कमलनाथ के ‘आयटम बयान’ पर उपचुनाव में शिवराज की ‘मौन पॉलिटिक्स’ कितनी असरदार!

सत्ता पक्ष हो या विपक्ष उसको अगर ऐसा मुद्दा मिल जाए जिस पर उसकी सियासत चमक सकती है तो वह इस व्यर्थ के मुद्दों पर कई दिनों तक शोर मचाते रहेंगे. हम बात कर रहे हैं मध्य प्रदेश की. इन दिनों राज्य में 28 विधानसभा सीटों के उपचुनाव आयोजित हो रहे हैं.

यह भले ही उपचुनाव हैं लेकिन इस पर सत्तारूढ़ भाजपा सरकार और विपक्ष यानी कांग्रेस का भविष्य टिका हुआ है. ‘शिवराज सिंह को अगर मध्य प्रदेश की सत्ता में बने रहना है तो 28 में से 8 सीटों पर चुनाव जीतना होगा’.

दूसरी ओर इसी साल मार्च महीने में भाजपा के द्वारा सत्ता से बेदखल किए गए पूर्व सीएम कमलनाथ भी इन उपचुनावों में शिवराज सिंह का सिंहासन हिलाने के लिए जोर लगाए हुए हैं.

कोरोना संकटकाल चल रहा है ऐसे में शिवराज सिंह और कमलनाथ एक दूसरे पर हमले करनेे और जनता को रिझाने के लिए मुद्दों की तलाश में लगेेे हुए थे.

लेकिन ‘रविवार को पूर्व सीएम कमलनाथ का विवादित बयान शिवराज सिंह चौहान के लिए एक ऐसा मुद्दा हाथ लग गया, जिसको उन्होंने चुनावी हथियार ही बना डाला’.

आइए आपको बताते हैं कमलनाथ ने क्या कहा. मध्यप्रदेश के डबरा विधानसभा क्षेत्र में एक कांग्रेसी प्रत्याशी के समर्थन में प्रचार करने पहुंचे कमलनाथ ने भाजपा की महिला प्रत्याशी इमरती देवी के लिए चुनावी रैली के दौरान ‘आइटम’ कह दिया था.

यह भी पढ़ें -  देर रात देहरादून पहुंचे गृहमंत्री अमित शाह, बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का आज लेंगे जायजा

इसी बयान के बाद भाजपा सरकार ने कांग्रेस को बैकफुट पर ला दिया. ‘वहीं सीएम शिवराज सिंह चौहान उपचुनाव में मिला एक मजबूत हथियार मान बैठे हैं’.

उपचुनाव के दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इस मुद्दे को तूल दे दिया
कमलनाथ के विवादित बयान के बाद शिवराज सिंह चौहान ने इसे लपकने में देर नहीं लगाई और उपचुनाव में इस मुद्दे को सड़क पर आकर तूल दे दिया. इस बयान के चलते कांग्रेस घिरती नजर आ रही है.

वहीं भाजपा ने मोर्चा खोलते हुए कमलनाथ के विवादित बयान के विरोध में पूरे सूबे में मौन उपवास कर रही है.

सीएम शिवराज सिंह चौहान भोपाल में, प्रदेश अध्‍यक्ष वीडी शर्मा ग्वालियर में और ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया इंदौर में मौन उपवास कर रहे हैं.

पूर्व सीएम कमलनाथ के आइटम वाले के बयान पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने चुनाव में अपनी और भाजपा की लहर पैदा करने के लिए लंबा चौड़ा पलटवार करते हुए कहा कि यह सिर्फ इमरती देवी का अपमान नहीं बल्कि मध्य प्रदेश की बेटी का अपमान है. बहनों का अपमान है, धरती का अपमान है.

यह भी पढ़ें -  क्रूज ड्रग केस: आर्यन खान को राहत नहीं, जमानत अर्जी पर मुंबई हाईकोर्ट 26 अक्टूबर को करेगा सुनवाई

शिवराज ने कहा कि उन्होंने कांग्रेस को क्या हो गया है. कमलनाथ सीएम रहे हैं. शिवराज ने कहा कि वर्षों तक जिस बेटी ने कांग्रेस की सेवा की उसके विरुद्ध अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल कर रहे हैं. क्या गरीब बेटी का अपमान किया जाएगा. क्या बहन-बेटियों का कोई सम्मान नहीं है.

क्या उनके सम्मान को पैरों तले कुचला जाएगा. शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं नहीं जानता कमलनाथ अपने बयान को लेकर प्रायश्चित करेंगे या नहीं, लेकिन मैं प्रायश्चित जरूर करूंगा.

उन्होंने कहा कि मुझे आश्चर्य होता है कि मैं भी सीएम हूं, रहा भी हूं. मैंने कभी ऐसा अपमान नहीं किया. मन आत्मगिलानि से भरा हुआ है.

कौन है इमरती देवी जिन पर कमलनाथ के बयान के बाद एमपी में सियासी पारा चढ़ा
आपको बताते हैं कौन है भाजपा की महिला प्रत्याशी इमरती देवी. इमरती उन पूर्व विधायकों में से एक नेता हैं जिन्होंने मार्च महीने में कांग्रेस छोड़ भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया था.

इमरती देवी को ज्योतिरादित्य सिंधिया का समर्थक माना जाता है. ज्योतिरादित्य ने भी इस टिप्पणी पर कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि एक गरीब और मजदूर परिवार से आगे आईं दलित नेता इमरती देवी को डबरा में चुनाव प्रचार के दौरान आइटम कहना निंदनीय और आपत्तिजनक है.

यह भी पढ़ें -  उत्तरखंड: कुमायूं के कई इलाकों में अभी भी संपर्क मार्ग कटा हुआ है

सिंधिया ने कहा कि ये कमलनाथ जी की मानसिकता को भी दर्शाता है. दूसरी तरफ इमरती देवी ने कहा कि इन लोगों को मध्‍य प्रदेश में रहने का कोई हक नहीं. ये कहां से आए हैं, मैंने मध्‍य प्रदेश को देखा है. मध्‍य प्रदेश में सभी महिलाओं का सम्‍मान होता है.

महिला शक्ति को घर की लक्ष्‍मी माना जाता है. आज उसने मध्‍य प्रदेश की सभी महिलाओं को गाली दी है. मैं सोनिया गांधी से मांग करती हूं कि वे कमलनाथ को कांग्रेस से बाहर निकालें. कमलनाथ के इसी बयान के विरोध में सीएम शिवराज सिंह चौहान मौन धरना शुरू कर दिया है.

शिवराज के अलावा भाजपा के अन्य नेता अलग-अलग हिस्सों में मौन प्रदर्शन कर रहे हैं. बता दें कि मध्य प्रदेश में 28 सीटों के लिए उपचुनाव 3 नवंबर को होगा.

देखना होगा कमलनाथ का विवादित बयान शिवराज सिंह के लिए कितना सियासी लाभ पहुंचा पाता है.

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

स्वामी का नाम: प्रदीप चन्द्र पाठक
फ़र्म का नाम: यूटी मीडिया वेंचर्स
पता: HNo - 6 , सर्वोदय कॉलोनी, रनवीर गार्डेन के सामने, धानमिल रोड, हल्द्वानी। पिन: 263139
ईमेल - [email protected]
फोन: 8650000291

Stay Connected

58,944FansLike
3,108FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

-- Advertisement --

--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

पढ़े पीएम मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें

0
कोविड-19 के खिलाफ 100 करोड़ डोज का आंकड़ा छूने के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के नाम संबोधन दे रहे हैं. उन्होंने इसे...

उत्तराखंड: आपदा में मृतकों की कुल संख्या पहुंची 69, अभी भी तलाश जारी

0
उत्तराखंड में 17 से 19 अक्तूबर तक हुई भारी बारिश से अभी तक नुक्सान देखने को मिल रहा है. आपदा में जान गंवाने वालो...

Covid 19: पिछले 24 घंटों में सामने आये 15,786 नए मामले, केरल बना चिंता...

0
भारत में वैश्विक महामारी की धीमी होती रफ्तार के बीच शुक्रवार को 15,786 नए मामलों का आंकड़ा दर्ज किया गया. इसका प्रमुख कारण केरल...

फारूक अब्दुल्ला ने एक बार फिर की पाक के साथ बातचीत की वकालत, बोले-बातचीत...

0
जम्मू के पूर्व सीएम और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने एक बार फिर पाकिस्तान के साथ बातचीत की वकालत की है....

पेट्रोल-डीजल के दामों में फिर लगी आग, जानें आज का भाव

0
शुक्रवार को एक बार फिर सरकारी तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा कर दिया है. इस बढ़ोतरी के बाद सिर्फ...

एक बार फिर राष्ट्र को संबोधित करेंगे पीएम मोदी, आज 10 बजे देशवासियों से...

0
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को सुबह 10 बजे एक बार फिर देशवासियों को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से ट्वीट कर इस...

प्रभारी मंत्री अपने जनपदों में आपदा राहत कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करें : सीएम...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने सभी जनपदों के प्रभारी मंत्रीगणों से अपेक्षा की है कि प्रदेश में घटित प्राकृतिक आपदा से प्रभावित लोगों को...

इस मंदिर में झूला झूलती हैं देवी दुर्गा, मां की रखवाली में पहरा देते...

0
झुला देवी मंदिर रानीखेत शहर से 7 कि.मी. की दुरी पर स्थित एक लोकप्रिय पवित्र एवम् धार्मिक मंदिर है. यह मंदिर माँ दुर्गा को...

राशिफल 22-10-2021: धन के मामले में कैसा रहेगा सभी 12 राशियों के लिए ...

0
मेष - धन लाभ की स्थिति बनी हुई है. अधिक उत्साह और अति आत्मविश्वास से बचने का प्रयास करें. इससे सामने वालों पर गलत...

22 अक्टूबर 2021 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो अगर आज के दिन यानी 22 अक्टूबर 2021 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...