निपट गए बंगाल में आठ चरण, अब सरकार बनाने के लिए दलों में शुरू हुई ‘आखिरी जंग’

इस बार बंगाल विधानसभा के चुनाव साधारण नहीं थे। भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस के बीच जैसे सियासी युद्ध लड़ा गया हो, जिसमें सब कुछ ‘जायज’ था। आखिरकार आज बंगाल में आठ चरणों के चुनाव समाप्त हो गए ।

इसी के साथ पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों का भी समापन हो गया। यानी जनता ने अपना काम कर दिया है । अब बारी है इन राज्यों में सरकार बनाने के लिए सियासत की आखिरी ‘जंग’ की, जो अब शुरू हो गई है । देश में ये विधानसभा चुनाव बहुत लंबे समय तक याद रखे जाएंगे । आज हम मुख्य रूप से बंगाल चुनाव की बात करेंगे जो देश की सियासत में सबसे अधिक ‘सुर्खियों’ में रहे ।

बंगाल में सत्ता की ‘हैट्रिक’ लगाने के लिए ममता बनर्जी ने अपना पूरा जोर लगाया तो वहीं, बंगाल की भूमि में कमल खिलाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर अमित शाह सहित बीजेपी के तमाम नेता मशक्कत करते नजर आए। जबकि कांग्रेस-लेफ्ट गठबंधन राज्य में अपने सियासी वजूद बनाए रखने के लिए संघर्ष करता दिखा । बंगाल में इस बार चुनाव प्रचार में टीएमसी प्रमुख व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी एक महीने से अधिक ‘व्हीलचेयर’ पर रैली करती नजर आ रही थीं ।

वहीं बीजेपी के पहली पंक्ति के नेता बंगाल में डेरा जमाए हुए थे। पीएम मोदी ने बंगाल में करीब 20 जनसभाएं तो अमित शाह ने तकरीबन 70 रैलियां कीं। ममता बनर्जी ने टीएमसी प्रत्याशी के समर्थन में करीब 150 जनसभाओं को संबोधित किया। पीएम मोदी, अमित शाह और जेपी नड्डा और ममता बनर्जी ने वह सभी मुद्दे उठाए जिससे जनता पर प्रभाव डाला जा सके ।

यह भी पढ़ें -  CWG 2022: 16 साल बाद भारतीय महिला हॉकी टीम ने जीता मेडल, शूटआउट में न्यूजीलैंड को हराया

‘भाजपा और टीएमसी पार्टी के नेताओं ने एक दूसरे पर जुबानी जंग करते-करते सभी मर्यादाओं को पार कर गए’ । राज्य में चुनाव की तारीखों के एलान के दौरान भाजपा ने टीएमसी के नेताओं को अपने पाले में मिलाया ।

‘भाजपा को एक बंगाल की माटी के स्टार प्रचारक की जरूरत थी, ऐसे में पार्टी के रणनीतिकारों ने बॉलीवुड फिल्म अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती को प्रचार करने के लिए लगाया’ । टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी भी भाजपा के सभी सियासी दांवपेंच का दमदारी के साथ जवाब देती रहीं । कई बार बीजेपी और टीएमसी की लड़ाई निर्वाचन आयोग के दफ्तर भी पहुंची ।

बंगाल चुनाव के आखिरी दौर में कोरोना संक्रमण का असर और उससे जुड़े हुए वादे हावी रहे। एक ओर जहां ममता केंद्र को कोरोना की दूसरी लहर के लिए जिम्मेदार ठहराती नजर आईं। दीदी ने ये वादा भी किया कि अगर टीएमसी की सरकार आएगी तो बंगाल के लोगों का मुफ्त में टीकाकरण किया जाएगा। वैक्सीन को लेकर ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को दो बार पत्र लिखा। वहीं बीजेपी ने भी मुफ्त वैक्सीनेशन का वादा किया है। इस तरह से कोरोना के मुद्दे पर ममता ने केंद्र पर जमकर हमले किए तो बीजेपी ने भी उन्हें निशाने पर लिया। भाजपा और टीएमसी के नेता प्रचार धुआंधार प्रचार किए जा रहे थे लेकिन चुनाव के आखिरी तीन चरण जब बचे थे तब राज्य में कोरोना महामारी ने अपने पैर पसारने शुरू कर दिए ।‌ उस पर भी सुप्रीम कोर्ट को बंगाल में नेताओं की रैली करने के लिए सवाल उठाने पड़े साथ ही सोशल मीडिया पर देशभर के लोगों ने बंगाल में महामारी के बीच प्रचार करने पर नेताओं पर गुस्सा उतारा।

यह भी पढ़ें -  CWG 2022: CWG 2022: दक्षिण अफ्रीका को मात देकर फाइनल में पहुंची भारतीय पुरुष हॉकी टीम-गोल्ड के लिए ऑस्ट्रलिया से भिड़ेगी

तब जाकर भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के नेताओं को चुनावी जनसभाएं रद करनी पड़ी। बता दें कि आठवें चरण में चार जिलों की 35 विधानसभा सीटों पर वोट डाले गए। जिसमें इस चरण में मालदा की 6, बीरभूम की 11, मुर्शिदाबाद की 11 और कोलकाता नॉर्थ की 7 सीट शामिल रहीं।

एग्जिट पोल के शुरू होने के बाद राजनीतिक दलों की बंद कमरों में शुरू हुई सियासत—

बंगाल में आठवें चरण के चुनाव समाप्त के बाद चैनलों में शुरू हुए एग्जिट पोल्स के शुरू होने के बाद पांचों राज्यों के लिए राजनीतिक दलों में बंद कमरों में चुनावी ‘गणित’ शुरू हो गई है । बंगाल, तमिलनाडु, केरल, असम और पुडुचेरी में भाजपा, कांग्रेस, एआईडीएमके, डीएमके, टीएमसी और वाम दलों के नेताओं के बीच बैठकों का दौर शुरू हो गया है । लेकिन सबसे अधिक जोर भाजपा और टीएमसी के बीच बंगाल में सरकार बनाने को लेकर है । बता दें कि शनिवार को चुनाव नतीजों से ठीक एक दिन पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपने सभी विधायकों के साथ मीटिंग करेंगी। ममता बनर्जी वोटिंग के दिन अपने नेताओं को रणनीति बताएंगी। गौरतलब है कि बंगाल विधानसभा का कार्यकाल 30 मई 2021 को पूरा हो रहा है।‌ ऐसे में 30 मई से पहले हर हाल में विधानसभा और नई सरकार के गठन की प्रकिया पूरी होनी है।

यह भी पढ़ें -  राशिफल 09-08-2022: आज इन राशियों के लिए भाग्यशाली रहेगा मंगलवार

पश्चिम बंगाल में कुल 294 विधानसभा सीटें हैं। पिछले 10 साल से ममता बनर्जी यहां मुख्यमंत्री हैं। अब देखना है कि ममता अपना किला बचा पाती है या नहीं ? दूसरी ओर बीजेपी ने यहां बहुत जोर लगाया है। पीएम मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने बंगाल से ममता बनर्जी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए सियासत के सभी शस्त्र आजमाए ।

भाजपा बंगाल में सरकार बनाने के लिए बेकरार है । एग्जिट पोल्स के बाद भाजपा हाईकमान ने दिल्ली में बंगाल चुनाव में सरकार बनाने के लिए गुप्त बैठकें शुरू कर दी हैं । भाजपा केंद्रीय नेतृत्व ने असम में वापसी और बंगाल में पहली बार ‘भगवा’ लहराने के लिए सब कुछ दांव पर लगा रखा है। ऐसे ही कांग्रेस पार्टी के लिए असम और केरल के साथ पुडुचेरी की भी प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है।

कई महीनों से पार्टी में मची उथल-पुथल के बीच राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की इन दोनों राज्यों में कुशल नेतृत्व की परीक्षा भी होनी है। वहीं डीएमके ने तमिलनाडु में सत्ता पाने के लिए तैयारी तेज कर दी है।

मौजूदा सत्तारूढ़ एआईडीएमके की भी पूरी कोशिश रहेगी कि तमिलनाडु की सत्ता में वापसी कर सके। ऐसे ही वामदलों ने अपना एकमात्र राज्य केरल बचाने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। बता दें कि दो मई को तमिलनाडु, केरल, पुड्डुचेरी, असम और पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव के परिणाम आने हैं।

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,243FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

राशिफल 09-08-2022: आज इन राशियों के लिए भाग्यशाली रहेगा मंगलवार

0
मेष: विदेशों से व्यवसाय कर रहे लोगों की आय बेहतर होगी. नौकरीपेशा लोगों को ठोड़ी परेशानी हो सकती है. भाई-बहनों के प्रति प्यार बढ़ेगा....

9 अगस्त 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 9 अगस्त 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान...

केंद्रीय मंत्री नीतिन गडकरी से मिले सीएम धामी, इन मुद्दों पर हुई चर्चा

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में केंद्रीय सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्री नीतिन गडकरी से भेंट की. मुख्यमंत्री ने केंद्रीय मंत्री के...

कॉमनवेल्थ गेम्स में उत्तराखंड के लाल ने देश के लिए जीता गोल्ड, पीएम...

0
सोमवार को भारतीय बैडमिंटन टीम के सदस्य लक्ष्य सेन ने कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत को गोल्ड दिलाया. लक्ष्य सेन ने पुरुष एकल के फाइनल...

यूपी: सीएम योगी को मिली बम से उड़ाने की धमकी

0
लखनऊ| यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है. पुलिस कंट्रोल रूम यूपी 112 के व्हाट्सएप नंबर पर...

CWG 2022 Badminton: डबल में भी भारत को गोल्ड

0
कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के मिक्स्ड डबल्स फाइनल में भारत के सात्विक साइराज रेंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने इंग्लैंड की बेन लेन और...

CWG 2022 Hockey: भारत पुरुष हॉकी टीम का गोल्ड जीतने का सपना टूटा, फाइनल...

0
भारतीय पुरुष हॉकी टीम का कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में गोल्ड जीतने का सपना टूट गया. भारत को रविवार को पुरुष हॉकी के फाइनल में...

ब्रेकिंग – कॉमनवेल्थ गेम्स के आखिरी दिन उत्तराखंड के लक्ष्य सेन ने जीता गोल्ड...

0
इंग्लैंड के बर्मिंघम में कॉमनवेल्थ गेम्स में आज आखिरी दिन उत्तराखंड के बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन ने गोल्ड मेडल जीत लिया है। लक्ष्य सेन...

विदाई समारोह: सांसद ने उपराष्ट्रपति के बचपन की कहानी सुनाई तब वेंकैया नायडू के...

0
विदाई या फेयरवेल का समय हमेशा ही खास और भावुक कर देने वाला होता है. वह लोग बहुत ही खुश किस्मत होते हैं जो...

CWG 2022 Badmintion: पीवी सिंधू ने जीता पहला महिला सिंगल्स कॉमनवेल्थ गेम्स गोल्ड मेडल

0
कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के बैडमिंटन महिला सिंगल्स फाइनल में सोमवार को भारत की पीवी सिंधु का मुकाबला कनाडा की मिचेल ली के खिलाफ हुआ....
%d bloggers like this: