spot_imgspot_img

हल्द्वानी: स्कूल फीस वसूली के खिलाफ सीएम रावत को प्रदर्शनकारियों ने खून से लिखा खत


हल्द्वानी| कोरोनाकाल में अधिकतर प्राइवेट स्कूल ऑनलाइन पढ़ाई करा रहे हैं. बच्चे घर बैठे मोबाइल, कंप्यूटर, लैपटॉप के जरिए पढ़ाई कर रहे हैं. इस पढ़ाई के एवज में स्कूल स्टूडेंट से फीस मांग रहे हैं, जिसका कई स्तर पर विरोध हो रहा है. हल्द्वानी में स्कूल फी माफी के लिए पिछले 14 दिनों से कई संगठनों के लोग धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं. इसी क्रम में बुधवार को प्रदर्शनकारियों ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को अपने खून से चिट्ठी लिखकर स्कूल फी माफ करने की मांग की है.

फीस विरोधी आंदोलन का नेतृत्व कर रहे हल्द्वानी नगर निगम के पार्षद रोहित कुमार ने पहले अपने एक साथी मदद से सिरिंज के जरिए अपना खून निकलवाया. इसके बाद एक कलम बनाकर अपने खून को स्याही के तौर पर इस्तेमाल किया. रोहित ने कहा कि सरकार को चाहिए कि प्राइवेट स्कूल मालिकों को फीस न लेने का आदेश जारी करे. प्राइवेट स्कूल पैरेंट्स का खून चूस रहे हैं, लेकिन सरकार उन पर लगाम नहीं लगा पा रही है. इसलिए हमने मुख्यमंत्री को खून के जरिए एक पत्र लिखा है.

प्रदर्शन में मौजूद कुछ अभिभावकों ने कहा कि ऑनलाइल क्लास, पढ़ाई के नाम पर एक दिखावा है. फीस वसूली के लिए प्राइवेट स्कूल संचालक ऐसा कर रहे हैं. एलकेजी से पांचवीं कक्षा तक के बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई से कोई फायदा नहीं होता, क्योंकि न तो उन्हें कुछ समझ आ रहा और नही सभी पैरेंट्स के पास ऑनलाइन पढ़ाने की सुविधा है. अभिभावकों के मुताबिक एक तरफ बिना स्कूल गए बच्चे से पूरी फीस ली जा रही है, दूसरी तरफ घर बैठे इंटरनेट का खर्च भी अच्छा-खासा बढ़ गया है. कोरोना के कठिन दौर में आर्थिक दिक्कतों से जूझ रहे लोग ये दोहरी मार कैसे सहन करें, किसी को समझ नहीं आ रहा.

उत्तराखंड सरकार ने प्राइवेट स्कूलों को शैक्षणिक सत्र 2020- 21 में अपनी फीस नहीं बढ़ाने के निर्देश दिए हैं. आदेश के मुताबिक कोविड-19 के कारण लागू लॉकडाउन के मद्देनजर निजी स्कूल इस शैक्षणिक सत्र में अपनी फीस नहीं बढ़ा सकते और न ही वे ट्यूशन फीस के अतिरिक्त और कोई फीस ले सकते हैं.

यह भी पढ़ें -  वित्तीय वर्ष 2023-24 का बजट पेश जानिए गरीब वर्ग के लिए क्या है खास

शिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम द्वारा जून में जारी इस आदेश में कहा गया है कि ट्यूशन फीस भी केवल वही स्कूल ले सकते हैं जो लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन कक्षाएं चलाते रहे हैं. लेकिन हैरानी की बात ये है कि स्कूल न सिर्फ ट्यूशन फीस ले रहे हैं बल्कि अन्य तरीके के शुल्क भी ले रहे हैं. न देने पर बच्चों के माता-पिता को फोन और मैसेज कर परेशान किया जा रहा है. इसकी लगातार शिकायतें मिल रही हैं.

यह भी पढ़ें -  बजट 2023: शानदार बजट पेश करने के लिए सीएम धामी ने निर्मला सीतारमण को दी बधाई, हरीश रावत ने दी ये प्रतिक्रिया

साभार-न्यूज़ 18

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,250FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

Ind Vs Nz: भारतीय गेंदबाजों के आगे निकला न्यूजीलैंड का दम, 66 रन पर...

0
टीम इंडिया ने बुधवार (एक फरवरी, 2023) को न्यूजीलैंड को तीसरे टी-20 में करारी मात दी. टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल और...

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तीनों फॉर्मेट में सबसे कम उम्र में सैकड़ा जड़ने वाले खिलाड़ी...

0
अहमदाबाद| टी20 फॉर्मेट में बल्लेबाजी की आलोचना करने वालों को अपने करियर के सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में चल रहे युवा बल्लेबाज शुभमन गिल ने अहमदाबाद...

बजट 2023: शानदार बजट पेश करने के लिए सीएम धामी ने निर्मला सीतारमण को...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने केंद्रीय बजट 2023 -24 हेतु केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को बधाई देते हुए कहा है कि पीएम मोदी...

बजट में मोदी सरकार ने देश को दिया बड़ा तोहफा, देश में खुलेंगे 50...

0
बुधवार को सदन में केंद्रीय बजट भाषण के दौरान, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी को घोषणा की कि देश...

वित्तीय वर्ष 2023-24 का बजट पेश, इनकम टैक्स में क्या बदला क्या नही जानिए

0
केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्तीय वर्ष 2023-24 का बजट पेश कर दिया।यह मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का आखिरी पूर्ण बजट है।...

वित्तीय वर्ष 2023-24 का बजट पेश जानिए गरीब वर्ग के लिए क्या है खास

0
केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्तीय वर्ष 2023-24 का बजट पेश कर दिया। सरकार ने अलग-अलग वर्गों के लिए कई बड़े एलान किए...

जम्मू-कश्मीर: गुलमर्ग स्कीइंग रिजॉर्ट के पास भारी हिमस्खलन, 2 विदेशी टूरिस्ट की मौत

0
जम्मू-कश्मीर के बारामूला जिले के गुलमर्ग में लोकप्रिय स्की रिसॉर्ट में बुधवार को आए हिमस्खलन के बाद दो विदेशी स्कीयर मारे गए, जबकि कई...

आम बजट 2023-24 पेश होते ही राजनीतिक हलचल किसी ने की तारीफ तो कोई दिखा...

0
बता दें कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने देश का आम बजट पेश कर दिया है। इस बार के बजट में महिलाओं,युवाओं और...

मोदी सरकार ने बजट 2023 के लिए दिया ‘सप्तर्षि’ सूत्र, जानें- क्या हैं ‘पीएम...

0
बजट भाषण में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार (एक फरवरी, 2023) को कुछ खास शब्दों का इस्तेमाल किया. उन्होंने इस दौरान पीएम...

उत्तराखंड: कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी के बिगड़े बोल, कहा- इंदिरा-राजीव की हत्या शहादत...

0
देहरादून| उत्तराखंड के बीजेपी सरकार में मंत्री गणेश जोशी ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राजीव गांधी की हत्या को शहादत नहीं बल्कि ‘दुर्घटना’...
%d bloggers like this: