यूपी विधानसभा उपचुनाव: कांग्रेस-बसपा के चुनावी समर में उतरने से दिलचस्प होगा मुकबला

लखनऊ| यूपी के आठ विधानसभा क्षेत्रों में होंने वाले उप चुनावों में कांग्रेस ने कमेटी बनाकर तो बसपा ने उम्मीदवारों के चयन और उनके नामों की घोषणा की जिम्मेदारी सेक्टर प्रभारियों को देकर चुनावी समर का मुकबला दिलचस्प बना दिया है. भाजपा जहां सभी सीटों पर कमल खिलाने के लिए बेताब है, वहीं विपक्षी दल खुद को मुख्य मुकाबले में आने की होड़ में हैं.

यह तो तय हो गया है ये पार्टियां अलग-अलग मुद्दों से भाजपा को घेरने का खाका तैयार कर चुकी हैं. कांग्रेस की तैयारी और बसपा के चुनाव लड़ने की घोषणा के बाद भाजपा विपक्ष के बिखरे वोटों का लाभ लेने की फिराक में भी है. सपा पहले ही मैदान में उतरने को लेकर प्रत्याशियों के नाम पर मंथन कर रही है.

अमूमन उप चुनाव न लड़ने वाली बसपा विधानसभा की आठों सीटों पर उम्मीदवार उतारने का मन बनाकर अपनी हैसियत परखना चाह रही है.

यह भी पढ़ें -  मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सत्येंद्र जैन को नहीं मिली राहत: सीबीआई कोर्ट ने न्यायिक हिरासत 14 दिन और बढ़ाई

बसपा के एक नेता ने बताया, प्रदेश में बसपा को नम्बर दो पार्टी बनने के लिए भी यह चुनाव जीतना जरूरी है. अभी तक सपा की सीटें हमसे कहीं ज्यादा है. इसलिए उपचुनाव को मजबूती से लड़ने की तैयारी हो रही है.

बसपा पहले उप चुनाव नहीं लड़ती रही है, लेकिन बीते वर्ष से ही पार्टी ने रणनीति बदली है. अब पार्टी विधानसभा के उप चुनाव में भी किस्मत आजमाने लगी है.

प्रदेश में कानपुर के घाटमपुर, जौनपुर के मल्हनी, रामपुर के स्वार, बुलंदशहर के सदर, आगरा के टूंडला, देवरिया के देवरिया सदर, उन्नाव के बांगरमऊ तथा अमरोहा के नौगावां सादात विधानसभा क्षेत्र के लिए उप चुनाव होने हैं.

इन आठ में से छह पर भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज की थी, जबकि दो पर समाजवादी पार्टी ने जीत दर्ज की थी. आठ सीट का नम्बर काफी बड़ा माना जाता है, इसलिए बसपा ने सभी पर अपने प्रत्याशी उतारने का मन बना लिया है.

मायावती इन दिनों उप चुनाव की समीक्षा को लेकर दिल्ली में पदाधिकारियों के साथ मंथन भी कर रही हैं. उधर पिछले कई महीनों से कांग्रेस ने प्रदेश में सरकार के खिलाफ लगातर मोर्चा खोला हुआ है.

यह भी पढ़ें -  योगी सरकार ने यूपी के 11 आईएएस अधिकारियों के किए तबादले, देखें लिस्ट

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू लगातार अंदोलन और गिरफ्तारी के माध्यम से विपक्ष में सबसे आगे चल रहे हैं. इसके चलते उन्होंने उपचुनावों में दिलचस्पी दिखाते हुए हर सीट के लिए दावेदारों से आवेदन लेने के लिए भारी भरकम फौज उतार कर भाजपा के खिलाफ दमदारी से चुनाव लड़ने का संदेश दिया है.

वरिष्ठ राजनीतिक विश्लेषक राजकुमार सिंह ने बताया कि उप चुनाव में कांग्रेस, बसपा के आने से निष्चित तौर पर चुनाव रोचक होगा. हलांकि, मुकबला भाजपा और मुख्य विपक्षी दल सपा के बीच में अभी तक दिख रही है.

बीते दिनों को देखें तो बसपा उप चुनाव में ज्यादा गंभीरता नहीं दिखाती रही है. लेकिन इस बार काफी दमखम दिखा रही है. अभी जो मायावती की रणनीति दिख रही है उससे ऐसा लग रहा है कि वह सपा का नुकसान करेगी. उसी का वोट काटेगी.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की बात करें तो प्रदेश अध्यक्ष लल्लू के आंदोलन और प्रियंका के ट्विटर वार जरूर पार्टी को सुर्खियां दिला रहें हैं. पर अभी तक जमीन पर कार्यकतार्ओं का अभाव दिख रहा है.

यह भी पढ़ें -  Ind Vs IRE T20: हार्दिक सेना ने छुड़ाए आयरलैंड के छक्के, पहले टी20 में सात विकेट से रौंदा

बीते दिनों समाजवादी पार्टी के कार्यकतार्ओं ने बेरोजगारी समेत कई मुद्दे उठाकर हर जगह पार्टी में जान फूंकी है. उपचुनाव में कितना कारगर है, यह कह पाना अभी जल्दबाजी होगी.

भाजपा संगठन के बूथ मैनेंजमेंट में कोई जोड़ नहीं है. वह सारे चुनाव गंभीरता से लड़ती है. यह उपचुनाव सभी पर्टियों के लिए आने वाले समय के लिए बड़ा संकेत होगा.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,233FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

28 जून 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 28 जून 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान...

उत्तराखंड चारधाम यात्रा: 77 अतिसंवेदनशील स्थलों पर लगेंगे क्रैश बैरियर, सीएम धामी ने परिवहन...

0
सोमवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने जनपद चमोली, उत्तरकाशी, रूद्रप्रयाग, टिहरी एवं पौड़ी के चारधाम यात्रा मोटर मार्ग पर चिह्नित 77 अतिसंवेदनशील स्थलों...

महाराष्ट्र राजनीतिक उठापठक के बाद दो बार इस्तीफा देने के मूड में थे उद्धव...

0
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे राजनीतिक उठापठक के बाद से दो बार इस्तीफा देने का मन बना लिए थे लेकिन दोनों बार गठबंधन के...

सेमिनार आयोजित: मसूरी पहुंचे सीएम धामी ने आईएएस प्रशिक्षु अधिकारियों को बताए जीवन मूल्य

0
सोमवार को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी पहुंचे. यहां उन्होंने आईएएस प्रशिक्षु अधिकारियों को संबोधित...

IndW Vs SLW 3rd T20: चामरी अटापट्टू की अविजित पारी की बदौलत जीता...

0
चामरी अटापट्टू की 80 रन की अविजित पारी की बदौलत श्रीलंकाई महिला क्रिकेट टीम ने सोमवार को तीसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले में...

राष्ट्रपति चुनाव 2022: यशवंत सिन्हा बोले, 10वां विकल्प भी होता तो मजबूती से...

0
सोमवार को राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष के संयुक्त उम्मीदवार यशवंत सिन्हा ने अपना नामांकन पत्र दाखिल किया. नामांकन दाखिल करने के मौके पर उनके...

पश्चिम बंगाल: मुकुल रॉय ने लोक लेखा समिति के अध्यक्ष पद से दिया...

0
पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी छोड़कर टीएमसी में शामिल हुए विधायक मुकुल रॉय ने सोमवार को विधानसभा में लोक लेखा समिति के...

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सत्येंद्र जैन को नहीं मिली राहत: सीबीआई कोर्ट ने न्यायिक...

0
मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार हुए दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही है. बता दें...

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले सकते हैं इंग्लैंड के कप्तान इयोन मॉर्गन

0
इंग्लैंड क्रिकेट इन दिनों बदलाव के दौर से गुजर रहा है. पिछले कुछ महीनों में क्रिकेट बोर्ड के डायरेक्टर से लेकर कोच और टेस्ट...

AHSEC 12th Result 2022: असम की 12 वीं का रिजल्ट घोषित, ऐसे करें चेक

0
असम हायर सेकेंडरी एजुकेशन काउंसिल (AHSEC) कक्षा 12वीं रिजल्ट 2022 ऑफिशियल वेबसाइट www.ahsec.nic.in पर घोषित कर दिया गया है. इस साल 21 फरवरी से...
%d bloggers like this: