भारत-चीन विवाद: भारतीय सेना ने लद्दाख में तैनात की कंधे से मिसाइल दागने वाली टुकड़ी

लद्दाख सहित वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चीन की तरफ से होने वाली किसी भी गुस्ताखी का जवाब देने के लिए भारतीय फौज ने पुरजोर तैयारी की है. हाल के दिनों में सीमा पर चीन के हेलिकॉप्टरों की गतिविधियों में तेजी आई है जिसके बाद सेना ने लद्दाख की ऊंची चोटियों पर ऐसी टुकड़ी की तैनाती की है जो अपने कंधे से एयर डिफेंस मिसाइल फायर करने की क्षमता रखती है.

रुस निर्मित है यह घातक मिसाइल
समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से कहा, ‘रूस द्वारा निर्मित एग्ला एयर डिफेंस सिस्टम से लैस फौज की टुकड़ी को सीमा पर स्थित ऊंची चोटियों पर तैनात किया गया है. ये टुकड़ी भारतीय वायु क्षेत्र का उल्लंघन करने की कोशिश करने वाले लड़ाकू विमानों को सबक सिखाएगी.’

रूस द्वारा निर्मित इस एयर डिफेंस सिस्टम का इस्तेमाल सेना और वायु सेना दोनों करते हैं. युद्ध के समय दुश्मन देश के हेलिकॉप्टर एवं लड़ाकू विमान जब सैन्य ठिकानों एवं तैनात फौज के करीब आते हैं तो इस मिसाइल का इस्तेमाल किया जाता है.

गत पांच जून को गलवान घाटी में चीन और भारत के सैनिकों के बीच खूनी हिंसा हुई. इसके बाद दोनों देशों के रिश्तों में काफी तल्खी आ गई है. चीन ने लद्दाख एवं एलएसी पर अपने सैनिकों, लड़ाकू विमानों एवं भारी हथियारों का जमावड़ा किया है.

चीन की किसी भी हिमाकत का जवाब देने के लिए भारत ने अपनी जवाबी तैयारी की है. एलएसी पर चीन की सेना पीएलए की हरकतों पर नजर रखने के लिए भारतीय सेना ने इस इलाके में रडार सिस्टम में इजाफा एवं अपने निगरानी तंत्र को मजबूत किया है.

एलएसी पर चीनी हेलिकॉप्टर आए नजर
हाल के दिनों में सेना ने पाया है कि पूर्वी लद्दाख के गतिरोध वाली जगहों पेट्रोलिंग प्वाइंट 14 एवं अन्य स्थानों के समीप चीनी हेलिकॉप्टरों ने भारतीय क्षेत्र में दाखिल होने की कोशिश की है.

 भारतीय वायु क्षेत्र का उल्लंघन करने की चीन की मंशा को भांपते हुए वायु सेना ने मई महीने के पहले सप्ताह में ही अपने सुखोई-30 एमकेआई लड़ाकू विमानों की तैनाती पूर्वी लद्दाख में कर दी.

Related Articles

Latest Articles

मलेशिया मास्टर्स खिताब जीतने से चूकी सिंधु फाइनल में नहीं लांघ पाईं ‘चीनी दीवार’

0
भारत की स्टार महिला शटलर पीवी सिंधु का 2 साल से खिताबी सूखा बदस्तूर जारी है. सिंधु रविवार को मलेशिया मास्टर्स बैडमिंटन टूर्नामेंट में...

हल्द्वानी: लावारिस सांड की एक बाइक से टक्कर, हादसे में युवक की मौत

0
हल्द्वानी| हल्द्वानी से दुखद घटना की खबर सामने आ रही है. यहां एक लावारिस सांड की एक बाइक से टक्कर हो गई. इस हादसे...

क्या है ‘रेमल’ का मतलब! आखिर कौन तय करता है तूफान का नाम

0
चक्रवार्ती तूफान ‘रेमल’ रविवार (26 मई) की रात पश्चिम बंगाल और ओडिशा के तट से टकरा सकता है. मौसम विभाग ने कहा है कि...

‘रेमल’ चक्रवात भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील, रविवार रात बंगाल-बांग्लादेश के तटों से टकराएगा

0
चक्रवाती तूफान रेमल रविवार की रात पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के समुद्र तटों पर दस्तक दे सकता है. बंगाल की खाड़ी में बना चक्रवाती...

दिल्‍ली: बेबी केयर हॉस्पिटल में आग लगने से 6 किलकारियां हमेशा के लिए खामोश

0
देश की राजधानी दिल्‍ली के विवेक विहार में एक बेबी केयर हॉस्पिटल में आग लगने से 6 किलकारियां हमेशा के लिए खामोश हो गईं....

लोकसभा चुनाव 2024: छठे चरण में 58 सीटों पर मतदान संपन्न, 59.06 फीसदी मतदान...

0
शनिवार को लोकसभा चुनाव के छठे चरण में सात राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश की 58 सीटों पर मतदान हो चुका है. आठ राज्यों...

रविवार को भगवान सूर्य देवता को जल चढ़ाने के होते हैं कई फायदे, जानिए...

0
हिंदू धर्म में सूर्य को जल देने की परंपरा बहुत पुरानी है जिसे आज भी निभाते हैं. श्रद्धालु हर रोज सूर्य देवता को अर्घ्य...

राशिफल 26-05-2024: आज सूर्यदेव की कृपा चमकेगा इन राशियों का भाग्य

0
मेष-:मेष राशि वाले सोचते कुछ हैं, होता कुछ है. रविवार को मेष राशि वालों का जीवनसाथी की लापरवाही से बड़ा नुकसान हो सकता है....

26 मई 2024 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 26 मई 2024 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

चारधाम यात्रा के लिए 6 सदस्यीय उच्च स्तरीय समिति का गठन, आदेश जारी

0
चारधाम यात्रा में अव्यवस्थाओं को लेकर आ रही तस्वीरों के बीच अब सरकार नए कदम उठाकर यात्रा के बेहतर संचालन के लिए फैसले ले...