सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट से कहा, दो साल के लिए बढ़ सकता है लोन मोरेटोरियम

कोरोना वायरस की वजह से लागू किए लॉकडाउन के दौरान लोन मोरेटोरियम 6 महीने के लिए दिया गया था. जिसकी अवधि 31 अगस्त को समाप्त हो गई. इस दौरान लोन मोरेटोरियम यानी लोन की किस्तें चुकाने के लिए मिले समय के दौरान ब्याज माफी के अनुरोध पर सुप्रीम कोर्ट में आज (01 सितंबर) फिर सुनवाई शु्रु हुई. केंद्र की ओर से पेश सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कोर्ट को बताया कि ऋण स्थगन (मोरेटोरियम) दो साल के लिए बढ़ सकता है.

पिछली सुनवाई के दौरान इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा कि लोन मोरेटोरियम के मामले में अपना रूख जल्द स्पष्ट करें. साथ ही कोर्ट ने कहा कि अर्थव्यवस्था में समस्या सरकार के लॉकडाउन की वजह से आई है. सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि वे इस मामले की सुनवाई करेंगे और सभी पक्षकारों के बीच कल सॉलिसिटर जनरल के माध्यम से मोरेटोरियम मुद्दे में अपना जवाब दाखिल किया.

सुप्रीम कोर्ट की बैंच ने आगरा निवासी गजेन्द्र शर्मा की याचिका पर सुनवाई कर रही है. शर्मा ने अपनी याचिका में कहा है कि रिजर्व बैंक की 27 मार्च की अधिसूचना में किस्तों की वसूली स्थगित तो की गई है पर कर्जदारों को इसमें काई ठोस लाभ नहीं दिया गया है. याचिकाकर्ता ने अधिसूचना के उस हिस्से को निकालने के लिए निर्देश देने का आग्रह किया है जिसमें मोरेटोरियम अवधि के दौरान कर्ज राशि पर ब्याज वसूले जाने की बात कही गई है.

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड विधानसभा में भर्ती मामला: स्पीकर ऋतु खंडूड़ी ने 228 नियुक्तियों को रद का शासन को भेजा प्रस्ताव, सचिव मुकेश सिंघल को किया सस्पेंड

इससे याचिकाकर्ता जो कि एक कर्जदार भी है. उसका कहना है कि उसके समक्ष कठिनाई पैदा होती है. इससे उसको भारत के संविधान के अनुच्छेद 21 में दिए गए जीवन के अधिकार की गारंटी मामले में रुकावट आड़े आती है.

सुप्रीम कोर्ट ने इससे पहले कहा था कि जब एक बार मोरेटोरियम तय कर दिया गया है तब उसे उसके उद्देश्य को पूरा करना चाहिए. ऐसे में हमें ब्याज के ऊपर ब्याज वसूले जाने की कोई तुक नजर नहीं आता है. सुप्रीम कोर्ट का मानना है कि यह पूरी मोरेटोरियम अवधि के दौरान ब्याज को पूरी तरह से छूट का सवाल नहीं है बल्कि यह मामला बैंकों द्वारा बयाज के ऊपर ब्याज वसूले जाने तक सीमित है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि यह मुश्किल समय है ऐसे में यह गंभीर मुद्दा है कि एक तरफ कर्ज किस्त भुगतान को स्थगित किया जा रहा है जबकि दूसरी तरफ उस पर ब्याज लिया जा रहा है.

Related Articles

Advertisement

Advertisement

Stay Connected

58,944FansLike
3,242FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

सीएम धामी के निर्देश पर ताबड़तोड़ कार्रवाई, नैनीताल में 5 रिज़ॉर्ट सील

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी के निर्देशों पर उत्तराखण्ड में विभिन्न गेस्ट हाउस और रिज़ॉर्ट पर प्रशासन की ताबड़तोड़ कार्रवाई शुरू हो गई है. सीएम...

मिजोरम: असम राइफल्स और स्थानीय पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, 167.86 करोड़ रुपये की...

0
मिजोरम में असम राइफल्स और स्थानीय पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. पार्टियों में सप्लाई होने वाले ड्रग्स की एक बड़ी खेप को...

अंकिता मर्डर केस: नालायक बेटे के अपराध ने पिता को एक झटके में ही...

0
उत्तराखंड में पूर्व राज्य मंत्री और भाजपा के कद्दावर नेताओं में शुमार रहे विनोद आर्य को उनके बेटे ने ही जिंदगी भर की मेहनत...

उत्तराखंड में विधानसभा अध्यक्ष ने सीएम से की बड़ी मांग, राजस्व पुलिस व्यवस्था समाप्त...

0
ऋषिकेश में अंकिता भंडारी निर्मम हत्याकांड के बाद उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी भूषण ने प्रदेश में जहाँ कहीं भी राजस्व पुलिस की व्यवस्था...

Ankita Bhandari Murder Case: एम्स ऋषिकेश में हुआ अंकिता भंडारी का पोस्टमार्टम, अस्पताल के...

0
उत्तराखंड में रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी की हत्या के बाद उसके शव का पोस्टमार्टम एम्स ऋषिकेश में हुआ. वहीं एम्स ऋषिकेश के बाहर लोगों की...

देश में एक अक्टूबर से शुरू होगी 5जी सेवाएं, पीएम मोदी भारतीय मोबाइल कांग्रेस...

0
भारत में 5जी सेवाएं आधिकारिक तौर पर 1 अक्टूबर से शुरू होंगी. नेशनल ब्रॉडबैंड मिशन ने शनिवार को ट्वीट कर बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र...

पितृ अमावस्या 2022: 25 सितम्बर पितृ अमावस्या, जानें शुभ मुहूर्त-महत्व

0
25 सितम्बर को पितर आशीर्वाद देकर अपने-अपने धाम को चले जायेंगे, माना जाता है कि इन दिनों पितरों का आह्वान करने से वे हमसे...

अंकिता भंडारी मर्डर केस: मुख्य आरोपी पुलकित आर्य के पिता और भाजपा के नेता...

0
उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी की हत्या के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी एक्शन में है. वहीं अंकिता की हत्या के बाद उत्तराखंड में...

अंकिता भंडारी हत्याकांड: पुलकित के करीबियों पर गिरी गाज, भाई को ओबीसी आयोग से...

0
उत्तराखंड स्थित ऋषिकेश में अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में एक्शन लगातार जारी है. पहले पुलिस ने तुरंत एक्शन लेते हुए जांच के बाद 24...

ऋषिकेश: चीला पावर हाउस के पास मिला अंकिता भडारी का शव, जांच के लिए...

0
ऋषिकेश| एसडीआरएफ की टीम को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. चीला शक्ति नहर में चीला पावर हाउस के पास अंकिता भडारी का शव मिला...
%d bloggers like this: