उत्तराखंड: केदारनाथ त्रासदी के 7 साल बाद शुरू हुआ लापता लोगों के कंकाल ढूंढने का अभियान, इस तरह की जाएगी पहचान

साल 2013 में आए केदारनाथ त्रासदी की यादें सात साल बाद भी लोगों के जेहन में ताजा है. बादल फटने से उत्तराखंड में हिंदुओं के सबसे बड़े तीर्थ स्थल में से एक केदारनाथ में आई आपदा में हजारों लोगों ने अपनी जान गंवा दी थी.

इस हादसे में कई लोग लापता हो गए थे जिनका आज तक कुछ पता नहीं चल पाया है. उत्तराखंड पुलिस ने अब उन्हीं लापता लोगों के कंकाल ढूंढने के लिए एक अभियान शुरू किया है. चार दिनों तक चलने वाले इस खोजी अभियान में मिले सभी नरकंकालों का डीएनए टेस्ट भी किया जाएगा.

मालूम हो कि बादल फटने के बाद केदारनाथ में 16 जून, 2013 में आई त्रासदी में हजारों लोगों की जान चली गई थी वहीं कई लोग लापता हो गए थे जिनके परिजनों को आज भी उनका इंतजार है.

यह भी पढ़ें -  24 सितम्बर 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

गढ़वाल रेंज के आईजी अभिनव कुमार ने बताया, ‘इस त्रासदी में लापता हुए लोगों की संख्या और बरामद किए शवों की संख्या में बहुत अंतर है.

इसलिए कंकालों का डीएनए टेस्ट किया जाएगा.’ बता दें कि आपदा आने के बाद से कई बार इस तरह के नर कंकालों को खोजने के लिए अभियान चलाए गए हैं.

त्रासदी के बाद नैनीताल हाई कोर्ट ने एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए उत्तराखंड सरकार को आपदा में लापता हुए लोगों के नरकंकालों को खोजने का निर्देश दिया था. इसी क्रम में बुधवार को एक और खोजी अभियान की शुरुआत की गई है.

यह भी पढ़ें -  नागपुर टी20: टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को 6 विकेट से हराया, रोहित शर्मा और अक्षर पटेल रहे जीत के हीरो

रुद्रप्रयाग के पुलिस अधीक्षक नवनीत सिंह भुल्लर ने बताया कि खोजबीन के काम के लिए जिला स्तर पर 10 टीमों का गठन किया गया है. यह अभियान बुधवार सुबह 8 बजे से शुरू होगा.

यह सभी टीमें उन स्थानों पर सर्च अभियान चलाएंगी जहां आपदा का प्रभाव पड़ा था. नवनीत सिंह भुल्लर के मुताबिक हर टीम का नेतृत्व एक उप निरीक्षक करेगा.

खोजी दल के सभी टीमों में 2 पुलिस कॉन्स्टेबल, 2 एसडीआरएफ कॉन्स्टेबल और एक फार्मासिस्ट शामिल है. इलाके की अच्छे से पहचान की जा सके इसलिए खोजी दल में कुछ स्थानीय युवाओं को भी शामिल किया गया है.

मिली जानकारी के मुताबिक हर टीम के पास सुरक्षा उपकरण, भोजन सामग्री, संचाल के लिए वायरलेस, फोटो-वीडियोग्राफी के लिए कैमरे और कैंपिंग के लिए टेंट सहित कई जरूरी सामनों को उपलब्ध कराया गया है.

यह भी पढ़ें -  पितृ अमावस्या 2022: 25 सितम्बर पितृ अमावस्या, जानें शुभ मुहूर्त-महत्व

ये टीमें केदारनाथ से वासुकी ताल, गौरीकुंड, कालीमठ, चौमासी, रामबाड़ा, जंगल चट्टी, केदारनाथ बेस कैंप का ऊपरी क्षेत्र, केदारनाथ मंदिर के आसपास, गौरीकुंड, गऊ मुखड़ा, त्रियुगीनारायण, गरुड़ चट्टी, मुनकटिया, सोनप्रयाग आदि इलाकों में नर कंकालों की खोज करेगी.

Related Articles

Advertisement

Advertisement

Stay Connected

58,944FansLike
3,242FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

सीएम धामी के निर्देश पर ताबड़तोड़ कार्रवाई, नैनीताल में 5 रिज़ॉर्ट सील

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी के निर्देशों पर उत्तराखण्ड में विभिन्न गेस्ट हाउस और रिज़ॉर्ट पर प्रशासन की ताबड़तोड़ कार्रवाई शुरू हो गई है. सीएम...

मिजोरम: असम राइफल्स और स्थानीय पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, 167.86 करोड़ रुपये की...

0
मिजोरम में असम राइफल्स और स्थानीय पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. पार्टियों में सप्लाई होने वाले ड्रग्स की एक बड़ी खेप को...

अंकिता मर्डर केस: नालायक बेटे के अपराध ने पिता को एक झटके में ही...

0
उत्तराखंड में पूर्व राज्य मंत्री और भाजपा के कद्दावर नेताओं में शुमार रहे विनोद आर्य को उनके बेटे ने ही जिंदगी भर की मेहनत...

उत्तराखंड में विधानसभा अध्यक्ष ने सीएम से की बड़ी मांग, राजस्व पुलिस व्यवस्था समाप्त...

0
ऋषिकेश में अंकिता भंडारी निर्मम हत्याकांड के बाद उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी भूषण ने प्रदेश में जहाँ कहीं भी राजस्व पुलिस की व्यवस्था...

Ankita Bhandari Murder Case: एम्स ऋषिकेश में हुआ अंकिता भंडारी का पोस्टमार्टम, अस्पताल के...

0
उत्तराखंड में रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी की हत्या के बाद उसके शव का पोस्टमार्टम एम्स ऋषिकेश में हुआ. वहीं एम्स ऋषिकेश के बाहर लोगों की...

देश में एक अक्टूबर से शुरू होगी 5जी सेवाएं, पीएम मोदी भारतीय मोबाइल कांग्रेस...

0
भारत में 5जी सेवाएं आधिकारिक तौर पर 1 अक्टूबर से शुरू होंगी. नेशनल ब्रॉडबैंड मिशन ने शनिवार को ट्वीट कर बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र...

पितृ अमावस्या 2022: 25 सितम्बर पितृ अमावस्या, जानें शुभ मुहूर्त-महत्व

0
25 सितम्बर को पितर आशीर्वाद देकर अपने-अपने धाम को चले जायेंगे, माना जाता है कि इन दिनों पितरों का आह्वान करने से वे हमसे...

अंकिता भंडारी मर्डर केस: मुख्य आरोपी पुलकित आर्य के पिता और भाजपा के नेता...

0
उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी की हत्या के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी एक्शन में है. वहीं अंकिता की हत्या के बाद उत्तराखंड में...

अंकिता भंडारी हत्याकांड: पुलकित के करीबियों पर गिरी गाज, भाई को ओबीसी आयोग से...

0
उत्तराखंड स्थित ऋषिकेश में अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में एक्शन लगातार जारी है. पहले पुलिस ने तुरंत एक्शन लेते हुए जांच के बाद 24...

ऋषिकेश: चीला पावर हाउस के पास मिला अंकिता भडारी का शव, जांच के लिए...

0
ऋषिकेश| एसडीआरएफ की टीम को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. चीला शक्ति नहर में चीला पावर हाउस के पास अंकिता भडारी का शव मिला...
%d bloggers like this: