उत्तराखंड: माणा गांव के लोगों को नहीं पता यूसीसी से बाहर होने का कारण, सामने आई प्रतिक्रियाएं

जबसे विधानसभा में समान नागरिक संहिता विधेयक पारित हुआ है, तो उत्तराखंड के बारे में विवाद और चर्चा तेजी से फैल रहे है| इस विवाद का एक पहलू यूसीसी से जनजातीय समुदायों को बाहर निकालने के प्रस्ताव पर है। इस मुद्दे पर उत्तराखंड के जनजातीय समाज की भी अलग-अलग राय है।

इस समुदाय के बहुत से लोगों को यह सच मालूम नहीं है कि उन्हें क्यों बाहर रखा गया है? कई लोगों का मानना है कि वे अपनी संस्कृति के कारण अपनी एक अलग पहचान रखते हैं। इस बात से सहमत होने के बावजूद, उन्हें यूसीसी से बाहर किया जाना सही है। देश के पहले गांव माणा के पहले नागरिक (प्रधान) पीतांबर मोल्फा कहते हैं, जिन्हें सरकार के दो सदस्यों ने उनके गांव आकर संबोधित किया था। उन्होंने लिव इन रिलेशनशिप, जनसंख्या नियंत्रण आदि कई मुद्दों पर हमारी राय ली, लेकिन उनकी समझ से बाहर है कि उन्हें यूसीसी से बाहर क्यों किया गया।

जिला पंचायत अध्यक्ष एवं जौनसारी जनजाति से ताल्लुक रखने वाली मधु चौहान का कहना है कि उन्हें भारतीय संविधान द्वारा पहले ही इतने अधिकार दिए गए हैं कि उन्हें नहीं लगता कि कुछ और अधिकार दिए जाने की आवश्यकता है। वह बतातीं हैं कि हमारी संस्कृति विशिष्ट है और हमें इसे संरक्षित रखना चाहिए। इसलिए, उन्हें यूसीसी से बाहर रखे जाने का सरकारी निर्णय उचित है।

Related Articles

Latest Articles

पीएम मोदी से मिले सीएम धामी, तीसरी बार देश का प्रधानमंत्री बनने पर दी...

0
मंगलवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में पीएम नरेंद्र मोदी से भेंट कर उन्हें तीसरी बार देश के प्रधानमंत्री का दायित्व...

इन राज्यों में हुए सबसे ज्यादा पेपर लीक, दांव पर लगा लाखों उम्मीदवारों का...

0
नीट यूजी कंट्रोवर्सी ने एक बार फिर से पेपर लीक मुद्दे को हवा दे दी है. ये पहला मामला नहीं है जब पेपर लीक...

नए आपराधिक कानूनो को लागू करने लिए उत्तराखंड की तैयारी पूरी: सीएस राधा रतूड़ी

0
देशभर में 1 जुलाई 2024 से लागू होने वाले तीन नए आपराधिक कानूनों हेतु उत्तराखंड की तैयारी पूरी हो चुकी है. उत्तराखंड की मुख्य...

सीएम धामी ने दिल्ली के एम्स पहुंचकर जाना घायल वन कर्मियों का कुशलक्षेम

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) पहुंचकर अल्मोड़ा के बिनसर वन्यजीव विहार में वनाग्नि हादसे में गम्भीर...

अबकी बार स्पीकर पद पर तकरार, ओम बिरला बनाम के. सुरेश के बीच जंग

0
लोकसभा स्पीकर पद के लिए अब एक बार फिर एनडीए और विपक्ष के बीच घमासान होने वाला है. एनडीए ने जहां ओम बिरला को...

अभी तिहाड़ जेल से बाहर नहीं आएंगे केजरीवाल, हाईकोर्ट ने जमानत पर लगाई रोक

0
दिल्ली शराब घोटाला केस में अरविंद केजरीवाल को बड़ा झटका लगा है. दिल्ली हाईकोर्ट ने जमानत पर रोक लगा दी है. हाईकोर्ट ने अपने...

काशीपुर-जसपुर मार्ग पर दो डंपरों आपस में भिड़े, चालक की जिंदा जलकर मौत

0
काशीपुर| उधमसिंहनगर ज़िले से बड़े सड़क हादसे की खबर सामने आ रही है. काशीपुर-जसपुर मार्ग पर टोल प्लाजा के पास मंगलवार सुबह दो डंपरों...

दिल्ली: सफदरजंग अस्पताल की पुरानी इमरजेंसी बिल्डिंग में आग, मौके पर फायर ब्रिगेड की...

0
राजधानी दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल की पुरानी इमरजेंसी बिल्डिंग में आग लगने की खबर है. बताया जा रहा है कि पुरानी इमरजेंसी बिल्डिंग में...

लोकसभा स्पीकर के लिए एनडीए के साथ कांग्रेस, लेकिन राहुल ने रखी ये शर्त…

0
संसद सत्र की शुरुआत हो चुकी है. आज यानी मंगलवार को संसद सत्र का दूसरा दिन है. लोकसभा स्पीकर पद के लिए आज नॉमिनेशन...

दूसरी बार लोकसभा स्पीकर बनेंगे ओम बिड़ला

0
18वीं लोकसभा के पहले सत्र का आज दूसरा दिन है. सत्र के पहले दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत 262 नवनिर्वाचित सांसदों ने शपथ ली....