जानिए क्यों देश के इन राज्यों में लागू नहीं सीएए

देश में कल यानी सोमवार को नागरिकता संशोधन कानून (CAA) लागू हो गया. इस कानून से पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आए गैर मुस्लिम (हिंदू, सिख, ईसाई, जैन, बौद्ध, पारसी) शरणार्थियों को भारत की नागरिकता मिल जाएगी. देशभर में लागू होने के बाद भी ये कानून पूर्वोत्तर के राज्यों के आदिवासी इलाकों में लागू नहीं होगा. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नागरिकता (संशोधन) अधिनियम, 2019 पूर्वोत्तर राज्यों के अधिकांश जनजातीय क्षेत्रों में लागू नहीं होगा. इन क्षेत्रों में संविधान की छठी अनुसूची के तहत विशेष दर्जा प्राप्त कई क्षेत्र शामिल हैं.

जानें क्यों लागू नहीं होगा यहां सीएए
कानूनी नियमों के मुताबिक, नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) पूर्वोत्तर के उन सभी राज्यों में लागू नहीं होगा. जहां देश के अन्य इलाकों के लोगों को यात्रा के लिए इनर लाइन परमिट (ILP) की आवश्यकता पड़ती है. बता दें कि इनर लाइन परमिट पूर्वोत्तर के राज्यों अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मिजोरम और मणिपुर में लागू है. इस परमिट के बिना देश का कोई नागरिक इन इलाकों में घूमने नहीं जा सकता.

इन राज्यों को मिलेगी नागरिकता संशोधन कानून से छूट
सोमवार को अधिकारियों ने अधिसूचित कानून के नियमों का हवाला देते हुए बताया कि जिन जनजातीय क्षेत्रों में संविधान की छठी अनुसूची के तहत स्वायत्त परिषदों का गठन किया गया था, उन्हें भी नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के दायरे से बाहर रखा गया है. ये स्वायत्त परिषदें देश के असम, मेघालय और त्रिपुरा जैसे राज्यों में अस्तित्व में हैं.

जानें क्या है नागरिकता संशोधन कानून
नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को केंद्र सरकार ने 11 मार्च को देश में लागू कर दिया. इस कानून के तहत पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से भारत में आकर रहने वाले हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई शरणार्थियों को भारत की नागरिकता मिल जाएगी. भारत सरकार ऐसे शरणार्थियों को ही भारतीय नागरिकता प्रदान करेगी जो पड़ोसी देशों में धार्मिक उत्पीड़न के चलते 31 दिसंबर, 2014 से पहले से भारत में रह रहे हैं. इस कानून में मुस्लिम समुदाय को शामिल न करने की वजह से देश के कई राज्यों में इसका विरोध भी हो रहा है. उनका कहना है कि सीएए में मुसलमानों को शामिल न कर उनके अधिकारों का हनन किया जा रहा है.

Related Articles

Latest Articles

रोहित-द्रविड़ और अगरकर की टी20 विश्व कप की टीम को लेकर दो घंटे की...

0
भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान रोहित शर्मा, मुख्य कोच राहुल द्रविड़ और चयन समिति के अध्यक्ष अजीत अगरकर ने पिछले हफ्ते मुंबई में भारत...

आरबीआई की गाइडलाइन, ग्राहक को पूरी जानकारी देने के बाद ही दें लोन-कुछ भी...

0
अब बैंक और एनबीएफसी कंपनियों की ओर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने आंखे तरेरना ली हैं. एक नोटिफिकेशन जारी करते हुए कहा है कि...

मुख्तार अंसारी की मौत पर डीजीपी प्रशांत कुमार ने तोड़ी चुप्पी, दिया ये बयान

0
यूपी के डीजीपी प्रशांत कुमार ने माफिया डॉन मुख्तार अंसारी की मौत पर पहली बार कोई टिप्पणी की है. उन्होंने कहा कि मुख्तार अंसारी...

ये हैं उत्तराखंड के सबसे उम्रदराज मतदाता, उम्र जानकर चौंक जाएंगे

0
लोकसभा चुनाव की मतदाता सूची में अनेक मतदाता शतकवीर होंगे, लेकिन स्वामी परमानंद पुरी एक विशेष मतदाता हैं जिनकी आयु 135 वर्ष है। उनका...

जोशीमठ में मुख्यमंत्री धामी का रोड शो, भाजपा प्रत्याशी अनिल बलूनी के लिए मांगा...

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जोशीमठ में भाजपा प्रत्याशी अनिल बलूनी के लिए समर्थन मांगा और जोशीमठ इंटर कॉलेज चौराहा से चमोली टैक्सी स्टैंड...

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2023 का फाइनल रिजल्ट जारी, आदित्य श्रीवास्तव बने टॉपर

0
यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2023 का फाइनल रिजल्ट जारी हो गया है. इसे यूपीएससी की वेबसाइट upsc.gov.in पर जाकर चेक किया जा सकता है....

आज अष्टमी को हुआ महागौरी का हुआ पूजन, घरों और मंदिरों में पूजी गई...

0
नवरात्र के आठवें दिन अष्टमी का पर्व मनाते हुए मंदिर में महागौरी की पूजा और कन्याओं का पूजन किया गया। दून के बाजारों में...

सुप्रीम कोर्ट से योग गुरु रामदेव को राहत नहीं, माफ़ी देने से किया इनकार

0
एलोपैथी (अंग्रेजी दवाओं) के खिलाफ पतंजलि के कथित भ्रामक विज्ञापन मामले में योग गुरु रामदेव को सुप्रीम कोर्ट से मंगलवार को भी राहत नहीं...

लोकसभा चुनाव: बीजेपी ने जारी की उम्मीदवारों की 12वीं लिस्ट

0
देश में लोकसभा चुनाव का शंखनाद हो चुका है. पहले चरण के लिए 19 अप्रैल को मतदान कराया जाना है. ऐसे में मतदान की...

अमित शाह ने कहा गोलीबारी और पथराव गुजरे वक्त की बात, अब आतंकवाद जल्द...

0
मंगलवार को गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू के पलौड़ा में आयोजित जनसभा में उपस्थित जनता को संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान में...