अखिलेश यादव की बीजेपी को नसीहत, स्थिरता के लिए सीएम योगी को उत्तराखंड ट्रांसफर करे बीजेपी

लखनऊ| रविवार को उत्तराखंड और यूपी में बेरोजगारी और बदहाली का आरोप लगाते हुए समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भाजपा नेतृत्व को नसीहत देते हुए कहा कि भाजपा की राजनीति की बेहतरी और दोनों राज्यों में स्थिरता की बहाली के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उत्तराखंड स्थानांतरित कर दिया जाए ,ताकि वहां रोज-रोज नेतृत्व परिवर्तन के झंझट से मुक्ति मिल सके.

दूसरी तरफ रविवार की देर शाम प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने सपा प्रमुख पर पलटवार करते हुए कहा कि अपनी खिसक चुकी जमीन के सच को स्वीकार करने के बजाय सपा प्रमुख यूपी के मुख्यमंत्री को उत्तरखण्ड स्थानान्तरित करने की बात कह रहे हैं. सपा मुख्यालय से रविवार को जारी बयान में यादव ने कहा, ‘यूपी और उत्तराखंड दोनों राज्यों में डबल इंजन यार्ड में खड़ा जंग खा रहा है.

यूपी में मुख्यमंत्री के कारण लोकतंत्र चोटिल हुआ है और उत्तराखंड में लोकतंत्र अस्थिरता का शिकार हो गया है. यादव ने तंज कसा, ‘ऐसे में अच्छा होगा कि भाजपा की राजनीति की बेहतरी और दोनों राज्यों में स्थिरता की बहाली के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को उत्तराखंड स्थानांतरित कर दिया जाए ताकि वहां रोज-रोज नेतृत्व परिवर्तन के झंझट से मुक्ति मिल सके.’

सपा प्रमुख ने दावा किया, ‘सच तो यह है कि उत्तर प्रदेश में लोकतंत्र चाहे पाताल में समा जाए, भाजपा का शीर्ष नेतृत्व यहां मुख्यमंत्री बदलने की हिम्मत नहीं जुटा सकता है. जनता में भाजपा सरकार के प्रति असंतोष बढ़ता जा रहा है. दोनों राज्यों में पलायन की समस्या समान रूप से गंभीर है. कानून व्यवस्था में गिरावट और राजनीतिक तिकड़मबाजी के चलते दोनों राज्यों में न तो पूंजी निवेश हो रहा है और न हीं नए उद्योग धंधे लग रहे हैं.’

उन्होंने कहा, ‘भाजपा की नीतियों से उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश दोनों राज्यों में बेरोजगारी में लगातार वृद्धि हो रही है और जब से भाजपा सत्तारूढ़ हुई विकास अवरुद्ध है. दोनों राज्यों में महंगाई और भ्रष्टाचार का बोलबाला है, स्वास्थ्य सेवाएं बदहाल हैं. महिलाओं का सम्मान के साथ जीना दूभर हो गया है. दोनों प्रदेशों में किसानों के साथ अन्याय हो रहा है. व्यापारी परेशान है. नौजवानों का भविष्य अंधकारमय है.’

यादव ने कहा कि वस्तुत: भाजपा का लोकतांत्रिक मूल्यों के प्रति प्रारम्भ से ही अनादर का भाव रहा है और लोकतंत्र का अहित करने में उसने कोई कसर नहीं छोड़ी है. उन्होंने कहा कि जब तक उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भाजपा सत्तारूढ़ रहेगी तब तक स्वस्थ लोकतंत्र की कल्पना भी नहीं की जा सकती है.

प्रदेश भाजपा मुख्यालय से जारी बयान के अनुसार सिंह ने रविवार को कहा, ‘सपा प्रमुख यह समझ चुके हैं कि राज्य में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में भाजपा सरकार द्वारा जन अपेक्षाओं को पूरा करते हुए किये जा रहे जनहित के कार्यों के परिणाम स्वरूप जनता का विश्वास भाजपा के प्रति और दृढ़ हुआ है और समाजवादी पार्टी की जमीन उत्तर प्रदेश में खिसक चुकी है.’

उन्होंने कहा, ‘अपनी खिसक चुकी जमीन के सच को स्वीकार करने के बजाय सपा प्रमुख उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को उत्तराखंड स्थानांतरित करने की बात कह रहे हैं. और सपा प्रमुख के बयान से लगता है कि वे भी इस सच को स्वीकार कर लिए है कि राज्य में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में 2022 में फिर से अभूतपूर्व जनसमर्थन के साथ ऐतिहासिक बहुमत वाली भाजपा की सरकार बनेगी और जनता एक बार फिर परिवारवाद, भ्रष्टाचार और अराजकता को नकार देगी.’

Related Articles

Latest Articles

अब बॉर्नविटा को हेल्थ ड्रिंक की कैटेगरी क्यों नहीं रखा जा सकता है! ...

0
भारत में कई पीढ़ियां बॉर्नविटा को 'हेल्थ ड्रिंक' समझकर पीते-पीते बढ़ी हुई हैं. इसका कारण है देश में जब से बॉर्नविटा लॉन्च हुआ है...

रामलला के ललाट पर 500 साल बाद ‘सूर्य तिलक’, भक्तों ने किए दिव्य दर्शन

0
देशभर में आज धूमधाम से रामनवी का पर्व मनाया जा रहा है. इस बार रामनवमी के मौके पर अयोध्या में खास आयोजन किया जा...

राहुल गांधी ने अमेठी से स्मृति ईरानी के खिलाफ चुनाव लड़ने को लेकर किया...

0
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने यूपी की अमेठी सीट से बीजेपी की नेता और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ चुनाव...

चुनाव आयोग की सम्राट चौधरी, चंद्रबाबू नायडू समेत इन नेताओं के ऊपर कार्रवाई, सोशल...

0
सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स ने मंगलवार को जानकारी दी कि भारत चुनाव आयोग ने कुछ नेताओं, राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों के पोस्ट रोकने के...

चैत्र नवरात्रि 2024: आज है रामनवमी व्रत, जानें शुभ मुहूर्त-पूजा विधि

0
हिंदी पंचांग के अनुसार, चैत्र नवरात्रि के अंतिम दिन रामनवमी मनाई जाती है. रामनवमी 17 अप्रैल यानी बुधवार को है. नवरात्रि की नवमी तिथि...

नवमी पर मां सिद्धिदात्री की पूजा-आराधना के साथ शारदीय नवरात्र का होता है समापन

0
आज राम नवमी है. देशभर में मां के मंदिरों में भक्त दर्शन कर आशीर्वाद ले रहे हैं. नवरात्र के आखिरी दिन मां अपने भक्तों...

IPL 2024 KKR Vs RR: जोस बटलर के शतक के दम पर राजस्थान ने...

0
राजस्थान रॉयल्स ने आईपीएल 2024 में अपनी छठवीं जीत हासिल कर ली है. राजस्थान ने रोमांचक मुकाबले में कोलकाता को 2 विकेट से हराया....

राशिफल 17-04-2024: आज रामनवमी के दिन क्या कहते हैं आपके सितारे, जानिए

0
मेष:आज धक्कों के लिए बाहर देखो! अगर चीजें ठीक नहीं चल रही हैं, तो मदद मांगें. देरी से चोट लगती है. आप काम पर...

17 अप्रैल 2024 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 17 अप्रैल 2024 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

परीक्षा पास करने के बाद किसे मिलता है कौन सा पद! जानिए कौन बनता...

0
मंगलवार को संघ लोक सेवा आयोग ने सिविल सर्विस 2023 परीक्षा के परिणामों का ऐलान कर दिया है. यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा 2023 तीन...