किसानों का आक्रोश भाजपा सरकार के प्रति हर दिन बढ़ता जा रहा है

बता दें कि इससे पहले केंद्र की मोदी सरकार ने देश में कई विधेयक पारित किए थे जैसे जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाना, नागरिकता संशोधन कानून, एनआरसी और जीएसटी आदि के विरोध में कई दिन प्रदर्शन हुए थे, लेकिन इन कानूनों को लेकर मोदी सरकार इतनी परेशान नहीं थी जितनी कि वह कृषि कानून को लेकर है.

इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि यह कानून सीधे ही पूरे देश के किसानों से जुड़ा हुआ है . चाहे राज्य सरकारें हो या केंद्र की सरकारें हो कोई भी किसानों को नाराज करके सत्ता पर अधिक दिन तक काबिज नहीं रह सकती . इस बात को पीएम मोदी समेत भाजपा के आला शीर्ष नेता भी जान रहे हैं तभी किसानों के मुद्दे पर हर कदम हर बयान फूंक-फूंक कर रख रहे हैं.

किसान सरकार से साफ-साफ कह रहे हैं कि कृषि कानून की वापसी के अलावा वो किसी भी बात को मानने के लिए तैयार नहीं हैं . किसानों का आरोप है कि सरकार इन कृषि कानूनों की आड़ में उद्योगपतियों के इशारे पर काम कर रही है और इसी के तहत एमएसपी और मंडियों को इस कानून के जरिए आने वाले वक्त में खत्म कर दिया जाएगा.

किसानों की मानें तो कॉन्ट्रैक्ट फॉर्मिंग उनके अस्तित्व के लिए ही बड़ा खतरा है और इसके जरिए वो एक तरह से बड़े उद्योगपतियों के गुलाम बनकर रह जाएंगे. किसानों का साफ कहना है कि सरकार को इन कानूनों को वापस लेना चाहिए. इसी मांग को लेकर किसानों का धरना पिछले 25 दिन से जारी है. किसान दिल्ली की सीमाओं पर अपनी मांग को लेकर डेरा डाले हुए हैं और सरकार के सामने लगातार अपनी मांग को बुलंद कर रहे हैं.

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

विज्ञापन

Latest Articles

यूपी: लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, पूर्व सांसद राजेश मिश्रा ने...

0
लोकसभा चुनाव 2024 से पहले नेताओं का पाला बदलने का सिलसिला जारी है. इसी क्रम में कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने और पूर्व...

संदेशखाली हिंसा मामले में कलकत्ता हाईकोर्ट ने दिए सीबीआई जांच के आदेश

0
पश्चिम बंगाल के संदेशखाली हिंसा मामले में कलकत्ता हाईकोर्ट मंगलवार को एक्शन में दिखी. मामले पर सख्त रुख अख्तियार करते हुए कोर्ट ने कुल...

सीएम धामी ने रोड शो के बाद जनसभा में की घोषणा, नगरपालिका बनेगी पुरोला...

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज उत्तरकाशी के बड़कोट में एक भव्य रोड शो का आयोजन किया। इसके बाद उन्होंने लाभार्थी योजना सम्मान समारोह...

बीजेपी कि गढ़वाल और हरिद्वार लोकसभा सीट पर कश्मकश जारी, जल्द हो सकती है...

0
भाजपा के लिए गढ़वाल और हरिद्वार लोकसभा सीटों पर तुरुप का इक्का कौन होगा, इस मुद्दे पर नई दिल्ली में चर्चा जारी है। दोनों...

पिछौड़ा ओढ़कर अनंत-राधिका की प्री वेडिंग में पहुंची साक्षी धोनी

0
अनंत अंबानी और राधिका मर्चेंट का प्री वेडिंग सेलिब्रेशन गुजरात के जामनगर में हुआ। इस मौके पर पूर्व भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र...

सीएम धामी का उत्तरकाशी में भव्य रोड शो, रामलीला मैदान में लाभार्थी सम्मान समारोह

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तरकाशी बड़कोट में एक विशाल रोड शो किया। साथ ही, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट भी इस कार्यक्रम में...

योगी सरकार ने डेढ़ करोड़ किसानों को दिया उपहार, निजी नलकूपों पर मुफ्त बिजली...

0
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में आयोजित कैबिनेट बैठक में किसानों के हित में महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है। कैबिनेट ने निजी नलकूपों पर...

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने पीसीएस-जे मुख्य परीक्षा का परिणाम किया घोषित

0
उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने उत्तराखंड न्यायिक सेवा सिविल न्यायाधीश परीक्षा-2022 की मुख्य परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है। उत्तराखंड न्यायिक सेवा के...

उत्तराखंड: मार्च में बढ़ेगा पारा, रहें गर्मी झेलने को तैयार

0
उत्तराखंड में मार्च के पहले दिनों में बारिश और बर्फबारी के कारण ठंड ने कुछ दिनों के लिए बढ़ गई, लेकिन इस महीने के...

देहरादून के 15 लाख वोटर 1880 मतदान स्थलों पर करेंगे मतदान

0
लोकसभा चुनाव के लिए निर्वाचन आयोग ने लगभग सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। इस बार टिहरी गढ़वाल और हरिद्वार लोकसभा सीटों के लिए...