इस बार नैनीताल में नहीं घूमेगा मां नंदा-सुनंदा का डोला, टीवी पर ही करने होंगे दर्शन


नैनीताल| कोरोना वायरस ने दुनिया भर में बहुत सी चीज़ें बदल ही हैं, भक्ति प्रकट करने का तरीका भी इनमें से एक है. मंदिरों में दर्शन पर प्रतिबंध खुल गए हैं लेकिन धार्मिक यात्राओं को लेकर अभी ऐहतिहात बरती जा रही है. पहाड़ की कुलदेवी नंदा देवी के दर्शन श्रद्धालुओं को इस बार घर बैठे ही करने होंगे.

मन्दिर में भीड़ को कम करने के लिए इस बार नैनीताल में नंदा महोत्सव का लाइव प्रसारण किया जा रहा है ताकि लोग घर बैठे दर्शन कर सकें. इसके साथ ही जिला प्रशासन ने महोत्सव में रस्म अदायगी की व्यवस्थाओं के लिए 2 लाख की धनराशि को भी जारी कर दी है.

पहली बार डोला नहीं घूमेगा शहर
कोरोना संक्रमण के चलते इस बार नंदा महोत्सव को सिर्फ रस्म अदायगी तक ही किया जा रहा है. आयोजन समिति राम सेवक सभा को आयोजन की अनुमति सिर्फ कुछ लोगों के साथ दी गई है तो केन्द्र की गाइडलाइन्स के पालन के भी निर्देश जारी किए गए हैं.

कोरोना संक्रमण से बचने के लिए जारी दिशानिर्देशों के तहत मन्दिर में भीड़ को कम करना होगा तो मूर्ति को छूने की भी अनुमति नहीं होगी. साथ ही कुछ देर बाद सैनिटाइज़र का छिड़काव भी मन्दिर परिसर में करना होगा. प्रसाद बांटने पर पूरी तरह से रोक रहेगी तो कोरोना से बचाव के स्लोगन भी लगाने होंगे. इस बार नंदा सुनंदा के डोले के बाज़ार घूमाने पर भी प्रतिबंध लगाया गया है. इसके चलते मंदिर से ही झील में डोले का विसर्जन किया जाएगा.

पहाड़ की कुलदेवी है नंदा
बतादें कि नंदा चंद्रवंश की कुलदेवी है और पहाड़ में नंदा को राजराजेश्वरी का दर्ज प्राप्त है. हर साल यहां के लोग लाखों की संख्या में कैलाश विदा करने के लिये जाते हैं तो इस दौरान समूचा पहाड़ में अपनी बेटी बहू व कुलदेवी को गाजेबाजे के साथ विदा करते हैं. सिर्फ नैनीताल ही नहीं बल्कि अल्मोड़ा,चम्पावत हल्द्वानी उघमसिंह नगर समेत गढवाल में इस पर्व को धूमधाम से मनाया जाता है.

क्यों पूजी जाती है नंदा
पहाड़ों में कदली यानि केले के पेड़ से बनाई जाने वाली इन मूर्तियों को हज़ारों लोग पूजते हैं. कहा जाता है कि चंद राजा की दो बहनें नंदा व सुनंदा एक बार जब देवी के मंदिर जा रही थीं तो एक राक्षस ने भैंसे का रूप धारण कर उनका पीछा करना शुरू कर दिया. इससे भयभीत होकर दोनों बहनें केले के वृक्ष के पत्तों के पीछे छुप गई.

तभी एक बकरे ने आकर केले के पत्तों को खा लिया जिससे भैंसे ने उन्हें देख लिया और दोनों बहनों को मार दिया. इसके बाद चंद राजाओं ने उनकी स्थापना कर देवी के रूप में उनकी पूजा शुरु की जो आज भी जारी है.

साभार-न्यूज़ 18

Related Articles

Latest Articles

यूपी: मुरादाबाद से भाजपा प्रत्याशी कुंवर सर्वेश सिंह का निधन, एम्स में ली अंतिम...

0
उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद से भाजपा के प्रत्याशी एवं पूर्व सांसद कुंवर सुर्वेश कुमार सिंह का शनिवार को देहांत हो गया. दिल्ली के एम्स...

राशिफल 21-04-2024: आज इन राशियों का होगा भाग्योदय, सूर्यदेव बनाएंगे बिगड़े कार्य

0
मेष-: आज आपका दिन शुभ रहेगा. लंबे समय से अटका हुआ धन वापस मिलेगा. प्रोफेशनल लाइप में महत्वपूर्ण बदलाव आएंगे. ऑफिस में प्रमोशन या...

21 अप्रैल 2024 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 21 अप्रैल 2024 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ के वेदपाठी मृत्युंजय हीरेमठ का दिल का दौरा पड़ने से निधन

0
रुद्रप्रयाग| ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ के वेदपाठी मृत्युंजय हीरेमठ दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. वेदपाठी मृत्युंजय हीरेमठ के निधन से पूरे क्षेत्र...

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार के खिलाफ पुलिस केस दर्ज, जानिए पूरा मामला

0
लोक सभा चुनाव के प्रचार के दौरान आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने के आरोप में कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार के खिलाफ पुलिस...

उत्तराखंड: सियासी दलों के दावों की खुलेगी पोल, मतदान कम होने से किसका होगा...

0
सियासी संग्राम के पहले पड़ाव के समापन के बाद, उत्तराखंड में हुए चुनावों ने राजनीतिक दलों के बीच गहरी चर्चाएं और तकरारों का सिलसिला...

उत्तराखंड: वनाग्नि ने बढ़ाई सीएम धामी की चिंता, अधिकारियों को दिए ये निर्देश

0
देहरादून| शनिवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने देहरादून नें शासकीय आवास पर वनाग्नि की रोकथाम के लिए की जा रही तैयारियों के संबध...

पीएम मोदी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर कसा तंज, जैसे अमेठी छोड़ा, वैसे...

0
लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण में कल 21 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की 102 सीटों पर मतदान समाप्त हो गया. अब दूसरे चरण...

दिल्ली: मनीष सिसोदिया ने वापस ली अंतिम जमानत याचिका, मिलेगी राहत या जेल, अब...

0
मनीष सिसोदिया की अंतरिम जमानत याचिका की वापसी का निर्णय संवैधानिक दिशा निर्देश और व्यक्तिगत आवश्यकताओं के आधार पर किया गया है। उनके वकीलों...

कांग्रेस के तेजिंदर सिंह बिट्टू हुए भाजपा में शामिल, प्रियंका गांधी के थे काफी...

0
लोकसभा चुनाव के बीच हिमाचल प्रदेश के कांग्रेस कमेटी के प्रभारी सचिव और प्रियंका गांधी के साथी तेजिंदर सिंह बिट्टू ने पार्टी से अपना...