वर्ल्ड साइकिल डे विशेष: स्वच्छ पर्यावरण और अच्छे स्वास्थ्य के लिए आओ साइकिल को बनाएं सफर का ‘साथी’

आज बात स्वच्छ पर्यावरण और अच्छे स्वास्थ्य को लेकर होगी. हम जिसकी चर्चा करने जा रहे हैं वह एक ऐसी सवारी है जो सभी से जुड़ी हुई है. यह बचपन से ही साथी बन जाती है. इसी पर सवार होकर बच्चे जीवन की ‘लंबी उड़ान’ भरने की कल्पना करने लगते हैं. कुछ याद आया या नहीं. चलिए हम ही बता देते हैं. इसका नाम है ‘साइकिल’. आज 3 जून है.

आज ‘अंतरराष्ट्रीय साइकिल दिवस दुनिया’ में मनाया जा रहा है. हमारे देश में साइकिल की शुरुआत वर्ष 1950 के दशक में हुई थी. उस दौर में सड़कों पर सुबह और शाम ऑफिस, स्कूल-कॉलेज फैक्ट्री समेत आदि स्थानों पर आने जाने वाले लोगों की ‘घंटी’ की आवाज सुनाई देती थी. उस दौरान गांव से लेकर शहर तक अधिकांश लोग साइकिल से ही सफर किया करते थे . किसान या ग्रामीण सभी साइकिल से ही आया-जाया करते थे, यही नहीं भारतीय डाक विभाग तो आज भी साइकिल से ही डाक बांटता है .‌ दूधवाले और अखबार वालों की पहली पसंद साइकिल ही रही है.‌

यह भी पढ़ें -  Bihar: 10 अगस्त को नीतीश कुमार लेंगे सीएम पद की शपथ

ऑफिस और स्कूलों में भी अधिकांश साइकिल से ही सवारी किया करते थे. लेकिन धीरे-धीरे समय बदला और साइकिल की घंटी की आवाज ‘मध्यम’ पड़ने लगी. कभी शान की सवारी समझी जाने वाली साइकिल को धीरे-धीरे लोगों ने भुला दिया. यही नहीं अधिकांश लोग तो साइकिल से चलने पर शर्मिंदगी भी महसूस करने लगे थे . साइकिल के स्थान पर मोटरसाइकिल, स्कूटर और कार ने लेेेे लिया, लेकिन हाल के वर्षों में भारत ही नहीं बल्कि विश्व के तमाम देशों में साइकिल को लोग एक बार फिर याद कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें -  बिहार संकट: नीतीश कुमार ने पेश किया नई सरकार बनाने का दावा, राज्यपाल को 164 विधायकों का समर्थन पत्र सौंपा

पिछले वर्ष शुरू हुई कोरोना महामारी के बाद देशवासियों ने महसूस करनेेेे लगे कि अपने आप को फिट रखने के लिए सबसे अच्छा ‘साधन’ साइकिल ही रहेगा. उसके बाद लॉकडाउन के दौरान साइकिल की उपयोगिता बढ़ती चली गई, जो आज भी जारी है. आम से लेकर खास सभी साइकिल चलाते दिखने लगे. मुंबई में तो मौजूदा समय में तमाम फिल्मी सितारे साइकिल चलाते हुए दिख जाते हैं. इसके साथ साइकिल की बिक्री में पिछले वर्ष से तेजी आ गई है. लोगों की डिमांड इतनी बढ़ गई कि साइकिल निर्माता कंपनियों को साइकिल का उत्पादन तेज बढ़ाना पड़ा है.

यह भी पढ़ें -  हर घर तिरंगा' अभियान: आईटीबीपी की महिला जवानों ने 17,000 फीट की ऊंचाई पर फहराया तिरंगा

‘आओ स्वच्छ पर्यावरण और अच्छे स्वास्थ्य के लिए हम भी साइकिल को सफर का साथी बनाएं’. साइकिल ही ऐसी सवारी है जिसे बच्चे, जवान-बुजुर्ग हर आयु के वर्ग चला सकते हैं. साइकिल की सवारी मनुष्य को मानसिक, शारीरिक रूप से मजबूत बनाने का कार्य करती है. इसमें अन्य व्यायामों की तरह न चोटिल होने का डर है और न ही इसे चलाने में किसी विशेष तकनीकी ज्ञान की जानकारी की आवश्यकता होती है. साइकिल चलाने में शर्म नहीं करनी चाहिए बल्कि उनसे ‘प्रेरणा’ लेनी चाहिए जिनका साइकिल की सवारी शौक भी है और जरूरत भी .

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,244FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

यूपीएससी ने जारी जारी किया एनडीए और एनए 2 का एडमिट कार्ड, ऐसे करें...

0
यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन ने एनडीए और एनए 2 का एडमिट कार्ड जारी कर दिया है. जो भी छात्र छात्र नेशनल डिफेंस एकेडमी...

Covid19: उत्तराखंड में मिले 221 नए मरीज, एक्टिव केस 1500 के करीब

0
देहरादून| उत्तराखंड में 24 घंटे के भीतर कोरोना के 221 नए मरीज मिले हैं. जबकि 363 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे हैं. इसके साथ...

सीएम पुष्कर सिंह धामी ने दी प्रदेशवासियों को रक्षाबन्धन की बधाई

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेशवासियों को रक्षाबन्धन की बधाई दी है. रक्षाबन्धन की पूर्व संध्या पर बुधवार को सीएम आवास एवं मुख्य...

सिनेमाघरों में अभिनेता आमिर खान और अक्षय कुमार की होगी टक्कर

0
11 अगस्त को देश के सिनेमाघरों में बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान अक्षय कुमार की टक्कर देखी जा रही है. आमिर खान लंबे अरसे बाद...

त्योहार पर बॉलीवुड धमाका: राखी पर्व पर लाल सिंह चड्ढा और रक्षाबंधन का...

0
इस बार रक्षाबंधन को लेकर कुछ ज्यादा ही कन्फ्यूजन की स्थित हो गई है. लोगों से लेकर बाजारों तक रक्षाबंधन पर्व मनाने को लेकर...

पटना: नीतीश कुमार आठवीं बार बनें बिहार के सीएम, तेजस्वी यादव ने भी ली...

0
पटना| नीतीश कुमार आठवीं बार बिहार के सीएम बन गए हैं. बुधवार को नीतीश कुमार ने बिहार के सीएम के तौर पर आठवीं बार...

जिम में वर्कआउट करते हुए बिगड़ी राजू श्रीवास्तव की तबीयत, दिल्ली के एम्स अस्पताल...

0
मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव को हार्ट अटैक आया है जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक बुधवार सुबह जिम...

नई जिम्मेदारी का इंतजार: भाजपा के वरिष्ठ नेता मुख्तार अब्बास नकवी के बाद शाहनवाज...

0
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पाला बदलने से राज्य भाजपा के कई मंत्रियों की अचानक कुर्सी भी चली गई. ‌बिहार जेडीयू गठबंधन में...

उत्तराखंड एसटीएफ ने 60 लाख की ठगी के आरोप में नाइजीरियन नागरिक को दिल्ली...

0
देहरादून| उत्तराखंड एसटीएफ और साइबर पुलिस ने 60 लाख रुपए की साइबर धोखाधड़ी करने वाले नाइजीरियन गिरोह के मास्टरमाइंड ऑलिव को दिल्ली सफदरजंग एनक्लेव...

कोविशील्ड, कोवैक्सीन लेने वाले वयस्कों को अब लगेगी कॉर्बेवैक्स की बूस्टर डोज, सरकार ने...

0
बायलॉजिक ई कंपनी के कोर्बेवैक्स बूस्टर डोज को सरकार ने मंजूरी दे दी है. यह बूस्टर डोज 18 साल से ऊपर के वयस्कों को...
%d bloggers like this: