कंगना के खिलाफ जंग में अकेले पड़े उद्धव ठाकरे, साथी दलों का नहीं मिल रहा साथ


सुशांत सिंह राजपूत मामले में काफी आलोचना झेलनी वाली उद्धव सरकार के लिए मुसीबतें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं. कंगना रनौत के साथ बढ़ा विवाद महाराष्ट्र में चल रही गठबंधन सरकार की और मुश्किलें बढ़ा सकता है. दरअसल, बीएमसी ने कंगना के ऑफिस पर बुलडोजर चलाया तो शिवसेना को अपने साथी दलों का साथ नहीं मिला. अब जैसे-जैसे ये विवाद बढ़ रहा है, उसी बीच एनसीपी प्रमुख शरद पवार मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात के लिए सीएम के आधिकारिक निवास वर्षा बंगला पहुंचे हैं.

इससे पहले बीएमसी की कार्रवाई पर शरद पवार ने कहा, ‘मुझे उनके कार्यालय के संबंध में कोई जानकारी नहीं है. लेकिन मैंने समाचार पत्रों में पढ़ा कि यह एक अवैध निर्माण था. हालांकि, मुंबई में अनधिकृत निर्माण नए नहीं हैं. अगर बीएमसी नियमानुसार कार्य कर रही है, तो यह सही है.’

पवार ने कहा, ‘मौजूदा स्थिति में इस तरह की कार्रवाइयां लोगों के मन में संदेह पैदा करती हैं. कार्रवाई करने से उन्हें बोलने का मौका मिला है. यह जांचने की जरूरत है कि बीएमसी ने अब कार्रवाई क्यों की.’ इसके अलावा पवार ने कंगना रनौत का नाम लिए बिना कहा कि उनके बयानों को अनुचित महत्व दिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि हम ऐसे बयान देने वालों को अनुचित महत्व दे रहे हैं. हमें देखना होगा कि लोगों पर इस तरह के बयानों का क्या प्रभाव पड़ता है. मेरी राय में लोग (ऐसे बयानों को) गंभीरता से नहीं लेते हैं.

वहीं कांग्रेस के संजय निरूपम ने कहा, ‘कंगना का ऑफिस अवैध था या उसे डिमॉलिश करने का तरीका? क्योंकि हाई कोर्ट ने कार्रवाई को गलत माना और तत्काल रोक लगा दी. पूरा एक्शन प्रतिशोध से ओत-प्रोत था. लेकिन बदले की राजनीति की उम्र बहुत छोटी होती है. कहीं एक ऑफिस के चक्कर में शिवसेना का डिमॉलिशन न शुरू हो जाए.’


कंगना के बांद्रा स्थित बंगले का कुछ हिस्सा ढहाए जाने को लेकर शिवसेना के नेतृत्व वाली बीएमसी को भी आलोचनाओं का शिकार होना पड़ा है. बॉम्बे हाई कोर्ट ने रनौत के यहां स्थित बंगले में अवैध निर्माण को तोड़ने की बीएमसी की प्रक्रिया पर रोक लगा दी और पूछा कि नगर निकाय के अधिकारी मालिक की गैरमौजूदगी में संपत्ति के भीतर क्यों गए. सोशल मीडिया पर भी लोग इस कार्रवाई पर सवाल खड़ा कर रहे हैं और शिवसेना के साथ-साथ महाराष्ट्र सरकार को भी घेर रहे हैं.

ऐसे में सवाल है कि कंगना के खिलाफ बीएमसी की ये कार्रवाई कहीं महाराष्ट्र सरकार पर भारी न पड़ जाए. ये सवाल इसलिए भी है क्योंकि कंगना इस कार्रवाई के बाद और ज्यादा आक्रमक हो रही हैं और उद्धव ठाकरे को सीधी चुनौती दे रही हैं. इस लड़ाई में उन्हें भारी सर्मथन भी मिल रहा है.

यह भी पढ़ें -  योगी सरकार ने यूपी के 11 आईएएस अधिकारियों के किए तबादले, देखें लिस्ट

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,236FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

Patra Chawl land scam case: ईडी ने संजय राउत को जारी किया समन, 28...

0
महाराष्ट्र| ईडी ने शिवसेना नेता संजय राउत को समन जारी किया है. जमीन घोटाले के एक मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने संजय राउत...

अलर्ट! उत्तराखंड में 1 जुलाई से प्लास्टिक बैन, उपयोग किया तो देना पड़ेगा जुर्माना

0
1 जुलाई से उत्तराखंड में सिंगल यूज़ प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा. यदि प्रतिबंध लगाने के वाबजूद भी इसका उपयोग होता है तो...

IRE vs IND: भुवनेश्वर कुमार ने रचा इतिहास, T20I क्रिकेट में ऐसा कारनामा करने...

0
टीम इंडिया और आयरलैंड के बीच डबलिन में खेले गए पहले टी20 मुकाबले में टीम इंडिया ने 7 विकेट से जीत दर्ज की. इस...

एक्टिव हुए गवर्नर: कोश्यारी स्वस्थ होकर राजभवन लौटे, अब महाराष्ट्र संकट पर राज्यपाल की...

0
7 दिनों से जारी महाराष्ट्र में सियासी संग्राम के बीच राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी कोरोना से ठीक होने के बाद राजभवन लौट आए हैं....

‘अग्निपथ योजना युवाओं को कर देगी बर्बाद’: बोले मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक

0
अग्निपथ योजना को लेकर विरोध प्रदर्शन के साथ साथ सियासी बवाल भी हजारी है. कई राजनीतिक पार्टी इसे लेकर केंद्र सरकार पर हमला कर...

फटाफट समाचार(27-06-2022) सुनिए अब तक की कुछ ख़ास खबरे

0
उत्तराखंड में 1 जुलाई से प्लास्टिक ban, उपयोग करने पर देना पड़ेगा जुर्मानाउत्तराखंड में देहरादून सहित अन्य सात जिलों में भारी बारिश का ऑरेंज...

पुतिन की घोड़े के साथ शर्टलेस फोटो का जी-7 नेताओं ने उड़ाया मजाक

0
रविवार को जर्मनी में जी-7 देशों के शिखर सम्मेलन के पहले दिन जी-7 के नेताओं ने यूक्रेन पर रूस पर हमले, यूक्रेन की स्थिति...

एटीएम हुआ 55 साल का: देश में तीन दशक से रुपए निकालने के लिए...

0
आज चर्चा एटीएम की करेंगे. रुपए निकालने की एक ऐसी मशीन जो देशवासियों की जिंदगी से भी जुड़ी हुई है. आपको चौराहे पर या...

Ind Vs IRE T20: हार्दिक सेना ने छुड़ाए आयरलैंड के छक्के, पहले टी20 में...

0
डबलिन|..... हार्दिक पांड्या ने अपनी कप्तानी पारी का जीत के साथ आगाज किया है. हार्दिक के नेतृत्व में टीम इंडिया ने रविवार को...

राष्ट्रपति चुनाव 2022: टीआरएस ने यशवंत सिन्हा को दिया अपना समर्थन

0
तेलंगाना |मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के नेतृत्व वाली तेलंगाना राष्ट्र समिति ने आगामी चुनाव के लिए विपक्ष के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा...
%d bloggers like this: