की सामाजिक और धार्मिक मामलों में सहायता करती है.

Related Articles

Advertisement

Advertisement

Stay Connected

58,944FansLike
3,243FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

Ind Vs SA 2 T20I: टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका को 16 रन से...

0
रविवार टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका को गुवाहाटी में खेले गए दूसरे टी20 मैच में 16 रन से हराकर 3 मैचों की सीरीज में...

महाराष्ट्र: सीएम एकनाथ शिंदे को मिली जान से मारने की धमकी, आत्मघाती धमाके की...

0
महाराष्ट्र के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की जान को बड़ा खतरा बताया जा रहा है. प्राप्त जानकारी के मुताबिक, मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे को आत्मघाती...

रामपुर तिराहा गोलीकांड: सीएम धामी ने शहीद राज्य आंदोलनकारियों को दी श्रद्धांजलि

0
रविवार को सीएम धामी ने शहीद स्थल रामपुर तिराहा मुजफ्फरनगर, उत्तर प्रदेश में उत्तराखण्ड राज्य आन्दोलकारी शहीदों की पुण्य स्मृति में आयोजित कार्यक्रम में...

पार्टी की मौजूदा व्यवस्था में बदलाव नहीं ला सकते हैं मल्लिकार्जुन खड़गे: शशि थरूर

0
कांग्रेस के अध्यक्ष चुनाव से पहले शशि थरूर ने रविवार को बताया कि मल्लिकार्जुन खड़गे जैसे नेता पार्टी की मौजूदा व्यवस्था में बदलाव क्यों...

सपा के वरिष्ठ नेता मुलायम सिंह यादव की स्थिति गंभीर, गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल...

0
समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता मुलायम सिंह यादव की स्थिति गंभीर हो गई है. सांस लेने में दिक्कत होने की वजह से उन्हें गुरुग्राम...

फोन को प्लेन में क्यों रखा जाता है ‘फ्लाइट मोड’! जानिए इसके पीछे का...

0
जब भी हम प्लाइट से ट्रेवल करते हैं तो यात्रा शुरू करने से पहले फ्लाइट अटेंडेंट की तरफ से कुछ दिशा-निर्देश दिए जाते हैं....

कुछ दिन पहले दिया था विवादित बयान: बिहार की नीतीश सरकार में कृषि मंत्री...

0
लगातार अपने बयानों से सुर्खियों में रहने वाले बिहार की नीतीश कुमार सरकार में कृषि मंत्री सुधाकर सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे...

सिद्धू मोसेवाला हत्याकांड: लॉरेन्स गैंग का दीपक टीनू पुलिस हिरासत से फरार

0
पंजाब पुलिस की हिरासत से सिद्धू मोसेवाला हत्याकांड का एक शूटर और लॉरेन्स बिश्नोई गैंग का गैंगस्टर फरार हो गया है. पुलिस हिरासत से...

Road Safety World Series Final: सचिन तेंदुलकर की इंडिया लीजेंड्स ने दूसरी बार जीता...

0
इंडिया लीजेंड्स ने रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज 2022 के फाइनल मैच में श्रीलंका लीजेंड्स को 33 रनों से हराकर दूसरी बार खिताब पर कब्जा...

उत्तराखंड: उत्तरकाशी में भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर 2.5 रही तीव्रता

0
उत्तरकाशी| उत्तराखंड स्थित उत्तरकाशी में जनपद मुख्यालय में रविवार सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूकंप के झटकों के बाद लोग घरों के...
%d bloggers like this: