बिहार में अब होगी सियासी लड़ाई , ऐश्वर्या राय तेज प्रताप के खिलाफ लड़ सकती हैं चुनाव

पटना| बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की बहू ऐश्वर्या राय अपने पति तेज प्रताप यादव के खिलाफ विधानसभा चुनाव लड़ सकती हैं. ऐश्वर्या के पिता चंद्रिका राय ने मंगलवार को इस बात का संकेत दिया. बता दें कि तेज प्रताप और ऐश्वर्या के रिश्ते में शादी के बाद दरार पड़ गई. तेज प्रताप की तलाक की अर्जी कोर्ट में लंबित है. हमारे सहयोगी समाचार पत्र टीओआई के साथ खास बातचीत में राय ने कहा, ‘ऐश्वर्या अपने बारे में फैसला खुद करेंगी. मैं उसका समर्थन करता हूं. वह चाहे जिस सीट से चुनाव लड़े, मैं उसे रोकूंगा नहीं.’

बता दें कि राय राष्ट्रीय जनता दल (राजद) छोड़कर जद-यू में शामिल हुए हैं. उन्होंने कहा कि ऐश्वर्या की राजनीतिक योजनाओं , यहां तक कि तेज प्रताप के खिलाफ भी चुनाव लड़े तो भी वह उसका समर्थन करेंगे. राय ने कहा कि ऐश्वर्या आने वाले दिनों में अपने चुनाव लड़ने के बारे में मीडिया को बताएंगी. लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप अभी वैशाली जिले की महुआ सीट से विधायक हैं लेकिन बताया जा रहा है कि वह अपने लिए इस बार सुरक्षित सीट की तलाश कर रहे हैं.

चर्चा है कि तेज प्रताप इस बार विधानसभा चुनाव समस्तीपुर जिले की हसनपुर सीट से लड़ सकते हैं. यह अटकलें इसलिए ज्यादा लग रही है क्योंकि गत सोमवार को तेज प्रताप ने इस निर्वाचन क्षेत्र का दौरा किया. यह पूछने पर कि क्या ऐश्वर्या हसनपुर सीट से तेज प्रताप के खिलाफ चुनाव लड़ेंगी. इस पर चंद्रिका राय ने कहा कि इस बारे में अभी फैसला नहीं लिया गया है.

तेज प्रताप पिछले सप्ताह रांची में अपने पिता लालू प्रसाद यादव से मिले. इस मुलाकात के बाद इस अटकल ने जोर पकड़ी है कि वह मुहआ की जगह हसनपुर सीट से चुनाव लड़ सकते हैं. उन्होंने हसनपुर में लोगों के साथ ‘तेज संवाद’ और रोड शो किया है. 2015 के विधानसभा चुनाव में हसनपुर सीट पर महागठबंधन के जद-यू उम्मीदवार राजकुमार राय विजयी हुए.

राय ने कहा, ‘तेज प्रताप, ऐश्वर्या के कारण अपनी सीट बदलने के बारे में नहीं सोच रहे हैं, बल्कि वह भगोड़ा हैं. महुआ विधानसभा क्षेत्र में न तो उन्होंने कोई काम किया है और न ही वहां कभी गए. तेज प्रताप जानते हैं कि महुआ सीट से यदि इस बार चुनाव लड़े तो वह हार जाएंगे.’ राजद के प्रदेश प्रवक्ता चितरंजन गगन ने कहा कि कौन कहां से चुनाव लड़ेगा इस बारे में अभी कोई फैसला नहीं हुआ है. चुनाव से पहले इस तरह दौरा होना आम बात है. उन्होंने कहा, ‘तेज प्रताप हमारे पार्टी के नेता हैं और वह चुनाव प्रचार के लिए किसी भी निर्वाचन क्षेत्र में जा सकते हैं. इसका टिकट से कोई लेना-देना नहीं है.’

राजनीति के जानकार मानते हैं कि महुआ सीट से ऐश्वर्या का ध्यान भटकाने के लिए लालू प्रसाद यादव की यह एक ‘चाल’ हो सकती है और दोनों एक दूसरे की राजनीतिक योजना की प्रतीक्षा कर रहे हैं.

Related Articles

विज्ञापन

Latest Articles

देहरादून: सीएस सचिव राधा रतूड़ी ने खेल विभाग की समीक्षा की

0
देहरादून| सीएस सचिव राधा रतूड़ी ने विधानसभा भवन में खेल विभाग के साथ श्री पूर्णानंद स्पोर्ट्स स्टेडियम, मुनि की रेती टिहरी तथा इन्दिरा गांधी...

धामी ने जमाया सिक्का, 100 शक्तिशाली भारतीयों की सूची में मिली जगह

0
देहरादून| उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को सबसे शक्तिशाली भारतीयों की सूची में जगह मिली है. सौ सबसे शक्तिशाली भारतीयों की सूची में...

हिमाचल प्रदेश: सुक्खू सरकार पर मंडराए संकट के बादल फिलहाल छंटे, बनें रहेंगे सीएम

0
हिमाचल प्रदेश में राज्यसभा की एक सीट पर हुए चुनाव में क्रॉस वोटिंग के बाद सुखविंदर सिंह सुक्खू सरकार पर मंडराए संकट के बादल...

हल्द्वानी हिंसा: मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक का बेटा अब्दुल मोईद गिरफ्तार,

0
हल्द्वानी हिंसा का मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक का बेटा अब्दुल मोईद पुलिस की गिरफ्त में आ गया है. पुलिस ने अब्दुल मोईद को दिल्ली से...

टीएमसी की शाहजहां शेख पर बड़ी कार्रवाई, 6 साल के लिए पार्टी से किया...

0
पश्चिम बंगाल के संदेशखाली में घटी घटना के मुख्य आरोपी शाहजहां शेख को गिरफ्तार कर लिया गया है. शाहजहां शेख को 10 दिन की...

लोकसभा चुनाव 2024: इंडी गठबंधन में शामिल न होने से नाराज ओवैसी, अखिलेश यादव...

0
लखनऊ| आगामी लोकसभा चुनाव में इंडी गठबंधन में शामिल न होने से नाराज असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM ने प्रदेश की 7 लोकसभा सीटों...

1993 सीरियल बम ब्लास्ट केस: आरोप करीम टुंडा सबूतों के अभाव में बरी, इरफान...

0
1993 सीरियल ब्लास्ट मामले में अजमेर की टाडा कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाते हुए आरोपी अब्दुल करीम टुंडा को बरी कर दिया है. टुंडा...

संदेशखाली हिंसा: मुख्य आरोपी शाहजहां शेख को 10 दिन की पुलिस रिमांड, 55 दिनों...

0
पश्चिम बंगाल पुलिस ने प्रवर्तन निदेशालय की टीम पर हमले के मुख्य आरोपी और टीएमसी नेता शाहजहां शेख को बशीरहाट कोर्ट ने पुलिस रिमांड...

हिमाचल प्रदेश के छह बागी कांग्रेस विधायकों पर बड़ा एक्शन, विधायिकी बर्खास्त

0
शिमला| हिमाचल प्रदेश के छह बागी विधायकों पर बड़ा एक्शन हुआ है. विधानसभा से इन सभी छह विधायकों की विधायिकी बर्खास्त कर दी गई...

केंद्र ने दो और मुस्लिम संगठन पर लगाया प्रतिबंध, कश्मीर आतंकवाद से जुड़ें हैं...

0
जम्मू और कश्मीर में आतंकवाद विरोधी अभियान में जुटी केंद्र सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए दो और मुस्लिम संगठनों को बैन कर दिया...